scriptcold wave and rainfall alert | Weather Update : कड़ाके की ठंड के बीच होगी बारिश, इन जिलों में शीतलहर | Patrika News

Weather Update : कड़ाके की ठंड के बीच होगी बारिश, इन जिलों में शीतलहर

शीतलहर के बीच कई जिलों में बारिश की संभावना...। उत्तर भारत में बर्फबारी से पड़ रही है तेज ठंड...।

भोपाल

Updated: January 13, 2022 07:01:05 pm

भोपाल। उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फ बारी के कारण बर्फीली हवाओं से मैदानी इलाकों में ठंड आफत बन रही है। ठंड से आम जनजीवन प्रभावित हो गया है। लोग घरों से निकलने में भी परहेज कर रहे हैं। प्रदेश के कई जिलों में शीतलहर चल रही है। नौगांव में सबसे कम तापमान 5 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में कई स्थानों पर कड़ाके की ठंड की चेतावनी भी जारी की है।

rain.jpg
,,
weather1.png

प्रदेश में ठंड के चलते पहले से ही जनजीवन प्रभावित है। इस बीच गुरुवार को मौसम विभाग ने एक बार फिर यलो अलर्ट जारी कर चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग की चेतावनी के मुताबिक प्रदेश के धार, रतलाम और रतलाम जिलों में शीतलहर चलने की संभावना है। जबकि सिवनी, बैतूल, इंदौर, धार, खंडवा, खरगौन, शाजापुर, रतलाम, उज्जैन, दतिया, गुना और श्योपुरकलां जिलों में तीव्र शीतल दिन रहने की संभावना है।

imdnew.jpg

मौसम विभाग ने कोहरे की भी संभावना जताी है। यह कोहरा उत्तर भारत की सीमा से लगे ग्वालियर, चंबल संभागों के साथ ही शाजापुर, उज्जैन, रतलाम, नीमच, मंदसौर, बालाघाट, टीकमगढ़, छतरपुर और सागर जिले में रहने की संभावना है। गुरुवार सुबह भी उत्तर भारत से लगे जिलों में कोहरा छाया रहा। विजिबिलिटी भी काफी कम रही। इस कारण कई दुर्घटनाओं के सभी समाचार मिले हैं।

पिछले 24 घंटे कैसे बीते

मौसम विभाग के पास जो आंकड़े आए हैं, उसके मुताबिक प्रदेश के शहडोल एवं जबलपुर संभागों के जिलों में कही-कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई है। उज्जैन, चंबल, सागर एवं ग्वालियर संभागों में हल्के से मध्यम स्तर का कोहरा छाया रहा, जबकि कहीं-कहीं घना कोहरा भी था। सिवनी, बैतूल, खंडवा, खरगौन और उज्जैन में तीव्र शीतल दिन तथा दमोह, खंडवा, खरगौन, दतिया, रतलाम एवं शाजापुर में शीतल दिन रहा।

cold.png

क्या कहते हैं विशेषज्ञ

  • मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक मध्य प्रदेश के पूर्वी हिस्सों (रीवा, सागर एवं शहडोल संभागों) में न्यूनतम तापमान में 3-4 डिग्री की गिरावट आई है।
  • मध्यप्रदेश में 20 जनवरी, 2022 तक शुष्क मौसम बने रहने की संभावना है।
  • 2 दिनों में कई इलाकों में शीतल दिन की संभावना है।
  • 3 दिनों के दौरान पश्चिमी मध्य प्रदेश में शीत लहर की स्थिति रहेगी।

 

क्यों हो रहा है ऐसा

मौसम वैज्ञानिक शैलेंद्र नायक के मुताबिक एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ को जिसे ऊपरी क्षोभमंडल स्तरों में एक ट्रफ के रूप में देखा जा रहा है, 72°पूर्वी देशांतर के साथ 32°उत्तरी अक्षांश के उत्तर में चलायमान है। एक ट्रफ रेखा उत्तरी आंतरिक कर्नाटक से निचले क्षोभमंडल स्तरों में उत्तर आंतरिक ओडिशा तक चलायमान है। निचले क्षोभमंडल स्तरों में दक्षिण कोंकण के ऊपर एक चक्रवाती परिसंचरण बना हुआ है।

यह है संभावना

  • 16 जनवरी 2022 को पहले पश्चिमी विक्षोभ के कारण उत्तर पश्चिम भारत में 16 एवं 17 जनवरी 2022 को कुछ स्थानों पर बारिश की संभावना।
  • 16 जनवरी 2022 को दूसरे पश्चिमी विक्षोभ के कारण पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में 16 एवं 17 जनवरी 2022 को अनेक स्थानों पर दो तीन दिनों तक बारिश की संभावना रहेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजसीएम बड़ा फैसला : स्कूल-होस्टल रहेंगे बंद, घर से ही होगी प्री बोर्ड परीक्षाGuwahati-Bikaner Express derailed:हादसे में अब तक 9 की मौत, जानें इस हादसे से जुड़ी अहम बातेंRajasthan-Gujarat :के लिए अब एक और नया हाइवेतीसरी लहर का खतरनाक ट्रेंड, डाक्टर्स ने बताए संक्रमण के ये खास लक्षणInd vs SA: चेतेश्वर पुजारा कर बैठे बड़ी भूल, कीगन पीटरसन को दिया जीवनदान; हुए ट्रोल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.