एक महीने पहले रिटायर्ड पुलिसकर्मी ने बेटे-बहू से परेशान होकर लगाई थी फांसी

- पुलिस ने सुसाइड नोट जांच रिपोर्ट के बाद बेटे-बहू के खिलाफ दर्ज किया मामला

By: manish kushwah

Updated: 16 Sep 2020, 12:52 AM IST

भोपाल।
नारियल खेड़ा में रहने वाले रिटायर्ड पुलिसकर्मी ने अपने बेटे-बहू से परेशान होकर फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। सुसाइड नोट में मृतक ने बेटे-बहू पर आरोप लगाए थे। इसके आधार पुलिस ने दोनों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।

गौतम नगर पुलिस के अनुसार शारदा नगर निवासी रघुवर दयाल शर्मा (76) पुलिस विभाग से रिटायर्ड हुए थे। बीती 18 अगस्त को उन्होंने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट मिला था। जिसमें लिखा था कि उनका बेटा जितेंद्र शर्मा और बहू रीतू शर्मा उन्हें परेशान करते थे। उनके साथ आए दिन मारपीट भी करते थे, जिससे परेशान होकर वह अपनी जान दे रहे हैं। सुसाइड नोट की जांच और परिजनों के बयान दर्ज होने के बाद बेटे-बहू पर एफआईआर दर्ज की। साथ ही पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार किया और उन्हें कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया। साथ ही पुलिस ने सुसाइड नोट को हैंडराईटिंग एक्सपर्ट के पास भेज दिया है। पुलिस का कहना है जल्द ही आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चालान भी पेश कर दिया जाएगा। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

अधेड़ ने फांसी लगाई

पिपलानी थाना क्षेत्र में रहने वाले एक अधेड़ ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। अधेड़ कुछ दिनों से घर पर ही रह रहा था, इसके पहले वह प्राइवेट काम करता था। पुलिस के अनुसार सोमवार दोपहर वह अपने कमरे में फांसी के फंदे पर लटका मिला। परिजनों की सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम कर पड़ताल शुरू कर दी है। हालांकि आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है।

युवक का रेल पटरी किनारे मिला शव

कोहेफिजा थाना क्षेत्र में अभिनव नगर के पास सोमवार देर रात एक 25 वर्षीय युवक की लाश रेलवे पटरी पर मिली है। मृतक की शिनाख्त नहीं हो सकी है। आशंका है कि वह किसी ट्रेन से गिरा होगा। हालांकि मृतक के पास से दस्तावेज बरामद नहीं हो सका है, जिससे उसकी शिनाख्त हो सके। पुलिस ने मर्ग कायम कर पड़ताल शुरू कर दी है।

manish kushwah Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned