सुप्रीमकोर्ट के फैसले से सट्टा बाजार में भाजपा सरकार, बागियों के आने पर भी दांव

सुप्रीमकोर्ट के फैसले से सट्टा बाजार में भाजपा सरकार, बागियों के आने पर भी दांव

- फैसले से अप-डाउन हुए सट्टा बाजार के रेट

ब्यूरो, भोपाल। 20 मार्च को ही फ्लोर टेस्ट कराने के सुप्रीमकोर्ट का फैसला आने के बाद सट्टा बाजार में भाजपा की सरकार बनने की ओर पलड़ा झुक गया। सटोरियों ने एक तरफा तरीके से भाजपा की सरकार बना दी। इससे भाजपा का रेट जहां 1.05 रुपए हो गया, तो कांग्रेस का रेट दो रुपए रहा। सटोरियो ने मान लिया कि फ्लोर टेस्ट होने की स्थिति में भाजपा सरकार बनेगी, क्योंकि 16 बागियों के वापस भोपाल आने पर सट्टा बाजार उम्मीद में नहीं रहा। भाजपा की सरकार बनने पर एक रुपया दांव पर लगाने की स्थिति में भाजपा की ही सरकार बनने पर एक रुपए पांच पैसे का रेट दिया गया, जबकि कांग्रेस सरकार बरकरार रहने पर एक रुपया का दांव लगाने पर कांग्रेस की सरकार बच जाती है तो दो रुपए दिए जाएंगे। सट्टा बाजार में 16 बागियों के भोपाल न आने पर 1.10 रुपए का दांव रहा, जबकि उनके भोपाल आने को लेकर 1.70 रुपए का दांव रहा। यानी बागियों के भोपाल आने पर एक रुपया दांव पर लगाने पर वे भोपाल आते हैं, तो 1 रुपए दस पैसे मिलेंंगे। जबकि, बागियों के भोपाल आने पर एक रुपया दांव पर लगाने की स्थिति में वे भोपाल आ जाते हैं तो एक रुपया 70 पैसे मिलेंगे।
--
शिवराज-तोमर प्रमुख चेहरे-
सट्टा बाजार में पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के भाजपा सरकार बनने पर सीएम बनने पर भी खूब दांव खेले गए। इसमें शिवराज के सीएम बनने के अवसर ज्यादा बताए गए, जबकि तोमर का नाम दूसरे नंबर पर रहा। शिवराज के लिए 1.10 रुपए का दांव रहा, जबकि तोमर के लिए 1.30 रुपए का दांव रहा। बाकी चेहरों पर बेहद कम दांव रहे। सट्टा बाजार में सबसे मजबूत चेहरे शिवराज और तोमर ही माने गए।
--

जीतेन्द्र चौरसिया Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned