PM के प्रदेश दौरे पर कमलनाथ का जवाब, कहा - 5 साल का हिसाब नहीं दिया मोदी ने

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खंडवा और इंदौर की सभा में दिए गए संबोधन पर पलटवार किया है।

By: KRISHNAKANT SHUKLA

Published: 13 May 2019, 10:09 AM IST

भोपाल. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खंडवा और इंदौर की सभा में दिए गए संबोधन पर पलटवार किया है। कमलनाथ ने कहा कि आपने सही कहा यह चुनाव नगर निगम के मुद्दों का नहीं बल्कि देश का चुनाव है। आपके पांच वर्ष पूर्व किए गए वादों का हिसाब-किताब देने का चुनाव है। उसके आधार पर आपके कामों के आकलन का चुनाव है।

कमलनाथ ने कहा कि यह पाकिस्तान का चुनाव नहीं है। आप आतंकवाद की बात खूब करें, राष्ट्रवाद की बात भी करें, लेकिन साथ में आपने पांच साल पहले दो करोड़ रोजगार देने, अच्छे दिन लाने, महंगाई कम करने और हर खाते में 15 लाख डालने की बात कही थी उस पर भी तो कुछ बोलिए। राजेंद्र माथुर, प्रभाष जोशी जैसे वरिष्ठ पत्रकारों के शहर इंदौर में मीडिया की निष्पक्षता पर सवाल उठाकर मोदी ने लोकतंत्र के चौथे स्तंभ का अपमान किया है।

उनको माफी मांगनी चाहिए। भाषण में सुमित्रा महाजन के सम्मान की बातें कीं, लेकिन उनके साथ हुआ अन्याय किसी से छिपा नहीं है। मोदी ने ठान लिया है कि मध्यप्रदेश के बारे में झूठ बोलकर बदनाम करना है इसलिए कर्ज माफी व बिजली पर वे झूठ परोस गए। प्रदेश में बिजली सरप्लस है और 21 लाख किसानों का कर्ज माफ हो चुका है।

कर्जमाफी पर लड़ाई लडऩे की चेतावनी
गांव में घुसना भूल जाएंगे मंत्री-मुख्यमंत्री : शिवराज

बड़वानी/खरगोन में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को खरगोन संसदीय क्षेत्र की सभाओं में कहा कि कमलनाथ बोलते हैं कर्जा माफ हो गया। मैं बोलता हूं झूठ बोल रहे हैं। मैं कर्जमाफी की ऐसी लड़ाई लड़ूंगा कि मंत्री-मुख्यमंत्री गांव में घुसना भूल जाएंगे। हम सत्ता में थे, तो प्रदेश को विकास की राह पर आगे ले गए। कांग्रेस के साढ़े चार महीने में प्रदेश की बिगाड़ दी।

शिवराज ने कहा कि मामा होता तो कितनी बार किसानों के खाते में पैसे डाल देता। विधानसभा चुनाव में ठगाने के बाद मामा की याद आ रही है कि नहीं। उन्होंने कहा कि कमलनाथ वोट डालने गए थे तो बिजली चली गई थी। नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनेंगे तो कमलनाथ सरकार की अकल ठिकाने लग जाएगी। शिवराज ने चेतावनी दी कि मुझे कमजोर मत समझना।

दुबला-पतला जरूर हूं पर कांग्रेस की सरकार से लडऩे में मजबूत हूं। टाइगर अभी जिंदा है। पहले कलम की ताकत से काम करते थे, अब लडकऱ करेंगे। दिल्ली नहीं जाऊंगा, मध्यप्रदेश में ही कमलनाथ की छाती पर मूंग दलूंगा। शिवराज ने कहा कि दिग्विजय सिंह को कांग्रेस सरकार के अफसरों पर भरोसा नहीं है। उन्हें डर था कि वो राजगढ़ वोट डालने गए तो इतनी देर में भोपाल में गड़बड़ कर दी जाएगी।

 

Kamal Nath pm modi
KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned