20 सितंबर से खुलेंगे सभी स्कूल, क्या कोरोना को न्यौता देगा सरकार का ये फैसला ?

20 सितंबर से लगेंगी 1-5वीं तक की कक्षाएं, सभी शासकीय व अशासकीय स्कूल खोलने के आदेश जारी...

By: Shailendra Sharma

Published: 14 Sep 2021, 06:18 PM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश में पहली से लेकर पांचवी तक के सभी स्कूल 20 सितंबर से खुलेंगे। मंगलवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई बैठक में प्रदेश के सभी शासकीय और प्राइवेट स्कूलों को खोले जाने के संबंध में ये फैसला लिया गया, जिसे लेकर आदेश भी जारी कर दिया गया है। बता दें कि एक तरफ जहां बीते कुछ दिनों में प्रदेश के मामलों में फिर से मामूली बढ़ोत्तरी हुई है वहीं दूसरी तरफ सरकार की तरफ से लिया गया स्कूलों को खोले जाने का फैसला कहीं-कहीं सवाल खड़े करने वाला है।

tweet.jpg

20 सितंबर से खुलेंगे सभी स्कूल
मंगलवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई बैठक में फैसला लिया गया है कि पहली से पांचवी तक की कक्षाएं भी 20 सितंबर से खोली जाएंगी। बैठक में हुए फैसले के बाद सरकार की तरफ से इसे लेकर आदेश भी जारी कर दिया गया है। जिसमें कहा गया है कि स्कूलों में कक्षा 1 से 5वीं प्राथमिक स्तर की कक्षाएं कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए 50 प्रतिशत क्षमता के साथ प्रारंभ की जाएंगी। साथ ही कक्षा 8वीं, 10वीं और 12वीं की कक्षाओं के शत प्रतिशत विद्यार्थियों के साथ छात्रावास संचालित किए जाने का फैसला भी सरकार ने लिया है।

order.jpg

ये भी पढ़ें- रेलवे फिर से शुरु कर रहा ये सुविधा, लाखों यात्रियों को होगा फायदा

 

सरकार के फैसले को लेकर उठ रहे सवाल ?
कोरोना की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच एक तरफ जहां पड़ोसी राज्यों में सतर्कता बरती जा रही है और गुजरात में तो 8 शहरों में 15 सितंबर से नाइट कर्फ्यू लगाया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ प्रदेश सरकार की ओर से स्कूलों को फिर से खोले जाने इस फैसले पर सवाल खड़े हो रहे हैं। प्रदेश में बीते कुछ दिनों में कोरोना के मामलों में इजाफा भी हुआ है जिसे लेकर खुद सीएम शिवराज सिंह चौहान चिंता जाहिर कर चुके हैं। सूत्रों की मानें तो 1 सितंबर से संचालित की गईं 6वीं से 8वीं तक की कक्षाओं के दौरान भी कोरोना का संक्रमण फैला है और नए केस सामने आए हैं। बता दें कि सोमवार (13 सितंबर) को भी प्रदेश में कोरोना के कुल 12 नए मामले सामने आए थे। जिनमें से 6 इंदौर, 2 भोपाल और दतिया, ग्वालियर, कटनी व नरसिंहपुर में 1-1 नया केस सामने आया है जिन्हें मिलाकर प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस 131 हो गए हैं। वहीं अगर बीते 5 दिनों की बात करें तो बीते पांच दिनों में ही प्रदेश में कोरोना के 59 नए मामले सामने आए हैं।

 

ये भी पढ़ें- सबसे बड़ा घोटाला- 2 अरब रुपए से ज्यादा की गड़बड़ी

 

कोरोना से लड़ने के लिए स्कूलों में क्या इंतजाम ?
सरकार की ओर से स्कूलों को फिर से खोले जाने का आदेश जारी होने पर सवाल उठने का कारण ये भी है कि स्कूलों में कोरोना के संक्रमण को रोकने के पर्याप्त इंतजामात को लेकर हमेशा संशय बना रहता है। एक साथ क्लासेस में बच्चों के बैठने और बदलते मौसम में वायरल फीवर सहित अन्य बीमारियों के साथ ही कोरोना के संक्रमण का खतरा ज्यादा हो जाता है। हालांकि सरकार हमेशा अभिभावकों की सहमति से भी विद्यार्थियों को स्कूल भेजने की बात कहती रही है पर कई अभिभावक न चाहते हुए भी बच्चों के भविष्य की चिंता के कारण उन्हें मजबूरन स्कूल भेज रहे हैं।

देखें वीडियो- बीच सड़क पर प्रेमी-प्रेमिका में दे-दनादन

Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned