scriptClose the schools from 1st to 8th and run online classes | पहली से आठवीं तक के स्कूल बंद कर चलाएं ऑनलाइन क्लास | Patrika News

पहली से आठवीं तक के स्कूल बंद कर चलाएं ऑनलाइन क्लास

पहली से लेकर आठवीं तक के स्कूल को बंद करने की अनुशंसा की है, आयोग का मानना है कि बच्चों की सुरक्षा के लिए अब ऑनलाइन कक्षाएं ही बेहतर विकल्प है।

भोपाल

Updated: January 13, 2022 01:15:20 pm

भोपाल. मध्यप्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए बाल अधिकार संरक्षण आयोग चिंतित हो गया है, आयोग द्वारा कक्षा पहली से लेकर आठवीं तक के स्कूल को बंद करने की अनुशंसा की है, आयोग का मानना है कि बच्चों की सुरक्षा के लिए अब ऑनलाइन कक्षाएं ही बेहतर विकल्प है।

1st.jpg

तीसरी लहर से बचाने आयोग की अनुशंसा
दरअसल, शहर में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है, दूसरी ओर कई स्कूल ऑफलाइन कक्षाएं लगा रहे हैं। इस मामले में अब बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने पहली से आठवीं तक के स्कूल बंद कर ऑनलाइन क्लास संचालित करने की अनुशंसा की है। पत्रिका द्वारा लगातार इस मामले को उठाया जा रहा है। इसे संज्ञान में लेते हुए आयोग ने उक्त अनुशंसा की है। आयोग के सदस्य ब्रजेश चौहान ने बताया कि तीसरी लहर में बच्चे ज्यादा संक्रमित हो रहे हैं। खासकर 0 से 6 साल तक के बच्चों में एंटीबॉडी नहीं होने के कारण संक्रमण का खतरा है।

24 घंटे में 6 की मौत
मध्यप्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर किस रफ्तार से बढ़ रही है, इसका अंदाजा आप सिर्फ आंकड़ों को देखकर ही लगा सकते हैं। जहां चंद दिनोंं पहले 10 से 12 लोग ही कोरोना से संक्रमित हो रहे थे, वहीं अब एक-एक दिन में तीन से साढ़े तीन हजार लोग संक्रमित हो रहे हैं। मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 6 लोगों की मौत हो गई है, इस प्रकार मौत का आंकड़ा भी बढ़कर 10540 हो गया है।

जबलपुर, ग्वालियर और विदिशा में मौत
एमपी के तीन बड़े शहरों में कोरोना से मौत के आंकड़े भी आए हैं, जबलपुर में कोरोना के कारण तीन, ग्वालियर में दो और विदिशा में एक व्यक्ति की मौत हो गई है, इस प्रकार पिछले 24 घंटे में कोरोना से करीब छह लोगों की मौत हो गई है। आश्चर्य की बात तो यह है ग्वालियर में जिस महिला की मौत हुई है, उसने दो दिन पहले ही बेटे को जन्म दिया था।

यह भी पढ़ें : खतरनाक आनलाइन गेम पर रोक लगाने ड्राफ्ट तैयार, जल्द बनेगा कानून


कवर्ड कैंपस में भी कोरोना
कोरोना की दस्तक अब उन स्थानों पर भी पहुंचने लगी है, जहां लोग चारदीवारी के अंदर ही रहते हैं, शहर के होशंगाबाद रोड जाटखेड़ी में एक परिवार की दो जुड़वा बेटियों को कोरोना पॉजिटिव आया है, ये दोनों बहनें महज 8 माह की है, उनके साथ ही परिवार को भी होम आइसोलेट किया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

क्या सच में बुझा दी गई अमर जवान ज्योति? केंद्र सरकार ने दिया जवाबVideo: बॉम्बे हाई कोर्ट के जज के चैंबर में मिला 5 फीट लंबा सांप, वन विभाग की टीम ने किया रेस्क्यूदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारUP Assembly Elections 2022 : एकाएक राजनीति में उतरकर इन महिलाओं ने सबको चौंकाया, बटोरी सुर्खियांभारत के इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में Adani Group की हो सकती है धमाकेदार एंट्री, कंपनी ने ट्रेडमार्क किया दायरशहीद हेमू कालाणी: आज भी हैं युवा वर्ग के लिए आदर्शपश्चिम बंगाल में टीबी के मरीजों की संख्या पहले से तीन गुना अधिकअब राजसमंद संसदीय क्षेत्र में होगा कई ट्रेनों का ठहराव, दीया कुमारी कर रही थी डिमांड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.