scriptbjp mp | दिग्गजों में समन्वय के प्रयास, चंद चेहरों पर मोहर बाकी पर चिंतन, बढ़ते विरोध से चुनौती बढ़ी | Patrika News

दिग्गजों में समन्वय के प्रयास, चंद चेहरों पर मोहर बाकी पर चिंतन, बढ़ते विरोध से चुनौती बढ़ी

-----
- सिंधिया-तोमर में ग्वालियर के लिए सहमति नहीं
- शिवराज-वीडी सहित अन्य दिग्गज चिंतन में उलझे
- दिनभर दावेदारों की कतारें, आकाओं के दर पहुंचे टिकटार्थी
- कई जगह विरोध के सुर बुलंद, भोपाल भी पहुंचा विरोध
------------------

भोपाल

Published: June 12, 2022 09:36:20 pm

[email protected]भोपाल। प्रदेश के 16 नगर निगमों के महापौर के लिए चेहरे फायनल करने की मशक्कत भाजपा में रविवार को भी दिनभर चलती रही। बीते शनिवार को चुनिंदा नामों पर कोर-ग्रु्रप में सहमति बन गई थी, लेकिन कई चेहरे अभी तय नहीं हो पाए हैं। इसलिए इन चेहरों को फायनल करने रविवार को चिंतन हुआ। सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ सीएम हाउस पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा व अन्य नेताओं ने मंथन किया, तो प्रदेश भाजपा कार्यालय में भी अलग दौर की बैठकें होती रही। दिनभर टिकटार्थी प्रदेश भाजपा कार्यालय और अपने राजनीतिक आकाओं के दरवाजे पर पहुंचते रहें। भोपाल-इंदौर सहित चुनिंदा सीटों पर भारी मशक्कत है, इस कारण देर रात तक इन पर विचार-विमर्श चलता रहा। दूसरी ओर चुनिंदा सीटों पर नाम तय होने की जानकारी लगते ही उन क्षेत्रों में स्थानीय स्तर पर जमकर विरोध शुरू हो गया है। इनमें कई इलाकों के नेता भोपाल पहुंच गए हैं। इनमें से अनेक नेताओं ने प्रदेश अध्यक्ष से मिलकर अपना विरोध दर्ज कराना शुरू कर दिया है। इसी कारण नामों को फायनल करने की मशक्कत और बढ़ गई है। इसके मद्देनजर पार्टी ने डेमेज कंट्रेाल के प्रयास भी शुरू कर दिए हैं।
----------------------
सोमवार को भी बैठक-
प्रदेश भाजपा ने रविवार को होने वाले सांसद-विधायकों सहित अन्य प्रदेश स्तरीय बैठकें रद्द कर दी थी। इनके स्थान पर जिला चयन समितियों के साथ वर्चुअल बैठक होती रही। वहीं कई जिलों की चयन समिति के नेता भोपाल ही प्रदेश कार्यालय पहुंच गए। इस कारण इन नेताओं से प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा व संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा ने रायशुमारी की। इस बीच सोमवार को वापस बैठक रखी गई है। इस बैठक में उन नामों पर विचार होगा, जो रविवार को फायनल नहीं हो पाएंगे। इसके अलावा पार्षदों की रायशुमारी भी जिलों से की गई है, जिन पर सोमवार को फैसला लिया जा सकता है।
-------------
सीएम हाउस से प्रदेश कार्यालय तक बैठकें-
सीएम हाउस पर सीएम शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा व संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा ने बैठक की। इसमें चुनिंदा नामों को लेकर विचार-विमर्श हुआ। वहीं दोपहर में भी प्रदेश कार्यालय में करीब दो घंटे प्रदेश अध्यक्ष व संगठन महामंत्री के साथ अन्य वरिष्ठ नेताओं ने मंथन किया। इस दौरान भी इंदौर-भोपाल सहित अन्य नामों पर चर्चा हुई।
--------------
टिकटार्थी घूमे दर-दर-
महापौर पद सहित अन्य पदों के टिकट की ईच्छा में टिकटार्थी दर-दर घूमे। रविवार को केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मिलने विधायक रमेश मेंदोला पहुंचे। इनके अलावा अन्य कई दावेदार भी सिंधिया के बंगले पर पहुंचे। बड़ी संख्या में सिंधिया को दावेदारों ने अपने बायोडाटा सौंपे हैं। वहीं प्रदेश भाजपा कार्यालय में भी दावेदारों की भीड़ लगी रही। अनेक नेता प्रदेश अध्यक्ष, संगठन महामंत्री व अन्य नेताओं से मिलने पहुंचे। अनेक समाजों के प्रतिनिधि भी कार्यालय पहुंचे, जहां अपने समर्थकों के साथ दबदबा दिखाकर टिकट की मांग की। इसी तरह प्रदेश अध्यक्ष के निवास व कार्यालय पर भी कई दावेदार पहुंचे।
-------------------------
सिंधिया पहुंचे शिवराज से मिलने-
सुबह केंद्रीय मंत्री सिंधिया सीएम शिवराज सिंह चौहान से मिलने उनके निवास पर पहुंचे। ग्वालियर महापौर को लेकर सिंधिया अपनी पसंद बता चुके हैं, लेकिन उस पर सहमति नहीं बन पाई है। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर सिंधिया से अलग अपनी पसंद बता चुके हैं। इस कारण ग्वालियर महापौर पद पर सिंधिया व तोमर में समन्वय के प्रयास हैं, लेकिन रविवार को सिंधिया ने सीएम से मिलकर अपना रूख स्पष्ट कर दिया। वहीं तोमर भी दोपहर तक बंगले पर रहे। जहां अनेक दावेदार उनसे मिलने पहुंचे। तोमर भी वरिष्ठ नेताओं से चर्चा करके शाम को रवाना हो गए।
-----------------------
5 सीटों पर विरोध बुलंद-
उज्जैन से मुकेश टटवाल, रतलाम से अशोक पोरवाल, सतना से योगेश ताम्रकार, छिंदवाडा से जितेंद्र शाह और बुरहानपुर नगर निगम से महापौर प्रत्याशी माधुरी पटेल का नाम फायनल होने की जानकारी के बाद इन क्षेत्रों में जमकर विरोध शुरू हो गया। इन इलाकों से प्रदेश कार्यालय भी लोग पहुंचे। इसके अलावा प्रदेश अध्यक्ष को भी इन इलाकों के दूसरे दावेदारों ने विरोध दर्ज कराया है। इसलिए इन इलाकों को लेकर पार्टी में अंतर्विरोध के हालात बन गए हैं।
-----------------------
नामों के बीच दौड़, सबसे ज्यादा पेंच यहां-
bjpmm.jpg
Jitendra Chourasiya,
ग्वालियर में डॉ. वीरा लोहिया, सुमन शर्मा, माया सिंह और समीक्षा गुप्ता के बीच खींचतान है, जबकि इंदौर में विधायक रमेश मेंदोला, गौरव रणदिवे, पुष्यमित्र भार्गव और डॉ. निशांत खरे के नाम हैं। जबलपुर में कमलेश अग्रवाल, डॉ. जितेंद्र जामदार और अभिलाष पांडे के बीच खींचतान है। भोपाल में पार्टी कृष्णा गौर को ही मजबूत मान रही है, लेकिन वे खुद टिकट नहीं चाहती। वहीं कृष्णा को यदि टिकट दिया जाता है, तो इंदौर से विधायक रमेश मेंदोला का दावा मजबूत होगा। इस कारण इसे लेकर शीर्ष नेतृत्व से मार्गदर्शन लिया जा रहा है। फिलहाल विधायक को टिकट न देने की गाइडलाइन है, लेकिन कृष्णा को टिकट देने की स्थिति में यह गाइडलाइन टूट जाएगी। इन चारों प्रमुख शहरों के अलावा सागर को लेकर भी भारी खींचतान है। सागर में तीनों मंत्रियों के बीच किसी एक नाम को लेकर सहमति नहीं है।
------------------------------
कुछ जगह फोन पहुंचना शुरू-
टिकटों की खींचतान के बीच पार्टी करीब दस सीटों पर नाम लगभग तय कर चुकी है। इस कारण इन सीटों पर संबंधितों के पास राज्य स्तर से फोन पहुंचना भी शुरू हो गए हैं। सूत्र बताते हैं कि कुछ जगह प्रत्याशियों को फोन करके महापौर पद के लिए चुनाव में उतरने के लिए कहकर बधाई भी दी गई है। हालांकि अभी कोई भी सूची घोषित नहीं हुई है। अभी रविवार रात तक सूचियों पर मशक्कतर चलती रही है।
-----------------------------------------

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

कलकत्ता हाईकोर्ट की कड़ी टिप्पणी, कहा - 'पश्चिम बंगाल में बिना पैसे दिए नहीं मिलती सरकारी नौकरी'Jammu-Kashmir News: शोपियां में फिर आतंकी हमला, CRPF के बंकर पर ग्रेनेड अटैकओडिशा के 10 जिलों में बाढ़ जैसे हालात, ODRAF और NDRF की टीमों को किया गया तैनातकैबिनेट विस्तार के बाद पहली बार नीतीश कैबिनेट की बैठक, इन एजेंडों पर लगी मुहरशिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे परममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारकेंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह के मानहानि के बयान पर मंत्री जोशी का पलटवार, कहा-दम है तो करें मानहानि
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.