पीजी में आखिरी दिन 13 हजार विद्यार्थियों ने लिया एडमिशन

सीएलसी के जरिए एडमिशन के लिए विद्याथियों की लंबी लाइन

By: Sumeet Pandey

Published: 16 Sep 2020, 12:50 AM IST

भोपाल. यूजी के पहले राउंड की मेरिट लिस्ट के आधार पर एडमिशन की प्रक्रिया पूरी तरीके से खत्म हो गई है। अब सीएलसी में रजिस्ट्रेशन और दस्तावेज के वेरिफिकेशन की प्रक्रिया चल रही है। ऐसे में छात्र कॉलेजों में ऑफलाइन जाकर रजिस्ट्रेशन करवाकर दस्तावेज का वेरिफिकेशन करवा रहे हैं। राजधानी भोपाल के कई कॉलेजों के बाहर सीएलसी के जरिए एडमिशन लेने वाले छात्रों की भीड़ लगी रही। क्योंकि 16 सितंबर को रजिस्ट्रेशन बंद हो जाएगा।

पीजी में मेरिट लिस्ट के आधार पर एडमिशन लेने के लिए मंगलवार को आखिरी दिन था। करीब 13 हजार छात्रों ने एडमिशन लिया है। 59,638 में से 36,605 छात्रों ने एडमिशन लिया है। अब पीजी में भी सीएलसी की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। यूजी में रजिस्ट्रेशन कराने के लिए एमएलबी, नूतन और भेल कॉलेज में छात्रों की संख्या ज्यादा थी। जबकि काउंटर कम थे इससे छात्रों को असुविधा हुई और काफी समय तक छात्र रजिस्ट्रेशन कराने के लिए अपनी बारी का इंतजार करते रहे। हालांकि बुधवार के दिन भी रजिस्ट्रेशन होंगे।

19 से शुरू होगा बीएड में तीसरे राउंड का रजिस्ट्रेशन

- बीएड में सीटों की संख्या काफी ज्यादा है और इस साल एडमिशन काफी कम है। इसकी वजह है कि छात्र को बीएड या टीचिंग कोर्स करने के बाद उन्हें नौकरी की गारंटी सरकार नहीं दे पा रही है। ऐसे में इसका असर इस साल काफी ज्यादा देखने के लिए मिला है। बीएड की 50 फीसदी से ज्यादा सीटें दूसरे राउंड में खाली रही और तीसरे राउंड में अब रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 19 सितंबर से शुरू हो जाएंगी।

23 हजार छात्रों ने नहीं लिया एडमिशन

- मंगलवार को मेरिट लिस्ट के आधार पर एडमिशन लेने वाले पीजी के करीब 23 हजार छात्रों ने एडमिशन नहीं लिया है। यह सभी छात्र मेरिट लिस्ट में शामिल थे लेकिन कॉलेज मन मुताबिक नहीं मिलने की वजह से उन्होंने एडमिशन नहीं लिया है। अब उन्हें सीएलसी के जरिए एडमिशन लेना होगा और कॉलेज लेवल में ही काउंसलिंग, रजिस्ट्रेशन कराना पड़ेगा।

Sumeet Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned