भडक़े भाजपा महामंत्री, कहा - शाह आएंगे तो क्या बताओगे ?

भडक़े भाजपा महामंत्री, कहा - शाह आएंगे तो क्या बताओगे ?

By: KRISHNAKANT SHUKLA

Published: 24 May 2018, 10:34 AM IST

भोपाल. भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री अनिल जैन ने बुधवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में इस बात पर खासी नाराजगी जताई कि पिछले साल अमित शाह के तीन दिनी प्रवास के दौरान जो काम प्रदेश संगठन को दिए गए थे, उनमें से कई काम अभी तक पूरे क्यों नहीं हो पाए हैं।

जैन ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एक बार फिर जून में भोपाल के एक दिनी दौरे पर आ सकते हैं। जैन ने साफ शब्दों में कहा कि उससे पहले शाह के दिए गए टारगेट प्रदेश संगठन पूरे कर लें। अनिल जैन पार्टी अध्यक्ष शाह के प्रदेश प्रवास के प्रभारी हैं। वे 18 से 20 अगस्त 2017 तक हुए शाह के भोपाल प्रवास में भी उनके साथ थे और और प्रदेश संगठन को जो काम राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिए थे, उसका पूरा रिकॉर्ड लेकर गए थे।

बुधवार को प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक से पहले अनिल जैन ने प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह और प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत के साथ भी मंत्रणा की। पदाधिकारियों की बैठक में जैन राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा सौंपे गए काम का पूरा ब्योरा लेकर बैठे और एक-एक काम पर विस्तृत चर्चा की। शाह ने समयदानी कार्यकर्ताओं और युवा मोर्चा के साथ ३० जनवरी को पूरे प्रदेश से बाइक रैली को भोपाल लाने ने निर्देश दिए थे।

बाद में इसे हर जिला स्तर पर निकालने का निर्णय लिया गया। लेकिन सूत्रों के मुताबिक इस काम को पूरा ना कर पाने पर जैन ने बैठक में असंतोष जताया। इसके साथ ही दीनदयाल उपवन, पदाधिकारियों की टिफिन पार्टी और मोर्चों की कमजोर परफार्मेंस पर भी जैन नाराज नजर आए। प्रदेश कोर गु्रप की नियमित बैठक ना होने पर भी जैन ने बैठक में सवाल उठाया।

बैठक में जैन ने कहा कि जिन पदाधिकारियों के पास दायित्व ज्यादा हैं और वो चुनाव लडऩा चाहते हैं, तो ऐसे लोगों का काम कम कर देना चाहिए। प्रदेश संगठन ने जैन को वाट्सएप के जरिये 15 मिनट में दो करोड़ लोगों तक अपना संदेश पहुंचाने का फार्मूला भी बताया।

किसान आंदोलन और कांग्रेस को रोकने पर हुआ मंथन
प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक के बाद भाजपा कोर ग्रुप और प्रदेश चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक एक साथ हुई। इस बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ कोर ग्रुप और प्रबंधन समिति के सदस्य मौजूद रहे, लेकिन केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, थावरचंद गेहलोत और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के साथ ही मंत्री राजेंद्र शुक्ल बैठक में नहीं थे।

बैठक में किसान आंदोलन और कांगे्रस की रणनीति पर विचार किया गया। इस बैठक में संभागीय प्रभारियों के सही तरीके से प्रवास ना करने पर जैन ने आपत्ति जताई। यह भी तय किया गया कि सीएम की जनआशीर्वाद यात्रा के साथ ही विकास यात्रा, महिला सम्मेलन और आदिवासी अधिकार यात्रा को सफल बनाने के लिए पंचायत स्तर तक समीतियां बनाई जाएं।

Amit Shah BJP
Show More
KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned