scriptcm shivraj singh | नए वैरिएंट से जनता को बचाएंगे – मुख्यमंत्री | Patrika News

नए वैरिएंट से जनता को बचाएंगे – मुख्यमंत्री

हमीदिया अस्पताल के निरीक्षण के साथ प्रदेश की जनता को दिया सजग रहने का संदेश
ऑक्सीजन प्लांट एवं अन्य उपकरणों को परखा
प्रदेश सरकार ओमिक्रॉन संक्रमण को रोकने के लिए संकल्पबद्ध

भोपाल

Published: December 31, 2021 08:16:27 pm



भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश के नागरिकों को कोविड के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से सुरक्षित करने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिर्फ मध्यप्रदेश बल्कि देश में इस वैरिएंट ने दस्तक दे दी। हर राज्य में ओमिक्रॉन से संक्रमित नागरिकों की संख्या सामने आ रही है। मध्यप्रदेश में भी 77 प्रकरण पॉजिटिव आए हैं। इनमें सर्वाधिक इंदौर में हैं। हम समय रहते सारी व्यवस्थाएँ कर रहे हैं ताकि हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार रहें। साथ ही यह भी जरूरी है कि आमजन सभी सावधानियों का पालन कर सजग रहें। फेस मॉस्क के उपयोग, परस्पर दूरी जैसी सावधानियों का पूरा ध्यान रखा जाए। मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि इस समय प्रदेश में विभिन्न शासकीय और निजी अस्पतालों में करीब 60 हजार ‍बिस्तर क्षमता उपलब्ध है। कोविड केयर सेंटर भी तैयार रखने के निर्देश दिए गए है।
shivraj singh chauhan
shivraj singh chauhan
मुख्यमंत्री चौहान ने भोपाल के हमीदिया अस्पताल के विभिन्न वार्डों का निरीक्षण करने के बाद प्रदेश की जनता के नाम संदेश दिया। उन्होंने ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ओमिक्रान संक्रमण को रोकने के लिए संकल्पबद्ध है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उन्होंने राजधानी के सबसे बड़े अस्पताल के निरीक्षण के साथ ही पूरे प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य और उपचार सुविधाओं के लिए वे स्वयं निरंतर समीक्षा कर रहे है, यह क्रम आगे भी जारी रहेगा।
आवश्यकता के अनुसार हो ऑक्सीजन उपयोग

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि ऑक्सीजन की आवश्यकता का आकलन कर आवश्यक व्यवस्थाएँ की गई हैं। ऑक्सीजन के उपयोग का ऑडिट भी अब किया जाएगा ताकि अनावश्यक ऑक्सीजन की खपत न हो। आम जनता के साथ मिलकर पूरी ताकत से ओमिक्रॉन का मुकाबला किया जाएगा।
वैरिएंट स्वरूप न बदले, हम सब रहें सजग

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में सभी अस्पतालों में आवश्यक व्यवस्थाओं के निरीक्षण के निर्देश दिए गए हैं। पर्याप्त औषधियों की व्यवस्था के लिए भी कहा गया है। संक्रमण की स्थिति की प्रतिदिन समीक्षा की जा रही है। वैरिएंट के स्वरूप बदलने की आशंका को ध्यान में रखकर रोगी संख्या बढ़ने और उनके उपचार के लिए जरूरी व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए आवश्यक कार्य सम्पन्न किए जा रहे हैं। हम सभी को सजग बने रहना है।
डॉक्टर्स और स्टाफ से किया आव्हान

मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेश के सभी डॉक्टर्स और पैरामेडिकल स्टाफ का आव्हान किया कि वे एक बार फिर कर्त्तव्य निर्वहन के लिए तत्पर रहें। यह परीक्षा की घड़ी है, हम सभी को मिलकर जनता को संकट से बाहर सुरक्षित ढंग से निकालकर लाना है।
वैक्सीनेशन कार्य को मिली है गति

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश वैक्सीनेशन के कार्य में गतिशील है। प्रदेश के करीब सवा पाँच करोड़ लोगों को प्रथम और करीब पाँच करोड़ लोगों को वैक्सीन का दूसरा डोज़ लग चुका है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों को मुफ्त वैक्सीन उपलब्ध करवाकर सभी के स्वास्थ्य की सुरक्षा सुनिश्चित की है। अब 15 से 18 वर्ष के बच्चों और 60 वर्ष से अधिक आयु के रोगग्रस्त नागरिकों को टीका लगाने का कार्य प्रारंभ हो रहा है। प्रदेश के विद्यालयों में बच्चों के लिए टीकाकरण केन्द्र संचालित होंगे। इसके लिए भी स्वास्थ्य कर्मियों को आवश्यक प्रशिक्षण देने का कार्य हुआ है। व्यवस्थाओं पर नजर रखते हुए हम सभी को सजग और सक्रिय रहना है।
सावधानियों के साथ मनाएँ नववर्ष

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि नए साल का उत्सव भीड़ से बचते हुए मनाया जाए। नवीन वर्ष के उत्साह में सावधानी खत्म नहीं करना है। इससे हम संक्रमण के खतरे को नियंत्रित करने में सफल हो जाते हैं।
हमीदिया अस्पताल में बढ़ रही हैं सुविधाएँ

मुख्यमंत्री चौहान ने अस्पताल के नवीन भवन में हाई डेफिशियेन्सी यूनिट का निरीक्षण किया। बच्चों की इस इकाई में 30 बिस्तर की व्यवस्था है। उन्होंने एस.एन.सी.यू. पीडियाट्रिक्स वार्ड और आई.सी.यू. वार्ड का भी निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सामान्य बेड, ऑक्सीजन बेड, आई.सी.यू. बेड, आवश्यक चिकित्सा उपकरणों की उपलब्धता और उनके सही तरीके से कार्य करने के संबंध में जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री चौहान ने इसके पूर्व अस्पताल परिसर में निर्मित 35 मीट्रिक टन की रोजाना क्षमता वाले ऑक्सीजन संयंत्र का भी निरीक्षण किया।
वर्तमान में अस्पताल में उपलब्ध सुविधाओं का निरंतर विस्तार हो रहा है। कुल 1498 बिस्तर क्षमता के बहुमंजिलें अस्पताल की परियोजना में अस्पताल भवन क्रमांक एक और दो के साथ ही छात्रावास भवन, बहुमंजिला पार्किंग, नर्सिंग कॉलेज-सह-छात्रावास भवन आदि के कार्य शामिल हैं। अस्पताल भवन क्रमांक-एक में 93 प्रतिशत कार्य पूरे हो गए हैं। कुछ फर्नीचर कार्य अभी बाकी हैं। अस्पताल भवन क्रमांक-दो में सभी कार्य पूर्ण हो गए हैं। बाह्य विकास कार्य भी 90 प्रतिशत पूर्ण हो गए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: आज इंडिया गेट पर सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का PM Modi करेंगे लोकार्पणदिल्ली में जनवरी में बारिश का पिछले 32 साल का रिकॉर्ड ध्वस्त, ठंड से छूटी कंपकंपी, एयर क्वालिटी में सुधारCovid-19 Update: भारत में कोरोना के 3.37 लाख नए मामले, मौत के आंकड़ों ने तोड़े सारे रिकॉर्डUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारU19 World Cup: कौन है 19 साल का लड़का Raj Bawa? जिसने शिखर धवन को पछाड़ रचा इतिहासAjmer Urs : 1 फरवरी को उतरेगा संदल, 2 को खुलेगा जन्नती दरवाजाUP Top News: उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग शिक्षक पात्रता परीक्षा आज, दो पालियों में परीक्षासरदार पटेल के बाद बीजेपी का फोकस अब सुभाषचंद BOSE पर, मनाएंगे पराक्रम दिवस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.