भाजपा-कांग्रेस का नए चेहरों पर फोकस, टिकट का काउंटडाउन शुरू

भाजपा-कांग्रेस का नए चेहरों पर फोकस, टिकट का काउंटडाउन शुरू

anil chaudhary | Publish: Jul, 14 2018 07:59:27 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

भाजपा-कांग्रेस का नए चेहरों पर फोकस, टिकट का काउंटडाउन शुरू

भोपाल. भाजपा और कांग्रेस जुलाई में विधानसभा चुनाव के टिकट का होमवर्क पूरा करने की कोशिश में हंै। भाजपा खराब परफॉर्मेंस और उम्र के नाम पर कुछ विधायकों के टिकट काटने की तैयारी में है। वहीं, कांग्रेस लगातार हार का मुंह देख रहे नेताओं को इस बार घर बैठाएगी। दोनों पार्टी ने नए चेहरों पर दाव आजमाने की तैयारी भी की है।

युवक कांग्रेस ने 70, महिला कांग्रेस ने 11 सीटें मांगी
कांग्रेस में शुक्रवार को टिकट के लिए स्क्रीनिंग शुरू हो गई। स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री, सदस्य नीता डिसूजा और अजय कुमार लल्लू ने नेताओं से वन-टू-वन चर्चा की। इसमें ज्यादातर नेताओं ने टिकट का दावा पेश किया। उन्होंने लगातार दो और तीन बार हारने वालों को टिकट न देने और चेहरे बदलने का भी सुझाव दिया।

स्क्रीनिंग कमेटी ने विधानसभा क्षेत्रों और नेताओं की जमीनी हकीकत जानने का प्रयास भी किया। चर्चा शनिवार को भी होगी। स्क्रीनिंग कमेटी ने शुक्रवार को पूर्व सांसदों, पार्टी पदाधिकारियों और कार्यवाहक अध्यक्षों से मुलाकात की। इनमें सुरेश पचौरी, नारायण सिंह आमलावे, सुरेन्द्र सिंह ठाकुर, सत्यनारायण पंवार, प्रतापभानु शर्मा, सूरजभान सोलंकी, बाबूलाल सोलंकी, सज्जन सिंह वर्मा, प्रेमचंद गुड्डू, विजयलक्ष्मी साधो, विश्वेश्वर भगत, जीतू पटवारी, सुरेन्द्र चौधरी सहित अन्य नेता शामिल थे। युवक कांग्रेस ने 70 सीटों और महिला कांगे्रस ने 11 सीटों पर टिकट मांगे हैं।

** चर्चा में ये सुझाव आए
- 30 फीसदी युवाओं को टिकट दिए जाएं।
- एक परिवार से एक व्यक्ति को टिकट दें।
- बड़े अंतर से हारने वालों को टिकट नहीं दें।
- टिकट में उम्र का बंधन नहीं हो।
- सिर्फ जिताऊ उम्मीदवार को टिकट दिया जाए।
- दूसरी पार्टियों से आए नेताओं को टिकट नहीं दें।

डायरी में एक-एक का ब्योरा
मिस्त्री अपने साथ एक डायरी लेकर आए हैं। इसमें नेताओं के 2013 के विधानसभा चुनाव के दावों और हर विधानसभा क्षेत्र की जानकारी है। वे पिछली बार भी स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष थे। उस दौरान नेताओं अपने समर्थकों को टिकट दिलाने और जीत के दावे किए थे, लेकिन जमीनी हकीकत उलट रही। मिस्त्री नेताओं से एक-एक सीट की जानकारी ले रहे हैं। इसमें क्षेत्र के जातिगत समीकरण, नेताओं की स्थिति सहित अन्य जानकारी शामिल है।

 

भाजपा के 10 विधायकों के कटेंगे टिकट

विधायकों की स्थानीय एंटी इंकम्बैंसी से जूझ रही भाजपा लगभग 70 विधायकों के नाम काटने जा रही है। मुख्यमंत्री और पार्टी के बड़े नेताओं के बीच गुरुवार देर हुई बैठक में जनआशीर्वाद यात्रा के साथ ही टिकट को लेकर भी चर्चा हुई है।

सूत्रों के अनुसार पार्टी जिन विधायकों के टिकट काटने जा रही है, उसमें से 10 को इसकी जानकारी दी जा चुकी है। टिकट काटने का आधार विधायकों की खराब परफार्मेंस, संभागीय संगठन मंत्रियों की रिपोर्ट, उम्र और सेहत को बनाया गया है।

पार्टी ने इन सीटों पर संभावित उम्मीदवार के लिए पैनल बनाने का काम भी शुरू कर दिया है। इसमें युवाओं का मौका दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने दो माह पहले विधायक दल की बैठक में साफ कर दिया था कि खराब परफार्मेंस वाले विधायकों को पार्टी टिकट नहीं देगी। इसकी प्रक्रिया जुलाई से शुरू हो जाएगी।


- इन विधायकों के टिकट कटना तय
रमाकांत तिवारी त्योंथर
मानवेंद्र ङ्क्षसह महाराजपुर
कुसुम मेहदेले पन्ना
सरताज ङ्क्षसह सिवनी मालवा
हर्ष ङ्क्षसह रामपुर बघेलान
गोविंद ङ्क्षसह पटेल गाडरवारा
संगीता चारेल सैलाना
मथुरालाल रतलाम ग्रामीण
मोती कश्यप बड़वारा

Ad Block is Banned