scriptConfusion over how to administer corona vaccine to children | बच्चों को वैक्सीन लगाए जाने के तरीके को लेकर कंफ्यूजन, अब है गाइडलाइन का इंतजार | Patrika News

बच्चों को वैक्सीन लगाए जाने के तरीके को लेकर कंफ्यूजन, अब है गाइडलाइन का इंतजार


345 दिन में 4.92 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की दोनों खुराक दी गईं .....

भोपाल

Published: December 27, 2021 12:56:51 pm

भोपाल। मध्यप्रदेश में 345 दिनों के भीतर 4.92 करोड़ लोगों को वैक्सीन की दोनों खुराक दी जा चुकी हैं। पहले दूसरे डोज में करीब 27 लाख का अंतर है, जो 16 जनवरी तक पूरा होने की संभावना जताई जा रही है। प्रदेश में टीकाकरण की शुरुआत 16 जनवरी 2021 से की गई थी। अब तक कुल 10.13 करोड़ डोज लगाए जा चुके हैं। अब 15 से 18 वर्ष के किशोर-किशोरियों का टीकाकरण 3 जनवरी से होगा। फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्रिकॉशन दिया जाएगा। राज्य को इसके लिए केन्द्र सरकार की गाइडलाइन का इंतजार है। नोडल ऑफिसर संतोष शुक्ला का कहना है कि अभी केन्द्र सरकार की ओर से गाइडलाइन नहीं आई है। न ही इन बच्चों के आंकड़े बुलाए गए हैं।

106972922-16364848332021-11-09t022042z_1695323709_rc2mqq9lkjul_rtrmadp_0_health-coronavirus-usa-children.jpeg
vaccine

असमंजस की स्थिति

बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाए जाने के तरीके को लेकर असमंजस है। घोषणा करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने यह साफ नहीं किया है कि वैक्सीन कैसे लगेगी। रजिस्ट्रेशन आदि की क्या प्रक्रिया होगी।

टीकाकरण की अनिवार्यता

राज्य सरकार ने सभी को वैक्सीन के दोनों डोज लगाने और कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए सरकारी कार्यालयों, सार्वजनिक कार्यक्रमों, समारोह, मॉल, यात्रा, बड़े धार्मिक स्थलों पर वैक्सीन का प्रमाण-पत्र अनिवार्य किया है। इससे वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ने की संभावना है।

पीएम ने किया था ऐलान

कोविड-19 की तीसरी लहर की आशंकाओं और वायरस के नए स्वरूप ओमिक्रॉन के देश में बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को घोषणा की कि अगले साल तीन जनवरी से 15 से 18 साल की आयु के बीच के किशोरों के लिये टीकाकरण अभियान आरंभ किया जाएगा.साथ ही उन्होंने कहा कि 10 जनवरी से स्वास्थ्य व अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मियों, अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित 60 वर्ष की आयु से ऊपर के लोगों को चिकित्सकों की सलाह पर एहतियात के तौर पर टीकों की खुराक दिए जाने की शुरुआत की जाएगी. हालांकि उन्होंने ‘‘बूस्टर डोज’’ का जिक्र ना करते हुए, इसे ‘‘प्रीकॉशन डोज’’ (एहतियाती खुराक) का नाम दिया.

प्रधानमंत्री ने यह रेखांकित किया कि वह क्रिसमस के अवसर पर देश के लोगों के साथ महत्वपूर्ण निर्णय साझा कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘15 साल से 18 साल की आयु के बीच के जो बच्चे हैं अब उनके लिए देश में टीकाकरण आरंभ होगा. वर्ष 2022 में तीन जनवरी को इसकी शुरुआत की जाएगी.’’उन्होंने कहा कि यह फैसला कोरोना वायरस के खिलाफ देश की लड़ाई को तो मजबूत करेगा ही, स्कूल और कॉलेजों में जा रहे बच्चों की और उनके माता-पिता की चिंता भी कम करेगा.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.