scriptcm shivraj singh unhappy on the alirajpur DEO | CM शिवराज के दिखे तीखे तेवर, समीक्षा बैठक में ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने के आदेश दिए | Patrika News

CM शिवराज के दिखे तीखे तेवर, समीक्षा बैठक में ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने के आदेश दिए

- CM आलीराजपुर डीईओ पर बरसे, स्कूल भवन न बनाने पर ठेकेदार को किया ब्लैक लिस्टेड

भोपाल

Published: June 09, 2022 10:18:47 am

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह ने शिक्षा की कार्ययोजना तैयार न करने और स्कूल भवन नहीं बनने पर आलीराजपुर जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने पीडब्ल्यूडी पीएस नीरज मंडलोई को कॉन्फ्रेंस से जुड़वाया और ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने के आदेश दिए। शिवराज ने कहा, वर्ष 2016 में स्वीकृत कार्य 2022 तक भी न होना कष्टप्रद है।

cm_shivraj_1.png

सीएम हाउस में बुधवार सुबह 6.30 बजे वर्चुअल समीक्षा में शिवराज ने आलीराजपुर के 5 कन्या शिक्षा परिसर के निर्माण में देरी पर नाराजगी जताई। इसके बाद ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड कर दिया गया। शिवराज ने वन विभाग की स्वीकृति नहीं मिलने से तीन सड़क के लंबित निर्माण पर आपत्ति दर्ज की।

बोले, जिलास्तर पर निर्माण एजेंसियों तथा संबंधित विभागों के बीच समन्वय बनाएं। हम 21वीं सदी में रह रहे हैं। कार्य लंबित होने से लागत बढ़ती है। लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

इसके अलावा बुधवार को सीएम शिवराज ने वन विभाग की स्वीकृति नहीं मिलने के कारण लंबित तीन सड़कों के निर्माण पर नाराजगी जताते हुए कहा कि जिला स्तर पर निर्माण एजेंसियों तथा अन्य संबंधित विभागों के बीच समन्वय होना चाहिए। हम 21वीं सदी में रह रहे हैं, एजेंसियों इसके अनुरूप काम करें। काम लंबित होने से लागत भी बढ़ती है।

आलीराजपुर से होने वाले पलायन को लेकर उन्होंने कहा कि जनता का जीवनस्तर सुधारने के लिए योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। जो योजनाएं और विकास गतिविधियां पहले से संचालित हो रही हैं, वे आदर्श आचार संहिता से प्रभावित नहीं हांेगी। सीएम हेल्पलाइन, आवास प्लस में 89 प्रतिशत आवासों की स्वीकृति जारी कर प्रदेश में प्रथम स्थान पर रहने और गौरव दिवस पर लाडली लक्ष्मी क्रिकेट प्रीमियम लीग मैच का आयोजन की प्रशंसा की।

स्कूल चलें अभियान में बाधा न बने चुनाव
शिवराज ने कहा, स्कूल चलें अभियान को जनअभियान बनाया जाए। ऐसा न हो कि चुनाव इसमें बाधा बने। बच्चों की पढ़ाई और नामांकन जरूरी है। जनकल्याण के कामों में भी तेजी लाई जाए।

बोले- गरीबी और पलायन आलीराजपुर जिले की मुख्य समस्याएं हैं। जो योजनाएं पहले से संचालित हो रही हैं, वे आदर्श आचार संहिता से प्रभावित नहीं होनी चाहिए।

ऐसे समझें मामला
दरअसल छह साल पहले आलीराजपुर जिले में पांच कन्या शिक्षा परिसर का निर्माण कार्य स्वीकृत किया गया था लेकिन यह अब तक पूरा नहीं हुआ है। इसे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कष्टप्रद बताते हुए लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव नीरज मंडलोई को वीडियो काफ्रेंसिंग से जोड़ने के निर्देश दिए और फिर उन्हें संबंधित ठेकेदार को ब्लेक लिस्ट कर संबंधित इंजीनियरों के विरुद्ध कार्रवाई करने के लिए कहा। साथ ही जो शिक्षक अपनी ड्यूटी ठीक से नहीं कर रहे हैं, उन्हें समझाने और फिर भी अनुशासित तरीके से काम नहीं करने पर सेवा समाप्त करने के निर्देश दिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम, देवेंद्र फडणवीस ने किया ऐलानMaharashtra: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के नए सीएम, आज शाम होगा शपथ ग्रहण समारोहAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: एकनाथ शिंदे ने कहा- 50 विधायकों का भरोसा कभी टूटने नहीं दूंगाMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.