भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर, शिवपरी के बाद इंदौर में लगेगा कर्फयू

— इंदौर में कोरोना के 5 पॉजिटिव मरीज़ मिले, 2 की हालत गंभीर


— मुख्यमंत्री शिवराज आज कलेक्टर—कमिश्नर से कोरोना पर करेंगे चर्चा
— इंदौर कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने कहा कि सभी की हालत स्थिर है और वे डॉक्टर्स की निगरानी में

मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर दिन ब दिन बढ़ता जा रहा है। भोपाल, जबलपुर, शिवपुरी और ग्वालियर के बाद अब इंदौर में 5 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इन सभी मरीजों की उम्र 49 से 68 वर्ष के बीच है। इंदौर के 13 सैंपल और आसपास के जिलों के 8 सैंपल जांच के लिए एमजीएम मेडिकल कॉलेज के लैब भेजे गए थे। इनमें से 5 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इनमें से दो मरीजों की हालात ज्यादा गंभीर बताई जा रही है। सरकार आज इंदौर में भी कर्फयू लागू कर सकती है।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज शाम 4 बजे कोरोना संक्रमण के प्रभाव की मैदानी हकीकत जानने के लिए प्रदेश भर के कलेक्टर—कमिश्नर, एसपी—आईजी से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात करेंगे।

सभी को हिदायत दी जाएगी कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देशानुसार प्रदेश में 21 दिन तक लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराया जाए। जहां जरुरत हो कलेक्टर अपने विवेकाधिकार का इस्तेमाल कर तत्काल कर्फयू लगा दें। लोग परेशान न हो इसका भी ध्यान रखा जाए। उन्हें रोजमर्रा का सामान आसानी से मिल सके।
............

घर बैठे देना होगा श्रमिकों को वेतन
श्रम विभाग ने सभी कारखाने और उधोगों को आदेश दिए हैं कि कोरोना संक्रमण के चलते सभी श्रमिकों को घर बैठे उनका वेतन दिया जाए। काम पर न आने वाले श्रमिक को न तो हटाया जा सकेगा न ही उनकी सर्विस ब्रेक की जा सकेगी।
..............

खेतों के मजदूरों को आने की अनुमति
खेतोेें में फसल कटाई के लिए मजदूरों का अनुमति दी जाएगी। वर्तमान में चार जिलों में कर्फयू और अन्य जिलों में लॉक डाउन से सभी जिलों की सीमाएं सील हो गई हैं। ऐसे में खेतों में फसल काटने के लिए मजदूर नहीं मिल रहे हैं। हाल ही में कृषि विभाग ने आदेश जारी कर कहा है कि खेतों में मजदूरी करने वालों को सेनेटाइज्ड कर काम पर जाने दिया जाए।
.....................

इंदौर में मिले 5 पॅाजिटिव

इंदौर शहर में 5 लोगों में कोरोना के वायरस मिले हैं। जांच में इनके नमूने पॉजिटिव मिले हैं। बुधवार सुबह चार बजे इसकी पुष्टि हुई है। इनमें से तीन मरीज बॉम्बे अस्पताल, एक अरिहंत अस्पताल और एक एमवाय अस्पताल में भर्ती हैं। दो मरीज एक ही परिवार के हैं। ये लोग ऋषिकेश घूमने गए थे।

आशंका है ये लोग वहीं संक्रमित हुए। पांच मरीज़ों में से एक रानीपुरा और एक चंदन नगर क्षेत्र का रहने वाला है, जबकि महिला उज्जैन की है। बॉम्बे अस्पताल में एक ही परिवार के दो लोग भर्ती हैं। संक्रमित लोगों में से 4 की कोई फॉरेन हिस्ट्री नहीं है। विभाग पता कर रहा है कि ये किसके संपर्क में आए थे।

बुजु़र्ग हैं सभी मरीज़
इंदौर के चार मरीजों में से एक 68 साल और दूसरे 66 वर्ष के पुरुष हैं, जबकि तीसरी महिला 49 साल की हैं। दोनों पुरुष एक ही परिवार के हैं। इनका बॉम्बे हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है। वहीं, इंदौर के चंदन नगर की रहने वाली 50 साल की महिला का इलाज अरिहंत हॉस्पिटल में चल रहा है, जबकि उज्जैन निवासी महिला का इलाज एमवाय अस्पताल में किया जा रहा है।

harish divekar Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned