scriptbody shaming: Mummy I don't go to school, kids tease me as fat | Body Shaming: मम्मी! मुझे स्कूल नहीं जाना, बच्चे मोटा कहकर चिढ़ाते हैं | Patrika News

Body Shaming: मम्मी! मुझे स्कूल नहीं जाना, बच्चे मोटा कहकर चिढ़ाते हैं

कोरोना इफेक्ट: छोटे बच्चे भी body shaming का शिकार, घर पर रहने के कारण कुछ बच्चों में बढ़ा मोटापा, 6 से 12वीं कक्षा तक के बच्चे हो रहे हैं body shaming का शिकार,12 से 18 वर्ष के बीच है इनकी उम्र, इनमें लड़के और लड़कियां दोनों हैं।

भोपाल

Updated: April 16, 2022 07:46:22 pm

योंगेंद्र सेन@ भोपाल. Corona की लहर तो खत्म हो गई, लेकिन इसके नए-नए दुष्प्रभाव अब सामने आने लगे हैं। दो साल तक स्कूल बंद रहे। इस दौरान लगातार घर में रहने और खेलकूद से दूर रहने के कारण कई बच्चों का वजन बढ़ गया। अब स्कूल पूरी तरह खुल गए हैं। ऐसे में जब ये बच्चे स्कूल पहुंचे तो क्लास और स्कूल के साथियों के बीच body shaming का शिकार हो गए। बढ़े वजन के कारण साथी बच्चे उन्हें मोटा कहकर चिढ़ाने लगे। इनमें से कुछ बच्चों ने तो माता-पिता को स्कूल जाने से ही मना कर दिया। अभिभावकों के लिए भी ये परेशानी बन गई है। ऐसे अभिभावक अपने बच्चों को लेकर डॉक्टर के पास पहुंच रहे हैं। गांधी मेडिकल कॉलेज के मनोचिकित्सा विभाग में ही हर सप्ताह ऐसे दो केस सामने आ रहे हैं।

child.jpg
fat_boys.jpg

केस-1 : बेटे ने स्कूल जाने से मना कर दिया
मेरा बेटा शहर के अच्छे स्कूल में क्लास 7 में पढ़ता है। शुरू में तो वह खुशी-खुशी स्कूल जाने लगा। कुछ दिन से अचानक वह स्कूल जाने से मना करने लगा। पता चला कि स्कूल में उसे बच्चे ओवरवेट होने के कारण चिढ़ाते हैं। समझ में नहीं आ रहा था कि उसे कैसे हैंडल करें। अब धीरे-धीरे सुधार हो रहा है।
- पीडि़त के पिता

केस-2 : बेटी स्कूल से आकर रोने लगती
मेरी बेटी 11वीं में पढ़ती है। उसका व्यवहार कुछ दिनों से बदला-बदला सा है। छोटी-छोटी बात पर गुस्सा होने लगी। स्कूल भी जाने से मना कर दिया। बेटी शुरू से पढ़ाई में अच्छी थी। उसने बताया कि बच्चे उसे वजन ज्यादा होने के कारण चिढ़ाते हैं। कई बार स्कूल से आने के बाद रोने लगती थी। तब हमने टीचर से बात की।
-पीडि़ता की मां

दो साल 'कैद' में रहे बच्चे, लिखना-पढ़ना भूल गए
यह खबर पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक कीजिए https://www.patrika.com/bhopal-news/corona-effect-child-effected-with-learning-disability-7449071/

ये होता है प्रभाव
- बच्चों पर उनके शरीर के कारण टिप्पणी करने, उनका उपहास उड़ाने से उनके व्यवहार में बदलाव देखने को मिलता है।
- वे स्कूल जाने से मना करते हैं। साथियों के साथ खेलना-कूदना भी बंद कर देते हैं।
- स्वभाव चिड़चिड़ा भी होता जाता है। छोटी-छोटी बातों पर अनावश्यक प्रतिक्रिया देने लगते हैं।
- कई बच्चे बार-बार रोने लगते हैं।

अभिभावक और शिक्षक क्या करें
- माता-पिता और शिक्षकों को ऐसे बच्चों में उनका आत्मविश्वास विकसित करना चाहिए।
- सेल्फ लव यानी खुद से प्यार का महत्व समझाना चाहिए।

- सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जितना संभव हो दूर रखें।
- ऐसे बच्चों का खाने-पीने का रूटीन सेट करें।
- ऐसे क्रियाकलापों में बच्चे को लगाएं जिनसे वजन कम हो, इससे उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा।

ध्यान नहीं देने पर ये खतरा
विशेषज्ञों का कहना है कि अगर माता-पिता बच्चों की इस परेशानी पर ध्यान नहीं देते हैं तो आगे चलकर ऐसे बच्चों में मानसिक विकार पैदा हो सकते हैं। वे डिप्रेशन, पर्सनेलिटी डिस्ऑर्डर के शिकार हो सकते हैं।

40% बच्चों में मोटापा
कोरोना का यह साइड इफेक्ट इतना खतरनाक हो चुका है कि 40% बच्चों में मोटापा घर कर गया है। हर दस में चार बच्चों में मोटापे की समस्या देखी जा रही है। आठ से दस साल के बच्चों का वजन 10 किलो तक बढ़ गया है।

सर्वे में खुलासा: 60 फीसदी बच्चों का वजन बढ़ा
दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में 1309 बच्चों के बीच एक सर्वेक्षण किया गया था। इसमें उन बच्चाें को शामिल किया, जिन्हें कोरोना संकट के कारण घर बैठने के लिए मजबूर होना पड़ा था। इस दौरान चौंकाने वाले तथ्य मिले। सर्वे में पाया कि 60 फीसदी यानी 785 बच्चों का लगभग 10 % वजन बढ़ गया था।
बच्चों का मनोबल बढ़ाएं, उन्हें खुद से प्यार करना सिखाएं
Corona महामारी के कारण बच्चों पर कई तरह का प्रभाव पड़ा है, लेकिन उनमें से कई दुष्परिणाम अब स्कूल खुलने के बाद सामने आ रहे हैं। कुछ बच्चों में body shaming के केस सामने आ रहे हैं। माता-पिता और शिक्षकों को चाहिए के वे ऐसे बच्चों का मनोबल बढ़ाएं। उन्हें खुद से प्यार करने की सीख दें। उनका डाइट चार्ट बनाए, वजन कम करने वाली एक्टिविटी में शामिल करें।
- रुचि सोनी, असी प्रोफेसर, मनोचिकित्सा विभाग, गांधी मेडिकल कॉलेज

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

अरुणाचल प्रदेश पहुंचे अमित शाह, स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण कर बोले- मोदी सरकार ने दिल्ली व नॉर्थ-ईस्ट के अंतर को खत्म कियाबेटी की 'अवैध' नियुक्ति को लेकर CBI ने बंगाल के मंत्री परेश अधिकारी से तीसरे दिन भी की पूछताछभीषण गर्मी : देश में 140 में से 60 बड़े बांधों का पानी घटा, राजस्थान के भी तीन बांध01 जून से दुर्लभ संधि योग में शुरू होगा राम मंदिर के गर्भगृह का निर्माण, वर्षों बाद बन रहा शुभ मुर्हूतलंदन में राहुल गांधी के दिए बयान पर BJP हमलावर, बोली- 1984 से केरोसिन लेकर घूम रही कांग्रेसमंकीपॉक्स पर WHO की आपात बैठक में अहम खुलासा: यूरोप में अब तक 100 से अधिक मामलों की पुष्टि, जानिए 10 अपडेटJNU कैंपस में एमसीए की छात्रा से रेप, आरोपी छात्र गिरफ्तारकर्नाटक में बड़ा हादसाः बारातियों से भरी गाड़ी पेड़ से टकराई, 7 की मौत, 10 जख्मी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.