बर्ड फ्लू: नौ जिलों में वायरस की पुष्टि, सावधानी एवं सतर्कता बरतने के निर्देश

संचालक पशुपालन ने कुक्कुट पालकों से अपील की है कि अफवाहों पर ध्यान न देते हुए अनावश्यक भ्रम या भय की स्थिति उत्पन्न न होने दें।

By: Pawan Tiwari

Published: 09 Jan 2021, 07:49 AM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के बीच अब बर्ड फ्लू का खतरा बढ़ता जा रहा है। प्रदेश में अब-तक 9 जिलों – इंदौर, मंदसौर, आगर, नीमच, देवास, उज्जैन, खण्डवा, खरगौन और गुना में कौओं में बर्ड फ्लू वायरस की पुष्टि हो चुकी है। अब-तक 21 जिलों से 885 कौओं और 9 बगुलों की मृत्यु की सूचना मिली है। विभिन्न जिलों से 293 सेम्पल राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा रोग अनुसंधान प्रयोगशाल NIHSAD भोपाल को जांच के लिये भेजे गये हैं।

इंदौर और नीमच जिले में बर्ड फ्लू से प्रभावित क्षेत्र के आस-पास कुक्कुट बाजार आदि को सतर्कता एवं सावधानी की दृष्टि से अगले सात दिनों के लिये बंद किया गया है। इंदौर के चिकन मार्केट में लगभग 200 मुर्गियों और 700 अण्डों तथा नीमच जिले के चिकिन मार्केट की दुकानों में लगभग 450 मुर्गियों का निस्तारण संक्रमण की रोकथाम के लिये किया गया है।

संचालक पशुपालन ने कुक्कुट पालकों से अपील की है कि अफवाहों पर ध्यान न देते हुए अनावश्यक भ्रम या भय की स्थिति उत्पन्न न होने दें। सभी जिलों में रोग नियंत्रण की कार्यवाही भारत सरकार की एडवाइजरी के अनुसार की जा रही है। केन्द्र एवं राज्य शासन की एडवाइजरी के अनुसार पूर्ण सावधानी एवं सतर्कता बरतें।

रोकथाम के लिए आवश्यक निर्देश
वहीं, बर्ड फ्लू का खतरा रोकने के लिए राज्य शासन द्वारा हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। वहीं, दूसरी तरफ शासन द्वारा गाइड लाइन भी जारी कर दी गई है। गाइड लाइन के अनुसार, पीपीई किट पहनना अनिवार्य है।

Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned