सिंधिया के बाद अब दिग्विजय सिंह चुनाव हारे, साध्वी ने तीन लाख मतों से हराया

सिंधिया के बाद अब दिग्विजय सिंह चुनाव हारे, साध्वी ने तीन लाख मतों से हराया

Manish Geete | Publish: May, 23 2019 05:06:11 PM (IST) | Updated: May, 23 2019 05:24:16 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

भोपाल से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को तीन लाख मतों से हरा दिया। दिग्विजय की हार के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है, दिग्विजय से पहले ज्योतिरादित्य सिंंधिया भी गुना से चुनाव हार गए...।

भोपाल। भोपाल से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को तीन लाख मतों से हरा दिया। दिग्विजय की हार के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है, दिग्विजय से पहले ज्योतिरादित्य सिंंधिया भी गुना से चुनाव हार गए।

मध्यप्रदेश की 29 सीटों पर हुए चुनाव में कांग्रेस के खाते में सिर्फ छिंदवाड़ा सीट गई है। इसके बाद लगभग सभी सीटों पर भाजपा का कब्जा जमते जा रहा है। सबसे बड़ी हार ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिग्विजय सिंह की हुई है। सिंधिया को सवा लाख मतों से हार मिली, जबकि तीन लाख मतों से साध्वी ने जीत दर्ज की। कांग्रेस अपनी सिर्फ एक सीट बचाने में सफल रही, वो है छिंदवाड़ा। यहां से कमलनाथ के पुत्र नकुलनाथ चुनाव जीत गए।

भाजपा कार्यालय में जश्न का माहौल

इधर भाजपा की भारी जीत के बाद मध्यप्रदेश के भाजपा कार्यालय पर कार्यकर्ताओं का जमघट लग गया। कार्यकर्ताओं ने यहा ंजीत का जश्न मनाया। जमकर पटाखें फोड़े गए। भाजपा कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, महापौर आलोक शर्मा भी मौजूद थे। यहां मिठाइयां बांटकर जीत की खुशी का इजहार किया गया।

 

नोटा ने भाजपा-कांग्रेस को नकारा

मध्यप्रदेश में चल रही लोकसभा चुनाव की मतगणना में सुबह से ही भाजपा के पक्ष में रुझान चल रहा है, लेकिन कुछ वर्ग ऐसे भी हैं जिन्होंने नोटा का बटन दबाकर जता दिया है कि उन्हें दोनों ही प्रत्याशी पसंद नहीं है। मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा नोटा छिंदवाड़ा लोकसभा चुनाव में पड़ा है। यहां से मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुल नाथ कांग्रेस से प्रत्याशी हैं, जबकि भाजपा की तरफ से नथन शाह चुनाव लड़ रहे हैं। हालांकि कांग्रेस के प्रत्याशी के सामने भाजपा के नथन शाह कमजोर प्रत्याशी हैं, लेकिन वे कम मार्जिन से पीछे चल रहे हैं। एक मात्र छिंदवाड़ा सीट पर कांग्रेस आगे चल रही है। जबकि अंतर 35 हजार के आसपास बना हुआ है।

दोपहर 1 बजे की स्थिति में मध्यप्रदेश में सबसे अधिक नोटा छिंदवाड़ा सीट पर पड़ा है। इसके बाद रतलाम, बैतूल, खरगोन, मंडला, शहडोल और होशंगाबाद हैं। यह छह लोकसभा सीट पर नोटा 10 हजार के पार चले गया है। जबकि इसके अलावा अन्य सीटों पर नोटा का आंकड़ा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned