फर्जी FB आईडी से करता था लड़कियों से चैटिंग, फिर हुआ ये...

Deepesh Tiwari

Publish: Sep, 17 2017 04:33:08 (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
फर्जी FB आईडी से करता था लड़कियों से चैटिंग, फिर हुआ ये...

दूसरी युवतियों से चैटिंग के लिए खोजा था तरीका, वाट्सएप ग्रुप से निकाली थी लड़की की फोटो।

भोपाल। फेसबुक के लोगों को धोखा देने समेत ब्लैकमेल करने तक के कई मामले सामने आ चुके हैं। जिसमें कई लोग पकड़े भी जा चुके हैं, इसके बावजूद साइबर क्राइम में कमी नहीं आ रही है। ऐसा ही एक मामला भोपाल में सामने आया है, जहां एक युवक ने अपनी फेसबुक प्रोफाइल का नाम बदलकर किसी ओर युवती का फोटो लगा लिया और उसके बाद अन्य युवतियों से चैटिंग करना शुरू कर दिया।

ये है मामला :
जानकारी के अनुसार खुद की फेसबुक प्रोफाइल का नाम बदलकर उसमें एक छात्रा का फोटो लगाकर लड़कियों और उसकी फ्रेंड से चैटिंग करने वाले एक छात्र को सायबर क्राइम पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी ने छात्रा की फोटो एक वाट्सएप ग्रुप से निकाली थी।

सायबर क्राइम एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान के मुताबिक भोपाल निवासी इंजीनियरिंग की एक छात्रा ने सायबर सेल में शिकायत की थी। इसमें बताया था कि उसकी फेसबुक प्रोफाइल में फोटो नहीं है, जबकि किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसके नाम की फर्जी फेसबुक प्रोफाइल बनाई हुई है। छात्रा का फोटो भी उसमें लगा रखा है। इससे वह छात्रा की फ्रेंड से चैटिंग करता है।

सायबर क्राइम पुलिस ने साक्ष्यों के आधार पर मंडीदीप निवासी संजय पटेल को गिरफ्तार किया। संजय बीए का छात्र है। उसने पूछताछ में बताया कि उसे लड़की की फोटो एक वाट्सएप ग्रुप में मिली थी। उसको छात्रा की फोटो अच्छी लगी तो अपनी फेसबुक प्रोफाइल का नाम छात्रा के नाम से किया और प्रोफाइल में उसकी फोटो लगा दी थी।

इधर, कॉल पर पता चला चली दुल्‍हन की उम्र :-
बाल सुरक्षा समिति के सदस्य द्वारा की गई एक कॉल से 13 साल की बच्ची का 27 साल के युवक के साथ हो रहा विवाह टल गया। समझाइश के बाद बच्ची के परिजनों ने 18 वर्ष की होने पर ही लड़की की शादी करने का भरोसा शपथ पत्र देकर जताया है। घटना ऐशबाग क्षेत्र में शनिवार को हुई।

चाइल्ड लाइन के प्रोजेक्ट अफसर अमरजीत ने बताया कि दोपहर में फोन पर सूचना मिली, कि बाग फरहतआफजा में बाल विवाह हो रहा है। इस आधार पर टीम ऐशबाग पुलिस के साथ मौके पर पहुंची। सबूत के तौर पर आधार कार्ड देखा गया। उसमें लड़की का जन्म वर्ष 2004 दर्ज था।

उधर दूल्हे की उम्र 27 वर्ष थी। चाइल्ड लाइन और पुलिस की संयुक्त समझाइश पर परिवार के लोगों ने अभी निकाह नहीं करने की सहमति जताई। 

आपसी रिश्तेदारी में हो रहे इस रिश्ते में लड़के ने बताया कि उसे भी पता नहीं था,कि लड़की की उम्र इतनी कम है। परिवार के लोगों ने शपथ देकर वादा किया है,कि वे बेटी का निकाह 18 वर्ष की होने पर ही करेंगे। गौरतलब है कि चाइल्ड लाइन ने शहर के विभिन्ना क्षेत्रों में बाल सुरक्षा समिति का गठन किया है। समिति के सदस्य बच्चों के साथ हो रहे किसी भी अन्याय की सूचना तत्काल चाइल्ड लाइन और स्थानीय पुलिस को देते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned