15 साल में भाजपा सरकार ने विचित्र घोटाले किए : कांग्रेस

पेड़ों को खिलाए कैप्सूल

 

By: Arun Tiwari

Published: 23 Oct 2020, 05:47 PM IST

भोपाल : प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता और मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने प्रेस कान्फ्रेंस कर भाजपा सरकार पर गंभीर आरोप लगाए। कांग्रेस ने कहा कि सरकार ने पेड़ों को कैप्सूल देने का चमत्कारी काम किया है। और करोड़ों रुपए का घोटाला जैविक खेती में प्रदेश को श्रेष्ठ बनाने के नाम पर कर किया गया। आत्मा परियोजना में लगभग 2348 क्लस्टर के लिए लिक्विड बायो फर्टिलाइजर खरीदने के लिए भारत सरकार ने प्रदेश को फंड दिया। यह लिक्विड फॉर्म सौ डेढ़ सौ रुपया प्रति लीटर से बाजार में उपलब्ध रहता है। भ्रष्टाचार करने के लिए भाजपा सरकार में बायो फर्टिलाइजर के साथ हेरफेर करते हुए एक शब्द जोड़ा गया इन कैप्सूल फार्म और पेड़ों को खिलाने के लिए करोड़ों रुपए के कैप्सूल खरीदे गए। एक ही ऑर्डर लगभग 5 करोड़ का है। यह कैप्सूल अलग-अलग बैक्टीरिया के नाम से 160 रुपये से लेकर 196 प्रति केप्सूल की दर से खरीदे गए और जनता के धन को बर्बाद कर दिया गया। जो दरें निरस्त की जा चुकी थीं उन दरों पर ये सामान खरीदे गए। यह जांच का विषय है कि दुनिया में पहली बार कैप्सूल के रूप में महा घोटाला किया गया और उस पर सरकार ने ध्यान ही नहीं दिया। प्रधानमंत्री कृषि विकास योजना जिसके तहत यह पैसा मध्यप्रदेश को मिला उसमें भी कैप्सूल फॉर्म में बायोफर्टिलाइजर खरीदने के कोई निर्देश नहीं थे। 5 अक्टूबर 2018 की 2348 क्लस्टर की योजना में नियमों को ठेंगा दिखाते हुए भ्रष्ट अफसरों और सप्लायरों के गठजोड़ ने योजना स्वीकृति के अगले दिन ही दलालों को कार्य आदेश दे दिए जिसमें कैप्सूल फॉर्म में लिक्विड फर्टिलाइजर वर्मी बेड मार्कफेड द्वारा निरस्त दरों पर एमपी एग्रो से जिसमें स्प्रे पंप खरीदने के आइटम सम्मिलित थे लेकिन क्रय आदेश आ गए।

mp kamalnath
Arun Tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned