हबीबगंज-मंडीदीप के बीच शाम 5 से 7 और रात 10 से 1 बजे तक चलेंगी मालगाडिय़ां

बीना से इटारसी का काम हो चुका पूरा: थर्ड लाइन से ट्रेनों के साथ ही समय पर दौड़ेंगी मालगाडिय़ां

By: Sumeet Pandey

Published: 16 Sep 2020, 06:02 AM IST

विवेक पांडे. भोपाल. भोपाल डिवीजन में सेफ्टी कमिश्नर के दौरे के बाद मालगाडिय़ों की रफ्तार तेज हो जाएगी। इस रूट पर हबीबगंज से मंडीदीप के बीच शाम 5 से 7 बजे तक व रात 10 से एक बजे तक मालगाडिय़ों को रोका नहीं जाएगा। अब ट्रेनों के साथ मालगाड़ी भी चल सकेंगी। यदि आरवीएनएल ने साल 2022 तक काम पूरा कर दिया, तो बीना से इटारसी के बीच 11 घंटे की बजाय 5 घंटे के अंदर मालगाडिय़ां पहुंचेगी। अभी हबीबगंज-मंडीदीप के बीच छह घंटे तक मालगाडिय़ों का संचालन बंद होने से बीना से इटारसी तक ज्यादा ट्रैफिक होता है। ट्रैक पर सबसे पहले यात्री ट्रेनों को निकाला जाता है फिर मालगाडिय़ों को हरी झंडी मिलती है। कोरोना में ट्रेनों का संचालन कम था, तीन महीने तक बंद था। इस बीच बीना से इटारसी के बीच लोको पायलट ने 11 घंटे की बजाय 5घंटे में मालगाडिय़ां पहुंचाई।

भोपाल डिवीजन के अंदर बनकर तैयार होगा पहला फास्ट ट्रैक
साल 2016 में रेलवे ने डबल और तीसरी लाइन बनाने का फैसला किया, जिसके बाद रेल लाइनों के निर्माण में तेजी आई। हबीबगंज से इटारसी के बीच काम काफी धीमा चल रहा था। साल 2018 में भोपाल से बीना का काम पूरा हो गया था। हबीबगंज से इटारसी के बीच थर्ड लाइन निर्माण में काफी परेशानियां थी। सबसे ज्यादा चुनौती का काम जंगल, जानवरों की सुरक्षा का था। वन विभाग की ओर से लंबे समय के बाद अनुमति मिली। 2 साल में यह प्रोजेक्ट आरवीएनएल को पूरा करना होगा, नहीं तो रेलवे की ओर से फंड रिलीज नहीं किया जाएगा।

पहले खाली, फिर लोडेड चली मालगाड़ी
सीआरएस की अनुमति के बाद मंडीदीप से हबीबगंज के बीच थर्ड लाइन पर पहली मालगाड़ी चलाई गई, जो कि खाली थी। फिर यह ट्रेन लोडिंग के साथ चलाई गई, जिसका ट्रायल सफल रहा। जल्द ही लोको पायलटों को नया ऑपरेशनल रोस्टर दिया जाएगा।

16.41 किमी लंबे ट्रैक पर 130 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ाई ट्रेन

हबीबगंज से मंडीदीप के बीच तीसरी रेल लाइन पर 130 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ट्रेनें दौड़ाने की मंजूरी जल्द मिल सकती है। मंगलवार को रेलवे सेफ्टी कमिश्नर ने हबीबगंज स्टेशन से सेमी हाई स्पीड सीआरएस स्पेशल में सवार होकर तीसरी रेल लाइन का निरीक्षण किया। रेलवे के सेफ्टी कमिश्नर (सीआरएस) एके जैन ने अपने पूरे अमले के साथ हबीबगंज से मंडीदीप के बीच 16.41 किमी लंबे ट्रैक पर 130 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से ट्रेन दौड़ाकर ट्रायल किया। निरीक्षण के दौरान रेल संरक्षा आयुक्त ने इस रेल खंड पर संरक्षा एवं सुरक्षा से जुड़े संसाधनों, ओएचई लाइन, सम्बद्ध उपकरण व सिग्नलिंग आदि का निरीक्षण किया और उनकी कार्य क्षमता को परखा। रेल पटरी ट्रायल के दौरान पहले सेमी हाई स्पीड सीआरएस स्पेशल की रफ्तार कम रखी गई, फिर रफ्तार बढ़ाकर ट्रायल किया। इस दौरान ट्रायल में जो भी कमियां रेलवे सेफ्टी कमिश्नर को दिखाई दीं, उन्होंने मौके पर ही डीआरएम और मंडल के अधिकारियों को जल्द से जल्द दुरुस्त कराने के निर्देश दिए। सीआरएस एके जैन मंगलवार सुबह करीब 11 बजे भोपाल पहुंचे।

Sumeet Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned