scriptBJP firebrand leader uma bharti admitted herself lacks patience | BJP की फायर ब्रांड नेता उमा भारती ने खुद माना- उनमें धैर्य की कमी है | Patrika News

BJP की फायर ब्रांड नेता उमा भारती ने खुद माना- उनमें धैर्य की कमी है

उमा भारती ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ करते हुए लिखा कि, 'उनमें शौर्य एवं धैर्य दोनो हैं। लेकिन, मुझमें धैर्य की कमी है।'

भोपाल

Updated: November 18, 2021 07:39:11 pm

भोपाल. शराबबंदी को लेकर अकसर सरकार पर हमलावर होने वाली मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी की फायर ब्रांड नेता उमा भारती इस बार अपने एक कथन को लेकर फिर चर्चा में हैं। इस बार उमा भारती ने खुद इस बात को माना है कि, उनमें धैर्य की कमी है। दरअसल, उमा भारती ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ करते हुए लिखा कि, 'उनमें शौर्य एवं धैर्य दोनो हैं। लेकिन, मुझमें धैर्य की कमी है।'

News
BJP की फायर ब्रांड नेता उमा भारती ने खुद माना- उनमें धैर्य की कमी है

अपने फेसबुक पोस्ट में एक स्थान पर उमा भारती ने लिखा कि, 'मैं तो कहीं की भी मुख्यमंत्री बनने को उत्सुक नहीं थी। क्योंकि, अभी गंगा का समग्रता से कार्य शेष है। उत्तर प्रदेश के जो हालात 15 साल में हो गए थे, उसमें योगी जी से बेहतर कोई नहीं हो सकता था। क्योंकि वो एक मज़बूत, निर्विकार एवं विकास की गहरी सोच रखने वाले मुख्यमंत्री हैं। उनमें शौर्य एवं धैर्य दोनो हैं। मुझमें धैर्य की कमी हैं, इसलिए मैं उनको अपना बेहतर वर्जन कहती हूं। वो मुझसे उम्र में 13 साल छोटे हैं, इसलिए योगी जी मेरे लिए पुत्रवत छोटे भाई हैं। उनके प्रति मेरे मन में प्रगाढ़ स्नेह एवं अत्यधिक सम्मान का मेल है।'


कमला नेहरू अग्निकांड पर अपनी ही सरकार पर उठाए थे सवाल

News

इससे पहले 9 नवंबर को हमीदिया अस्पताल परिसर में स्थित कमला नेहरू अस्पताल में आग लगने की घटना के बाद भी पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती अपनी ही सरकार पर सवाल उठाए थे। आगजनी के अगले दिन उन्होंने एक के बाद एक 8 ट्वीट करके अपनी ही सरकार को घेरा था। उस दौरान उन्होंने तीन बड़े सवाल खड़े किये थे। उन्होंने हमीदिया हादसे पर पूछा सरकार से पूछा था कि, fire audit कबसे नहीं हुआ, दूसरा maintenance और monitoring की ज़िम्मेदारी किसकी थी और इसके लिए कब और कितना budget मिला था।


शराबबंदी पर सरकार को घेरती रहती हैं उमा

इससे पहले प्रदेश में शराबबंदी के मामले पर भी उमा भारती अपनी ही सरकार को आड़े हाथों ले चुकी हैं। पिछले दिनों तो उन्होंने बाकायदा एक प्रेस कान्फ्रेंस करते हुए ऐलान कर दिया था कि, मध्यप्रदेश में अगर सरकार ने शराबबंदी का ऐलान नहीं किया तो वो 15 जनवरी 2022 से सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल देंगी। हालांकि, शराबबंदी पर तो उमा भारती कई बार सरकार को घेरने का प्रयास कर चुकी हैं। इसमें गौर करने वाली बात ये है कि, उमा भारती की मांग उस समय जरूर तेज हो जाती है, जब उनकी राजनीतिक मंशाएं स्पष्ट दिखाई देती हैं। इसी पर नहीं, बल्कि अन्य और भी मुद्दो पर वो सरकार और पार्टी को इशारों—इशारों में निशाने पर ले चुकी हैं।


उमा ने फेसबुक पोस्ट में कही ये बात

News

अपने फेसबुक पोस्ट पर उमा भारती ने लिखा कि, 'मैं कल दोपहर मां विध्यवासिनी दरबार मीरजापुर पहुंच गई। मां गंगा और विंध्य पर्वत के दर्शन भी किए। हंस देवरहा बाबा का आशीर्वाद भी लिया। वह एक अलौकिक एवं दिव्य विभूति हैं। कल अपने प्रयागराज की गतिविधीयो के समाचार आज यहां मीडिया में देखे। सब समाचार अच्छे एवं सकारात्मक हैं लेकिन, कुछ लोगों से कुछ तथ्यात्मक भूले समाचार लिखते समय हो गईं, जिन्हें मैं करेक्ट करती हूं।'

'कल मैने एक शिवालय मैं अभिषेक किया। मैंने यह कहा है कि, ये शिवालय मेरे ध्यान में एवं चित्त में आता था ये नहीं कहा था कि, सपने में आता था। योगी मेरे बेहतर वर्जन हैं, यह कहा। ये नहीं कहा कि, advance वर्जन हैं। कृपया इन चीजों को करेक्ट कर लीजिये।'

'बेहतर वर्जन क्यों कहती हूं वो मैं बताती हूं। 2017 के विधानसभा चुनाव की भारतीय जनता पार्टी की ओफ़िशियल पब्लीसीटी में 4 नेताओं के चेहरे दिखाए गए, राजनाथ जी, कलराज जी, केशव प्रसाद एवं चौथा मेरा भी चेहरा था। जब परिणाम आए और हमें प्रचंड विजय मिली तो योगी जी मुख्यमंत्री बनेंगे जब ये फ़ैसला मैने सुना तो मुझे अपार ख़ुशी हुई।'

'मैं तो कही की भी मुख्यमंत्री बनने को उत्सुक नहीं थी, क्योंकि अभी गंगा का समग्रता से कार्य शेष है। उत्तर प्रदेश के जो हालात 15 साल में हो गए थे, उसमें योगी जी से बेहतर कोई नहीं हो सकता था। क्योंकि, वह एक मज़बूत, निर्विकार एवं विकास की गहरी सोच रखने वाले मुख्यमंत्री हैं। उनमें शौर्य एवं धैर्य दोनो हैं। मुझमें धैर्य की कमी है इसलिए मैं उनको अपना बेहतर वर्जन कहती हूं। वह मुझसे आयु में 13 साल छोटे हैं, इसलिए योगी जी मेरे लिए पुत्रवत छोटे भाई हैं। उनके प्रति मेरे मन में प्रगाढ़ स्नेह एवं अत्यधिक सम्मान का मेल है।'

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कम उम्र में ही दौलत शोहरत हासिल कर लेते हैं इन 4 राशियों के लोग, होते हैं मेहनतीबाघिन के हमले से वाइल्ड बोर ढेर, देखते रहे गए पर्यटक, देखें टाइगर के शिकार का लाइव वीडियोइन 4 राशि की लड़कियों का हर जगह रहता है दबदबा, हर किसी पर पड़ती हैं भारीआनंद महिंद्रा ने पूरा किया वादा, जुगाड़ जीप बनाने वाले शख्स को बदले में दी नई Mahindra BoleroFace Moles Astrology: चेहरे की इन जगहों पर तिल होना धनवान होने की मानी जाती है निशानीइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशदेश में धूम मचाने आ रही हैं Maruti की ये शानदार CNG कारें, हैचबैक से लेकर SUV जैसी गाड़ियां शामिल

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवारेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठितRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर दिल्ली की किलेबंदी, जमीन से आसमान तक करीब 50 हजार सुरक्षाबल मुस्तैदUP Assembly Elections 2022 : सपा सांसद आजम खां जेल से ही करेंगे नामांकन, कोर्ट ने दी अनुमतिकोटा में रिवरफ्रंट पर लगेगी विश्व की सबसे बड़ी घंटी, वजन होगा 57 हजार किलोक्या योगी आदित्यनाथ फिर बनेंगे यूपी के मुख्यमंत्री? जानिए क्या कहती हैं ज्योतिषीयों की भविष्यवाणीकांग्रेस युक्त भाजपा! कविता के जरिए शशि थरूर ने पार्टी छोड़ रहे नेताओं और बीजेपी पर कसा तंजRPN Singh के पार्टी छोड़ने पर बोले CM गहलोत, आने वालों का स्वागत तो जाने वालों का भी स्वागत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.