नई चुनावी जंग की तैयारी: पिछली गलती से सीख इस बार कार्यकर्ताओं से मिस्ड कॉल के साथ फॉर्म भी भरवाएगी भाजपा

नई चुनावी जंग की तैयारी: पिछली गलती से सीख इस बार कार्यकर्ताओं से मिस्ड कॉल के साथ फॉर्म भी भरवाएगी भाजपा

Deepesh Tiwari | Updated: 14 Jun 2019, 06:03:13 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

- पिछली बार लापता हो चुके हैं मिस्ड कॉल वाले कार्यकर्ता

- सवा करोड़ सदस्य बनाने का लक्ष्य
- शिवराज बने सदस्यता अभियान के राष्ट्रीय प्रभारी

 

भोपाल@अरुण तिवारी की रिपोर्ट...

सदस्यता अभियान में पिछली बार धोखा खा चुकी भाजपा इस बार विशेष सतर्कता बरत रही है। इस बार मिस्ड कॉल के साथ लोगों से फॉर्म भी भरवाया जाएगा। विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बनने के लिए भाजपा सुप्रीमो अमित शाह ने मिस्ड कॉल से सदस्य बनने का फॉर्मूला निकाला था।

पिछली बार मध्यप्रदेश को एक करोड़ सदस्य बनाने का टारगेट मिला था। प्रदेश भाजपा ने लोगों से खूब मिस्ड कॉल कराए और 1 करोड़ से ज्यादा सदस्य बनाने का दावा भी कर दिया। लेकिन मिस्ड कॉल की प्रक्रिया बाद में विवादों में आ गई जब इतने सदस्य वैरीफिकेशन में नहीं मिल पाए जिससे पार्टी की किरकिरी हुई और अमित शाह ने संगठन को फटकार भी लगाई।

इस बार ये हालात पैदा न हों इसके लिए पार्टी अतिरिक्त सतर्कता बरतेगी। मध्यप्रदेश का सदस्यता अभियान में सबसे बेहतर प्रदर्शन इसलिए भी जरुरी है क्योंकि अमित शाह ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को इसका राष्ट्रीय प्रभारी बनाया है।

दावा एक करोड़ मिले थे 43 लाख :
पिछले सदस्यता अभियान में प्रदेश भाजपा ने एक करोड़ ग्यारह लाख सदस्य बनाने का दावा किया था। ये सदस्य मिस्ड कॉल के जरिए बनाए गए थे। तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत सभी मंत्री और नेताओं ने अपनी हर सभा में लोगों से मोबाइल नंबर डायल करवाकर भाजपा का सदस्य बना दिया।

सदस्यता अभियान के बाद जब इनका वैरीफिकेशन किया गया तो कुल 43 लाख सदस्य ही सामने आए और बाकी 68 लाख सदस्यों का कहीं पता नहीं चला। इस बार पार्टी अपने नेताओं को सदस्य बनाने का टारगेट तो देगी लेकिन साथ में एक फॉर्म भी पकड़ाएगी।

मिस्ड कॉल करने वाले का तत्काल फॉर्म भरवाया जाएगा और उसका स्थाई मोबाइल नंबर लिया जाएगा ताकि बाद में फोन बंद होने की शिकायत न मिले। पार्टी कार्यकर्ता अपने सामने ही लोगों से नंबर डायल करवाएंगे और तत्काल वैरीफाई भी करेंगे।

शिवराज बने प्रभारी,टारगेट सवा करोड़ :
प्रदेश के लिए अब सदस्यता अभियान प्रतिष्ठा का विषय बन गया है क्योंकि शिवराज को इस अभियान का देशभर का जिम्मा सौंपा गया है। अमित शाह ने बीस फीसदी सदस्य बढ़ाने बनाने का टारगेट दिया है। मध्यप्रदेश में इस बार सवा करोड़ से ज्यादा सदस्य बनाने होंगे और वो भी असलियत में। भाजपा जल्द ही इस पूरे अभियान को मिशन मोड में लेने वाली है। दिल्ली से पूरी जानकारी आने के बाद बैठक बुलाकर भाजपा अपने सभी नेताओं को सदस्यता अभियान में जुटने का लक्ष्य देगी।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned