हर व्यक्ति को मुफ्त में वैक्सीन देने का वादा, जानिए संकल्प-पत्र की खास बातें

28 विधानसभा क्षेत्रों का अलग-अलग संकल्प पत्र, जानिए संकल्प-पत्र की खास बातें

By: Manish Gite

Published: 28 Oct 2020, 05:25 PM IST

भोपाल। मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव से पांच दिन पहले भाजपा ने अपना घोषणा पत्र बुधवार को जारी कर दिया। इसे संकल्प पत्र नाम दिया गया है। इसकी खास बात यह है कि 28 विधानसभा क्षेत्रों के हिसाब से इसे अलग-अलग बनाया गया है।

 

मध्यप्रदेश में हो रहे उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही तमाम तरह के वायदे और दावे कर रही है। वोटिंग में पांच दिन शेष रह गए हैं। इससे पहले भाजपा ने बुधवार को अपना संकल्प पत्र (घोषणा पत्र) जारी कर दिया।

 

कोरोना वैक्सीन मुफ्त में देने का वादा

भाजपा ने इस चुनाव के लिए अपने संकल्प पत्र में जो सबसे बड़ी घोषणा की है, इसमें है कोरोना की वैक्सीन। भाजपा ने संकल्प पत्र में लिखा है कि कोरोना की जंग हम साथ लड़ेंगे, प्रदेश के हर व्यक्ति को भाजपा सरकार मुफ्त वैक्सीन उपलब्ध कराएगी।

संकल्प पत्र में क्या-क्या वायदे

-फसल बीमा योजना के साल 2018-19 के 31 लाख किसानों के 6675 करोड़ रुपए जिसका भुगतान कमलनाथ ने रोक रखा था, उसका भुगतान करने वाले के आदेश।
-किसानों को 0% ब्याज पर ऋण योजना फिर से शुरू की।
-सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं के तहत 47,17,000 हितग्राहियों के खातों में 1988 करोड़ रुपए पेंशन जमा की।
-निर्धन बच्चों समेत सभी वर्ग के बच्चों को 523 करोड़ क छात्रवृत्ति दी गई।
-गरीब परिवारों में जन्म से लेकर मृत्यु तक आर्थिक सहायता देने वाली संबल योजना को फिर से शुरू किया।
-पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से जारी की गई नई किसान सम्मान निधि में प्रदेश की ओर से चार हजार रुपए जोड़कर इसे 10,000 करने का फैसला। इससे 77,00,000 किसानों को मिलेगा फायदा।
-राशन कार्ड वाले 37,00,000 गरीब परिवारों को खाद्यान्न पर्ची देकर नियमित राशन शुरू किया।
-चंबल के बीहड़ इलाके में छह हजार करोड़ रुपए की लागत से 310 किलोमीटर लंबे चम्बल प्रोग्रेस-वे का निर्माण।

 

यह भी है खास

मध्यप्रदेश में भी भाजपा ने कोरोना के मुफ्त वैक्सीन का वायदा किया है।
मुख्य पृष्ठ पर प्रत्याशी के साथ ही मुख्यमंत्री, जेपी नड्डा और वीडी शर्मा की तस्वीरें हैं।
-संकल्प पत्र में नारा दिया गया है कि शिवराज है तो विश्वास है।

 

मुख्यमंत्री की बात

वचन पत्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भी वक्त दिया गया है जिसमें उन्होंने कहा है कि 15 माह के लिए हमारा आपका साथ छूटा था, झूठे वादों की बुनियाद पर बनी कांग्रेस सरकार ने गरीबों को बेसहारा कर दिया। ये उपचुनाव उस मानसिकता को जवाब देने का है, जिसने दूध पीती बच्ची का हक छीना, मंडप में बैठी बेटी का हक छीना, किसानों को डिफाल्टर बनाया, वृद्धों की पेंसन छीनी, युवाओं से मक्कारी की, छात्रों को बेसहारा किया और मजदूरों का संबल तक छीन लिया। शिवराज सिंह चौहान के अलावा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के विचार भी इसमें रखे गए हैं।

Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned