कोरोना असर, मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को राज्य के ताजा हालात की दी जानकारी

इस मुलाकात के दौरान उन्होंने प्रदेश में कोरोना की स्थिति और नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी।

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को राजभवन पहुंचकर राज्यपाल लाल जी टंडन से मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान उन्होंने प्रदेश में कोरोना की स्थिति और नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने बताया कि कोरोना वायरस से निपटना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। लोगों को इलाज की समुचित व्यवस्था है।

लॉक डाउन के दौरान खाद्य सामग्री, दवाइयों एवं अन्य सामग्री लाने-ले-जाने वाले वाहनों पर कोई रोक नहीं है। दवाओं और किराना दुकानों के खुलने पर कोई रोक नहीं है। राज्यपाल ने सरकार की ओर किए जा रहे प्रयासों पर संतोष जताया। साथ ही कहा कि सरकार सजग होकर काम करे।

वीडियो कांफ्रेंसिंग से की चर्चा -
राज्यपाल से मुलाकात के पहले मुख्यमंत्री चौहान ने मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी जिलों के सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों और राजनीतिक प्रतिनिधियों, प्रशासन के अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने कहा कि वर्तमान में कोरोना महामारी का संकट बड़ा है, पर हमारा हौसला उससे भी बड़ा है। कोरोना वायरस के संकट को समाप्त करना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इस संकट से निपटने में सरकार कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी। लोगों की मदद करने के लिये सरकार के साथ समाज भी आगे आया है। स्वयं सेवी संगठन, धार्मिक संगठन, औद्योगिक इकाइयां आदि मदद के लिए आए हैं। यह प्रसन्नता की बात है। सभी कलेक्टर इनसे समन्वय कर जनता की मदद का कार्य अनवरत जारी रखें।

खाद्य सामग्री के वाहनों पर रोक नहीं -
मुख्यमंत्री ने बताया कि खाद्य सामग्री, दवाइयों एवं अन्य सामग्री लाने-ले-जाने वाले वाहनों पर कोई रोक नहीं है। उन्होंने निर्देश दिए कि दवाओं और किराना दुकानों के खुलने पर कोई रोक नहीं है। चाहे ग्राम हो या शहर, कलेक्टर इनका खुलना सुनिश्चित करें। कोरोना के लिए दी जाने वाली सहायता मुख्यमंत्री राहत कोष में दें।

दीपेश अवस्थी Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned