अवैध कॉल सेंटर का भंडाफोड़, लोन सेटलमेंट के नाम पर 5 हजार अमरीकियों से ठगी

अवैध कॉल सेंटर का भंडाफोड़, लोन सेटलमेंट के नाम पर 5 हजार अमरीकियों से ठगी

Krishna singh | Publish: Sep, 08 2018 09:06:32 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

अवैध कॉल सेंटर का भंडाफोड़, लोन सेटलमेंट के नाम पर 5 हजार अमरीकियों से ठगी

भोपाल. साइबर सेल ने राजधानी के इंद्रपुरी, पिपलानी इलाके में अवैध कॉलसेंटर चलाने वाले सात हाइटेक जालसाजों को गिरफ्तार किया है। ये गिरोह अत्याधुनिक सॉफ्टवेयर से उन अमरीकी लोगों से ठगी करता था, जो बैंक लोन की किस्त नहीं भर पा रहे हैं। इनके पास 12 लाख अमरीकी लोगों को डाटा मिला है। 10 माह में 5 हजार लोगों से ठगी पर इन्हें 20 लाख रुपए का कमीशन मिला है, जबकि अमरीका में बैठा मास्टर माइंड 50 करोड़ से अधिक रकम ठग चुका है।

गिरफ्तार मुख्य आरोपी अभिषेक पाठक (22) अहमदाबाद का निवासी है। 12वीं पास अभिषेक ने बताया कि गिरोह लोन सेटलमेंट का झांसा देता था। लोगों को लॉ इन्फोर्समेंट के नाम पर धमकाया जाता था। लोग डरकर जब संपर्क करते तो इन्हेें अमरीका में मास्टर माइंड के पास भेज दिया जाता। डील पर सरगना बिटकाइन वॉलेट से कमीशन देता था। गिरोह अवैध कॉलसेंटर संचालन के लिए ऑनलाइन साफ्टवेयर खरीदा था। गिरोह चलाने के लिए अंग्रेजी जानने वाले युवा इंजीनियरों की भर्ती की गई थी। साइबर सेल एसपी राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि गिरोह के मुख्य आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

 

तीन लाख से कर चुके संपर्क

गिरोह अमरीका के 3 लाख लोगों से संपर्क कर चुका है। अभी 9 लाख लोगों से बात करनी थी, जिसके लिए अभिषेक स्टाफ की नई नियुक्ति कर रहा था। वह अंग्रेजी जानने वाले बीई पास स्टूटेंट को वरीयता देता था, ताकि धाक जमाई जा सके। पुलिस ने अहमदाबाद, गुजरात निवासी वत्सल दीपेश भाई गांधी को भी गिरफ्तार किया है। वत्सल ने कबूल किया है कि सिंगापुर का माइकल, डेविड उसे डाटा उपलब्ध कराता था। इसे वह देश के अलग अवैध कॉलसेंटरों को बेच देता था। अभिषेक और उसके कॉलसेंटर का मैनेजर रामपाल अमरीकन एक्सेंट के मास्टर हैं। वह फ्लुइंटली इंग्लिश में अमरीकी एक्सेंट में बात करते हैं। दोनों अहमदाबाद में इसी तरह का गोरखधंधा करने वाले कॉलसेंटर में नौकरी कर चुके हैं। वहीं इन्हें प्रशिक्षण मिला था।

गिरफ्तार आरोपी-अपराध में उनकी भूमिका

1. अभिषेक पाठक, उम्र-22, निवासी-अहमदाबाद, 12वीं पास। अवैध कॉलसेंटर का संचालक। अमेरिकन एक्सेंट का एक्सपर्ट।

2. रामपाल सिंह, उम्र-32, निवासी सेमरा, अशोका गार्डन। बीसीए की पढ़ाई करने के बाद गोरखधंधे से जुड़ गया। अभिषेक के कॉल सेंटर का मैनेजर है।

3. वत्सल दीपेशभाई गांधी, उम्र-25, निवासी-अहमदाबाद। बी.कॉम तक पढ़ा। सिंगापुर के जालसाज से डाटा खरीदकर भारत में बेचना।

4. फरहान खान, उम्र-19, निवासी- अशोका गार्डन। 10वीं पास। कॉलसेंटर कर्मचारी।

5. मौर्य श्रवण कुमार उम्र-19, निवासी-अहमदाबाद। 11वीं पास। कॉलसेंटर कर्मचारी।

6 शुभम गीते, उम्र-19, निवासी-आमला बैतूल। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ कॉल सेंटर में पार्ट टाइम नौकरी।

7. सौरभ राजपूत, उम्र-19, निवासी-सिरोंज, विदिशा। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ कॉल सेंटर में नौकरी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned