लोकसभा चुनाव 2019 से पहले सांसद ने दिया इस्तीफा, मचा हड़कंप!

भाजपा को एक ही दिन में दो झटके, भगत ने निर्दलीय भरा पर्चा, प्रजापति बने सपा प्रत्याशी

By: KRISHNAKANT SHUKLA

Published: 10 Apr 2019, 12:18 PM IST

भोपाल. भाजपा को मंगलवार को एक साथ दो बड़े झटके लगे हैं। बालाघाट सांसद बोधसिंह भगत ने पार्टी से इस्तीफा देते हुए निर्दलीय नामांकन दाखिल किया है। वहीं, टीकमगढ़ से सांसद वीरेंद्र खटीक को दोबारा टिकट देने का विरोध कर रहे पूर्व विधायक आरडी प्रजापति ने समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है। सपा ने उन्हें टीकमगढ़ से प्रत्याशी बनाया है। प्रजापति के पुत्र राजेश प्रजापति भाजपा से विधायक हैं।

भगत को मनाने में विफल रही भाजपा

बोधसिंह का टिकट काटकर पार्टी ने पूर्व मंत्री ढाल ङ्क्षसह बिसेन को बालाघाट प्रत्याशी बनाया है। इससे नाराज बोधसिंह ने निर्दलीय चुनाव लडऩे का ऐलान किया था। भाजपा लगातार उनको मनाने में जुटी थी। प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत ने बालाघाट जागर उनसे अकेले में चर्चा की थी। उसके बाद पार्टी उपाध्यक्ष प्रभात झा और पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा को भी उनको मनाने का जिम्मा सौंपा था।

इस बीच पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी बोधसिंह से फोन पर चर्चा की, लेकिन वे नहीं माने और मंगलवार को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से अपना इस्तीफा जिला अध्यक्ष रमेश रंगलानी को भेज दिया। निर्दलीय पर्चा दाखिल करने के बाद भगत ने आरोप लगाया कि उनका टिकट पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन के दबाव में काटा गया है। ढालसिंह बिसेन जिताऊ उम्मीदवार नहीं है और जनता के समर्थन से चुनाव वे ही जीतेंगे।

मिश्रा आज छोड़ सकते हैं भाजपा

सीधी के पूर्व सांसद गोविंद मिश्रा बुधवार को भाजपा छोडऩे का ऐलान कर सकते हैं। वे रीति पाठक को फिर से टिकट देने से नाराज हैं। उन्होंने कहा कि मैं बुधवार को भोपाल से सीधी पहुंच रहा हूं। हमारे साथी भी आ रहे हैं। उनसे चर्चा के बाद कुछ बड़ा फैसला लूंगा। पार्टी छोडऩे के संबंध में अभी कुछ भी कहने से इनकार किया है। उल्लेखनीय है कि मिश्रा ने हाल ही में मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात भी की थी।

 

BJP Congress
Show More
KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned