scriptBone marrow transplant unit will be built in 4 medical colleges of the | प्रदेश के 4 मेडिकल कॉलेजों में बनेगी बोनमैरो ट्रांसप्लांट यूनिट | Patrika News

प्रदेश के 4 मेडिकल कॉलेजों में बनेगी बोनमैरो ट्रांसप्लांट यूनिट

--------------------
- भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर व रीवा के मेडिकल कॉलेज से होगी शुरूआत
--------------------

भोपाल

Published: April 01, 2022 11:14:14 pm


भोपाल। प्रदेश के चार मेडिकल कॉलेजों में बोनमेरा ट्रांसप्लांट की सुविधा मिलेगी। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि प्रदेश में स्टेम सेल थैरेपी आधारित बोनमैरो ट्रांसप्लांट एवं पीडियाट्रिक कैंसर यूनिट की स्थापना की जा रही है। प्रदेश में चार मेडिकल कॉलेज भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर और रीवा में यह सुविधा प्रारंभ होगी। इन्हें 6 महीने में विकसित किया जाएगा। चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता में बताया कि इन यूनिट्स में बच्चों के जेनेटिक बीमारियां जैसे सिकल सेल एनीमिया, एप्लास्टिक एनीमिया, थैलीसीमिया तथा कैंसर ल्यूकीमिया, मल्टीपल माईलोमा, नॉन हॉजकिन्स लिंफोमा के उपचार के लिए संक्रमित बोनमैरो निकालकर दूसरी बोनमेरो ट्रांसप्लांट हो पाएगी। पहले चरण में गांधी चिकित्सा महाविद्यालय में 06 बिस्तरीय बोनमैरो ट्रांसप्लांट यूनिट और 24 बिस्तरीय पीडियाट्रिक कैंसर यूनिट की स्थापना की जाएगी। इसमें स्वयं के (ऑटोलॉगस) स्टेम सेल ग्राफ्टिंग एवं अन्य व्यक्ति के (एलोजेनिक) बोनमैरो ट्रांसप्लांट किया जाएगा। विश्वास ने बताया कि कैंसर जैसे ल्यूकीमिया, मल्टीपल माईलामा, नॉन हॉजकिन्स लिंफोमा के पीडित मरीजों में उनके ही स्टेम सेल को निकाल कर ऑटोलॉगस स्टेम सेल ट्रांसप्लांट किया जाएगा। पीडि़त मरीज के ही स्टेम सेल को निकाला जाएगा, फिर उसको क्रायो प्रिजर्व किया जाएगा। उसके बाद उसी मरीज में ऑटालॉगस ट्रांसप्लांट जाएगी।
------------------
स्टेम सेल रजिस्ट्री-
मंत्री ने बताया कि भारत सरकार की स्टेम सेल रजिस्ट्री में कोई भी व्यक्ति स्वेच्छा से अपने बोनमैरों को डोनेट करने के लिए स्वयं को रजिस्टर कर सकता है। किसी भी पीडि़त बच्चों के बोनमैरों से मैच होने पर वह अपने बोनमैरो को डोनेट कर सकता है। बोनमैरो ट्रांसप्लांट यूनिट में 06 बिस्तर और पीडियाट्रिक कैंसर यूनिट में 24 बिस्तर शामिल है। इसमें आईसीयू के 06 बिस्तर है। इस यूनिट के द्वारा 01 वर्ष में लगभग 20 बोनमैरो ट्रांसप्लांट करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। अमेरिका-न्यूयार्क के डॉक्टर भी इसमें सहयोग करेंगे।
---------------------------
02_vishvas_sarang_1.png
सीएम राइज विद्यालय में दो दिन बाद प्रवेश प्रकिया शुरू, अब तक एडमिशन को लेकर नहीं आया आदेश,सीएम राइज विद्यालय में दो दिन बाद प्रवेश प्रकिया शुरू, अब तक एडमिशन को लेकर नहीं आया आदेश,

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.