मोहंती का चयन अब मुश्किल, बदल गए समीकरण

मोहंती का चयन अब मुश्किल, बदल गए समीकरण

 

jitendra [email protected] भोपाल। पूर्व मुख्य सचिव एसआर मोहंती का अब राज्य विद्युत नियामक आयोग के अध्यक्ष पद पर चयन अटक सकता है। चयन के लिए हाईपॉवर कमेटी की बैठक 23 मार्च को होना है। मोहंती ने विद्युत नियामक आयोग के अध्यक्ष पद के लिए आवेदन भी दिया है। पूर्व में यह बैठक 18 मार्च को होना थी, लेकिन टल गई। अब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिरने और भाजपा की सरकार बनने की बदली परिस्थितियों के कारण मोहंती का चयन अटक सकता है। फिलहाल मोहंती प्रशासन अकादमी के डीजी पद पर हैं। कांग्रेस सरकार उन्हें नियामक आयोग का अध्यक्ष बनाना चाहती थी, लेकिन भाजपा इस पर सहमत नहीं है।

महाधिवक्ता शशांक शेखर ने दिया इस्तीफा

कमलनाथ सरकार के इस्तीफा देने के बाद शुक्रवार शाम को राज्य के महाधिवक्ता शशांक शेखर ने भी इस्तीफा दे दिया। उन्होंने इस्तीफे में सीएम कमलनाथ, मंत्रियों, विवेक तन्खा और पूर्व सीएस एसआर मोहंती का काम में सहयोग के लिए आभार जताया है। शशांक के इस्तीफे के बाद अब नई भाजपा सरकार नए महाधिवक्ता की नियुक्ति करेगी।


रद्द हो जाएगी एमपी-पीएससी की नियुक्तियां, छीनेंगे मंत्री का दर्जा

भाजपा ने सत्ता में आते ही कमलनाथ सरकार की नियुक्तियों पर गाज गिराने का मन बना लिया है। इसके तहत एमपी-पीएससी में सदस्य के तौर पर रामू टेकाम व राशिद सोहेल सिद्दीकी की नियुक्तियों को रद्द किया जाएगा। वहीं विभिन्न आयोगों में बनाए गए अध्यक्ष व सदस्यों से कैबिनेट मंत्री व राज्यमंत्री का दर्जा भी तुरंत छीना जाएगा। इससे इन अध्यक्षों व सदस्यों को मिलने वाली गाड़ी, आवास सहित अन्य सरकारी सुविधाएं छीन जाएंगी।

जीतेन्द्र चौरसिया Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned