सरकार के मप्र समृद्ध अभियान को भाजपा ने बताया अपना

सरकार के मप्र समृद्ध अभियान को भाजपा ने बताया अपना

Harish Divekar | Publish: Oct, 22 2018 06:03:11 PM (IST) | Updated: Oct, 22 2018 06:03:12 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India


नेताप्रतिपक्ष अजय सिंह ने चुनाव आयोग में की शिकायत

समृद्ध मध्यप्रदेश राज्य सरकार का अभियान है, चुनाव में इसका फायदा उठाने के लिए भारतीय जनता पार्टी इसे बताकर जनता और सरकार के साथ धोखा—धड़ी कर रही है।

यह आरोप नेताप्रतिपक्ष अजय सिंह ने लगाए हैं। उन्होंने चुनाव आयोग से शिकायत कर इस मामले में प्रकरण दर्ज करने की मांग की है। सिंह ने जनता से धोखाधड़ी करने के मामले में मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग भी की।
नेता प्रतिपक्ष ने बताया कि भाजपा ने 21 अक्टूबर को समृद्ध मध्यप्रदेश के 50 रथों को हरी झंडी दिखाकर अपना अभियान बताया है वह पूरी तरह से राज्य सरकार का है।

सरकार ने एक्सपर्ट के जरिए इसका एक मसौदा भी तैयार करवा लिया था, लेकिन चुनाव से ऐन वक्त पहले भाजपा ने इसे हथिया कर जनता के साथ धोखा किया है।

 

सिंह ने चुनाव आयोग से मांग की है कि वे तत्काल इस अभियान पर न केवल रोक लगाएं बल्कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान द्वारा सरकार के साथ धोखाधड़ी कर भाजपा की ओर से इस अभियान के शुरू करने पर आचार संहिता का तथा सरकारी योजनाओं को षडयंत्र पूर्वक भाजपा के नाम करने पर प्रकरण दर्ज करने की मांग की है।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सबसे गंभीर यह है कि जिस सरकार ने इस अभियान को शुरू करके करोड़ों रुपए विज्ञापन में खर्च किए, उसी सरकार के मुखिया ने अमानत में खयानत करके यह अभियान भाजपा की तरफ से शुरू किया।

इस पर उनके खिलाफ अपराधिक प्रकरण भी दर्ज किया जाना चाहिए और उन्हें तत्काल अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के इतिहास में शिवराज सिंह चैहान का यह शर्मनाक कृत्य कलंक के रूप में दर्ज किया जाएगा।

 

सिंह ने इस संबंध में आज मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से शिकायत की है।
नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि मप्र सरकार ने 6 अक्टूबर 2018 को आचार संहिता लगने के पूर्व 27, 28, 30 सितंबर और 01 से 05 अक्टूबर तक लगातार विज्ञापन जारी किए हैं।

यह विज्ञापन फ्यूचर एम.पी. टास्क फोर्स द्वारा ‘‘आइडिया में हो दम तो पूरा करेंगे हम’’ शीर्षक से जारी हुआ है जो कि सभी समाचार पत्रों में आधा पेज प्रकाशित किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकारी विज्ञापन और भारतीय जनता पार्टी द्वारा जारी किए गए विज्ञापन में सिर्फ एक ही फर्क है कि सरकारी विज्ञापन में जो फोन नंबर दिया गया है वह 8000 305 305 है और भारतीय जनता पार्टी द्वारा जारी विज्ञापन में यह नंबर बदलकर 730 44 730 44 है। सिंह ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी सुनियोजित तरीके से आज भी सभी सरकारी संसाधनों का उपयोग कर रही है। इसका एक उदाहरण यह अभियान भी है।

9 साल पहले भी बनाई थी आइडियाज फॉर सीएम वेबसाइट
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि पिछले 15 साल से प्रदेश की जनता को धोखा देने वाले मुख्यमंत्री ने 9 साल पहले जनवरी 2009 में आइडियाज फॉर सीएम डॉट इन वेबसाइट का शुभारंभ किया था और उसमें भी जनता से आइडियाज मांगे गए थे। श्री अजय सिंह ने सवाल किया कि मुख्यमंत्री बताएं कि 9 साल में उन्हें जनता ने कितने आइडियाज दिए जिन पर उन्होंने अमल किया। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री का प्रदेश की जनता को धोखा देने वाला घड़ा भर चुका है अब जो कि 2018 के चुनाव में फूट जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned