live update : एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सवर्णो का प्रदर्शन, जानिए अपने शहर का हाल...

live update : एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सवर्णो का प्रदर्शन, जानिए अपने शहर का हाल...

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: Sep, 06 2018 12:06:17 PM (IST) | Updated: Sep, 06 2018 12:28:13 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

live update : एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सवर्णो का प्रदर्शन, जानिए अपने शहर का हाल...

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में गुरूवार को भारत बंद का असर देखने को मिला। बंद सर्मथकों ने सड़कों पर उतरकर आरक्षण का विरोध किया। उन्होंने नारेबाजी कर एससी एसटी एक्ट का विरोध किया। इस दौरान शहर की सभी दुकाने बंद थी। कुछ स्कूलों की भी छुट्टी घोषित कर दी गई। बसों के न चलने से यातायात व्यवस्था प्रभावित नजर आई।

आपको बता दें कि एससीएसटी एक्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी गाइड लाइन को लेकर के बाद सरकार ने उसके विरुद्ध अध्यादेश जारी किया। जिसके बाद पूरे देश मे इस अध्यादेश के खिलाफ लोग सड़कों पर आए पहले सांसदों और अन्य नेताओं का विरोध किया और आज बन्द बुलाया। मध्यप्रदेश के कई जिलों में भी सवर्ण समाज का विरोध प्रदर्शन देखने को मिला। विदिशा, राजगढ़, रायसेन, गुना, अशोकनगर, सीहोर में लोगों ने सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया।

sc st act

विदिशा में विधायक के घर का घेराव
विदिशा में सुबह सात बजे से ही बंद का असर दिखने लगा था। पूरा बाजार बंद, पेट्रोल पंप बंद व सड़के वीरान नजर आ रही थी। शहर में हो रही बारिश के बावजूद भी बंद समर्थकों के कदम रूके नहीं। वे यहां जय सपाक्स के नारे लगा रहे है। बंद सर्मथकों ने कोट्स वाली टीशर्ट पहनी हुई है। जिसमें हम हैं माई के लाल लिखा है। युवा वर्ग पूरी तरह विरोध पर उतर आई हैं। वे नारेबाजी कर रही सही दुकानों को बंद करवा रहे है। उनके विरोध का स्तर बढ़ा हुआ है।

विधायक को घेरा
बंद समर्थकों ने विदिशा में विधायक के घर को पूरी तरह घेर लिया। विधायक जब घर के बाहर निकले तो उनसे एससी एसटी एक्ट पर सवाल पूछे। विधायक ने जब सवाल का जवाब देते हुए कहा कि मैं इस पर कुछ नहीं कहना चाहता। इसके बाद सर्मथकों ने विधायक मुर्दाबाद के नारे लगाना शुरू किए और बमुश्किल उन्हें अंदर जाने दिया।

sc st act

राजगढ़़ में 99 प्रतिशत लोगों ने किया बंद का समर्थन
इस बन्द को राजगढ़ में 99 प्रतिशत समर्थन मिला. सुबह 5 बजे से खुलने वाली चाय नास्ते की दुकान भी पूरी तरह बन्द मिली। यहां चुतपुट पान की दुकान या दूध डेयरी खुली थी वह भी स्पाक्स समाज के निवेदन पर बन्द कर दी गई। अस्पताल की दुकान को बंद नही कराया गया । जबकि बाज़ार में मेडिकल तक बन्द रहे। एक दिन पहले ही स्पाक्स के लोंगो ने स्कूलों से सम्पर्क किया ऐसे में न सिर्फ निजी स्कूल बल्कि सरकारी स्कूल से भी सम्पर्क किया। जिससे एक भी स्कूल में बच्चे नही पहुंचे और शिक्षकों ने भी स्वेक्षा से अवकाश लिया।

sc st act

सीहोर में निकाला जुलूस
सीहोर जिले में एससी एसटी एक्ट के विरोध को लेकर सपाक्स और सवर्ण समाज के लोगों ने शहर में जुलूस निकाला। इस दौरान जिला पूरी तरह बंद नजर आया। चाय की दुकनें तक नहीं खुलने से लोग परेशान नजर आएं। यात्री परेशान हो रहे।

sc st act

गुना में यात्री परेशान
बंद का असर गुना में भी साफ दिखाई दे रहा था। पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए सड़कों से ठेले आदि को हटवा दिया। यात्रा करने वाले यात्री परेशान नजर आएं। इस दौरान उन्हें चाय नाश्ता तक न मिल सका। पुलिस बल सुरक्षा व्यवस्था पर खास नजर रखे हुए है। कुछ लोग ने रैली निकला प्रदर्शन किया।

बंद को लेकर गुना वासी प्रताप छात्रावास में एकत्रित हुए है। प्रताप छात्रावास के बाहर भारी पुलिस बल तैनात है। यहां करीब लोगों का जमावड़ा, 1500 से 2000 लोगों की भीड़, मंच से प्रशासन को दी लोगों को न रोकने की चेतावनी। कहा ग्रामीण क्षेत्रो से आने वाले लोगों को रोक रहा है प्रशासन। नहीं निकली जाएगी रैली, केवल सभा का आयोजन। प्रताप छात्रावास में सभा की मिली है अनुमति, अंतिम समय मे प्रशासन और प्रदर्शनकारियों में बनी सहमति।

sc st sct

अशोकनगर में सब्जी और दूध के लिए तरसे लोग
भारत बंद के बाद अशोकनगर वासी सब्जी और दूध तक के लिए तरस गए। पेट्राल पंप बंद होने के कारण लोगों ने घर से अपनी गाड़िया तक नहीं निकाली हैं। इस दौरान कुछ लोगों ने धरना प्रदर्शन भी किया। एससी एसटी एक्ट के विरोध में साढौरा में स्टेशन पहुंचकर दोनों ओर की रोकी ट्रेन पटरी पर खड़े हुए लोग। स्टेशन पर ही किया विरोध प्रदर्शन सभा का अयोजन। जिसके चलते पिछले एक घंटे से ट्रोनों का आवागमन बंद है।

रायसेन में ऐसे रहे हालात
सुबह से ही जिला मुख्यालय पर ज्यादातर दुकानें शत-प्रतिशत बंद रहीं। वहीं अधिकतर स्कूल-कॉलेजों सहित नगर के मेडिकल स्टोर भी बंद रहे। महाबंद के आव्हान पर बाजार में दुकानें बंद रहीं लोग चाय पानी के लिए भी तरसते रहे। बाजार बंद रहने से दिनभर सन्नाटा सा पसरा रहा। गुरूवार को सुबह सपाक्स के पदाधिकारी महामाया चौक पर जुटे। इसके बाद बाइक रैली में शामिल होकर नारेबाजी करते हुए शहर के प्रमुख मार्गों से गुजरे। नारेबाजी के दौरान एसएसटी एक्ट के संशोधन का विरोध दर्ज भी कराया गया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned