ISI के भी संपर्क में थे ट्रेन में ब्लास्ट करने वाले आतंकी, सामने आये ये सबूत

ISI के भी संपर्क में थे ट्रेन में ब्लास्ट करने वाले आतंकी, सामने आये ये सबूत
isis, is, isis terrorist organisation, isis attack, bhopal train blast, bhopal-ujjain train blast, terrorism in madhya pradesh, mp ats, terror, terrorist attack in india, bhopal, bhopal railway station, terrorism in world

Brajendra Sarvariya | Updated: 28 Mar 2017, 09:51:00 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

सूत्रों ने बताया कि प्रारंभिक तौर पर मिले इन प्रमाणों से इस आशंका को मजबूती मिली है, लेकिन अभी और पुख्ता सबूतों की जरूरत है। 

भोपाल। भोपाल-उज्जैन पैसेंजर में बम ब्लास्ट करने वाले आईएस आतंकी पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से भी संपर्क में थे। कॉल डिटेल से उनके आईएसआई एजेंट शफी शेख से संपर्क होने के सबूत मिले हैं। वहीं सोमवार को भोपाल में विशेष सत्र न्यायधीश एनआईए गिरीश दीक्षित की अदालत  में आतंकी दानिश अख्तर, आतिफ मुज्जफर और सैय्यद मीर हुसैन को पेश किया गया। तीनों 27 मार्च तक रिमांड पर थे। एनआईए ने अदालत से कहा कि तीनों आतंकियों से अभी ओर पूछताछ नहीं की करनी है, इसलिए उन्हें जेल भेज दिया जाए।  कोर्ट ने इन्हें 10 अप्रैल तक जेल भेज दिया।





पाकिस्तान से जुड़े हैं 50 फोन नंबर
एनआईए के सूत्रों ने बताया कि आतंकी आतिफ मुज्जफर के मोबाइल फोन की पड़ताल में 50 से अधिक संदिग्ध नंबर मिले हैं। यह नंबर बी, सी और डी पार्टी कोड वर्ड से लिखे गए थे। इनमें दो नंबर आईएसआई एजेंट शफी शेख से जुड़े हैं। इनकी कॉल डिटेल निकालने पर आतिफ के शेख से संपर्क की बात सामने आई। उसके अलावा आतिफ दो अफगानी संदिग्धों के भी संपर्क था। सूत्रों ने बताया कि एनआईए को पहले से आशंका थी कि पाक की खुफिया एजेंसी आईएसआई देश में होने वाली घटनाओं में आईएसआईएस के नाम का उपयोग कर रही है।




आईएसआई रचती है साजिश
सूत्रों ने बताया कि प्रारंभिक तौर पर मिले इन प्रमाणों से इस आशंका को मजबूती मिली है, लेकिन अभी और पुख्ता सबूतों की जरूरत है। आईएसआई एजेंट शफी शेख का पहले भी टे्रन हादसों में नाम आ चुका है। आतंकी आतिफ, दानिश अख्तर और सैय्यद मीर हुसैन सहित उत्तरप्रदेश में पकड़े गए अन्य आतंकियों के मोबाइल नंबरों की पड़ताल जारी है। इससे और कई खुलासे होने की उम्मीद है।




अलग सेल में बंद
केंद्रीय जेल भोपाल में तीनों आतंकियों को अलग सेल में रखा गया है। सूत्रों ने बताया कि आतंकियों को विशेष सेल में कड़ी सुरक्षा में रखा गया है। उनसे किसी को भी मिलने पर पूरी तरह पाबंदी है। साथ ही उन पर चौबीस घंटे नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।
Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned