बदली शर्त, नई एसओपी का पालन कराना होगा, फिर खुलेंगे कॉलेज

18 पेज के 80 बिन्दुओं का रोस्टर जारी

By: manish kushwah

Updated: 26 Nov 2020, 01:09 AM IST

भोपाल. गृह मंत्रालय के नए एसओपी ने स्पष्ट कर दिया है कि मौजूदा समय में शिक्षण संस्थानों में पढ़ाई कराना संभव नहीं है। इसलिए अभी कॉलेज नहीं खोले जा सकते। यदि सरकार कॉलेज में पढ़ाई करना चाहती है तो गाइडलाइन के सभी शर्तों को पूरा कराना होगा। इस आदेश पर मंथन करने के लिए जल्द ही उच्च शिक्षा विभाग बैठक करेगा। जिसमें तय होगा कि यूजीसी की सभी शर्तों को पूरा कराया जा सकता है या नहीं। क्योंकि कॉलेज खोलने की स्थिति और संक्रमण के बाद बचाव के लिए क्या कदम उठाए जाएंगे। इस संबंध में भी विभाग को चर्चा करनी होग

यूजीसी ने उच्च शिक्षा विभाग और राज्य सरकार को 18 पेज का रोस्टर दिया है। जिसमें यदि कालेज या शिक्षण संस्थान खोले जाते हैं तो संक्रमण न फैले। इसलिए क्या-क्या कदम उठाए जा सकते हैं। इस संबंध में 80 बिन्दुओं का सरकार को पालन कराना होगा।
फिर सरकार को भेजी जाएगी रिपोर्ट
अधिकारियों का कहना है कि यूजीसी के निर्देशों को देखने के बाद शिक्षण संस्थानों के प्रबंधन से चर्चा करनी होगी। यूजीसी ने कॉलेज स्तर पर जिम्मेदारी पालन कराने के लिए दी है। यह विषय काफी ज्यादा गंभीर है। क्योंकि संक्रमित छात्र कॉलेज में दाखिल न हो। इसके बाद सरकार को रिपोर्ट दी जाएगी। हालांकि कोरोना की स्थिति को देखते हुए शिक्षण संस्थान बंद है और सिर्फ एडमिशन संबंधी कार्य हो रहे हैं।

manish kushwah Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned