प्रज्ञा ठाकुर की लगाई आग में 3 और बड़े नेताओं ने घी डाला, बुझाने में जुटे मोदी और शाह

प्रज्ञा ठाकुर की लगाई आग में 3 और बड़े नेताओं ने घी डाला, बुझाने में जुटे मोदी और शाह

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: May, 18 2019 09:09:17 AM (IST) | Updated: May, 18 2019 09:09:18 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

सियासी बवाल: भाजपा ने अनुशासनहीनता का थमाया नोटिस, प्रज्ञा के प्रचार पर लगाई रोक

भोपाल/नई दिल्ली. भोपाल से भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने से उठी सियासी आग में भाजपा के तीन और बड़े नेताओं ने घी डाल दिया। तीनों ने सोशल मीडिया पर गांधी और गोडसे को लेकर विवादित टिप्पणी की।

प्रज्ञा के बाद केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने ट्वीटर पर लिखा कि गोडसे को इस बहस से खुशी हुई होगी। कर्नाटक से भाजपा सांसद नलिन कुमार ने ट्वीट कर गोडसे की तुलना पूर्व पीएम राजीव गांधी से करते हुए पूछा, कौन ज्यादा क्रूर है?

वहीं मध्यप्रदेश भाजपा के प्रवक्ता अनिल सौमित्र ने फेसबुक पोस्ट में बापू को पाकिस्तान का राष्ट्रपिता करार दिया। एक के बाद एक आईं इन टिप्पणियों से हालात इतने बिगड़ गए कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को खुद आगे आना पड़ा।

उन्होंने कहा, महात्मा के हत्यारे के पक्ष में की गई टिप्पणियां उनकी पार्टी की विचारधारा नहीं है। पार्टी की अनुशासन समिति ने प्रज्ञा और नलिन से दस दिनों में जवाब मांगा है। सौमित्र को कुछ देर बाद ही पार्टी से निलंबित कर दिया गया। उनसे सात दिनों में जवाब देने को कहा गया है।

रोड शो रद्द

शुक्रवार को प्रचार के अंतिम दिन प्रज्ञा का बुरहानपुर में रोड-शो तय था। लेकिन, केंद्रीय संगठन के आदेश पर उसे रद्द कर दिया गया। इस बीच प्रज्ञा ने मौन धारण करते हुए बुरहानपुर में खुद को होटल के कमरे में बंद कर लिया। फिर भोपाल आ गईं।

बापू भारत के नहीं पाक के राष्ट्रपिता

महात्मा गांधी राष्ट्रपिता थे, लेकिन वे पाकिस्तान राष्ट्र के थे। भारत राष्ट्र में तो उनके जैसे करोड़ों पुत्र हुए। इनमें से कुछ लायक तो कुछ नालायक।
- अनिल सौमित्र, मध्यप्रदेश भाजपा के प्रवक्ता (फेसबुक पोस्ट में)

इस बहस से गोडसे को खुशी मिली होगी

- खुशी है कि 7 दशक बाद आज की पीढ़ी बदले हुए वातावरण में बहस करती है और निंदा की जाने की गुंजाइश देती है। गोडसे को आखिरकार बहस से खुशी हुई होगी। - अनंत हेगड़े, केंद्रीय मंत्री (ट्विटर पर)

गोडसे ने 1 मारा, राजीव ने 17 हजार, क्रूर कौन

गोडसे ने एक हत्या की, कसाब ने 72 लोगों की हत्या की लेकिन राजीव गांधी ने 17 हजार लोगों की हत्या की, अब आप फैसला करें कि कौन ज्यादा क्रूर है? - नलिन कुमार कतील, भाजपा सांसद, कर्नाटक

यह तालिबान जैसी हरकत : महिंद्रा

प्रज्ञा के बयान पर उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि गांधी की विरासत हमारे लिए पवित्र है। उसे नुकसान पहुंचाने का प्रयास तालिबान द्वारा अफगानिस्तान में मूर्तियां तोडऩे के कृत्य जैसा है।

प्रज्ञा को दिल से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा

प्रज्ञा और बाकी लोग जो गोडसे और बापू के बारे में बयानबाजी कर रहे हैं, वह खराब है। भले ही प्रज्ञा ने माफी मांग ली हो, लेकिन मैं दिल से उन्हें कभी माफ नहीं कर पाऊंगा।
- नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

भाजपा को गॉड से नहीं 'गॉड-से' से है प्रेम

आखिरकार मुझे यह बात पता चल गई है कि भाजपा एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ 'गॉड-के प्रेमी (भगवान के प्रेमी)' नहीं, बल्कि वे 'गॉड-से (गोडसे) प्रेमी' हैं।
- राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

भाजपा की सोच उजागर : कमलनाथ

सीएम कमलनाथ ने कहा, भाजपा नेताओं के ये बयान भाजपा की सोच उजागर करती है। गोडसे को देशभक्त बताने वाले प्रज्ञा के बयान से भाजपा सिर्फ चुनाव को देखते हुए किनारा कर रही है।

मालेगांव ब्लास्ट : प्रज्ञा ठाकुर समेत सभी आरोपियों को हर हफ्ते पेश होने के आदेश

मुंबई की स्पेशल एनआइए कोर्ट ने 2008 में हुए मालेगांव बम ब्लास्ट के मामले में प्रज्ञा ठाकुर सहित अन्य आरोपियों के पेश नहीं होने पर नाराजगी जताई है। शुक्रवार को पेशी में प्रज्ञा, ले. कर्नल पुरोहित सहित अन्य आरोपी कोर्ट के समक्ष पेश नहीं हुए। इस पर कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए आरोपियों को हफ्ते में एक बार पेश होने का आदेश दिया है। मामले की अगली सुनवाई 20 मई को होगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned