कांग्रेस ने नए कवर में पेश किया पुराना वचन पत्र

कर्ज माफ और बिजली बिल हाफ पर ही भरोसा

सिंधिया से मुकाबले के लिए रानी लक्ष्मीबाई को जगह
वचन पत्र में राहुल गांधी की वापसी, साथ में प्रियंका भी

 

By: Arun Tiwari

Published: 17 Oct 2020, 04:59 PM IST

भोपाल : कांग्रेस ने उपचुनाव के लिए अपना वचन पत्र जारी कर दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह और सुरेश पचौरी ने इसका विमोचन किया। कांग्रेस ने मुख्य वचन पत्र के अलावा 28 विधानसभा क्षेत्रों के लिए अलग-अलग वचन पत्र भी तैयार किए हैं। इस वचन पत्र में वे सभी योजनाएं शामिल हैं जिनके सहारे 2018 में कांग्रेस ने सत्ता का रास्ता तय किया था। किसान कर्ज माफी, बिजली बिल हाफ, 100 रुपए में 100 यूनिट बिजली के साथ ही शुद्ध का युद्ध जैसे बड़े अभियानों के साथ कोरोना को भी मुद्दा बनाया गया है।

वचन पत्र में 52 बिंदु शामिल किए गए हैं। कोरोना से मौत होने वाले व्यक्ति के परिवार को रोजगार से जोडऩे और पेंशन देने की बात भी की गई है। ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुकाबले के लिए कांग्रेस ने खासतौर पर रानी लक्ष्मीबाई के नाम पर सम्मान और उनकी स्मृति को स्थायी बनाने का वचन भी दिया है। इसके अलावा ग्वालियर-चंबल क्षेत्र के लिए उद्योग लगाने समेत कई वचन दिए गए हैं। वचन पत्र में कांग्रेस नेता राहुल गांधी की तस्वीर वापस आ गई है। राहुल के साथ प्रियंका,सोनिया और इंदिरा गांधी की तस्वीर भी लगाई गई है। कांग्रेस ने वचन पत्र में वे मुद्दे भी शामिल किए हैं जिनको पूरा करने का दावा किया जा रहा है।

ये हैं वचन पत्र के प्रमुख बिंदु :
- बचे हुए किसानों की कर्ज माफी
- किसानों का बिजली बिल हाफ और घरेलू उपभोक्ताओं को 100 रुपए में 100 यूनिट बिजली
- केंद्र के किसान विरोधी कानून को प्रदेश में लागू नहीं किया जाएगा।
- समर्थन मूल्य पर खरीदी जाएगी फसल
- गौ धन सेवा योजना शुरु होगी
- शुद्ध के लिए युद्ध अभियान शुरु होगा
- सामाजिक सुरक्षा पेंशन की राशि 800 से 1000 तक बढ़ाएंगे।
- कोरोना से मुखिया की मौत पर पीडि़ता को पेंशन देंगे। एक सदस्य को रोजगार से जोड़ेंगे।
- कन्या विवाह की राशि फिर से 51 हजार रुपए की जाएगी।
- लक्ष्मीबाई,दुर्गावती,अवंती बाई और अहिल्या बाई के नाम पर एक-एक लाख के पुरस्कार दिए जाएंगे।
- बेरोजगार युवाओं के लिए प्रतियोगी परीक्षा की फीस सरकार भरेगी।
- निजी सुरक्षा गार्ड को बंदूक का लायसेंस दिया जाएगा।
- ग्वालियर-चंबल के हर जिले में पुलिस स्कूल खोला जाएगा।
- कोरोना से प्रभावित छोटे व्यापारियों को 50 हजार रुपए का कर्ज बिना ब्याज के दिया जाएगा।
- जल का अधिकार और आवास का अधिकार कानून बनाएंगे।
- माफिया मुक्त प्रदेश अभियान चलाया जाएगा।

- वृहद चंबल महोत्सव का आयोजन हर साल होगा।
- सरकारी कर्मचारियों को डीए और वेतनवृद्धि तत्काल देंगे।
- अतिथि विद्वानों,अतिथि शिक्षकों समेत सभी कर्मचारियों की मांगों का निराकरण।
- फॉरेस्ट गार्ड का पदनाम फॉरेस्ट विलेज ऑफिसर होगा।

शिवराज के चंगुल में नहीं फंसेगी जनता,उपचुनाव होंगे तमाचा :
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हमने 974 में से 574 वचन पूरे किए हैं। हमें किसी से माफी मांगने या सफाई देने की जरुरत नहीं है। हमने वचन पत्र के जरिए अगले तीन साल का रोडमैप बताया है। पूरा प्रदेश जानता है कि किस प्रकार सौदेबाजी से कांग्रेस की सरकार गिरायी गयी। अपने 15 वर्ष का हिसाब देने को भाजपा तैयार नहीं है। शिवराज जी मुझ पर मिस्टर 15 परसेंट के आरोप लगा रहे हैं , वे खुद तो 115 परसेंट हंै। वे यह भी बता दें कि पिछले 40 साल से वो चुप क्यों थे। भाजपा तो पिछले 7 माह से चुनाव लड़ रही है ,हम तो अभी चार-पांच दिन से ही चुनाव के लिए मैदान में आए हैं। चार-पांच दिन में ही भाजपा और उसके नेता बौखला गए हैं ,अभी तो भाजपा को और शिवराज को 15 दिन और काटना है। शिवराज जी के पास बताने को कोई ठोस उपलब्धि नहीं है , ना अपने 15 वर्ष की और ना वर्तमान 7 माह की , इसीलिए प्रदेश की जनता को गुमराह करने के लिए मुद्दों से भटकाने का काम कर रहे हैं। बुनियादी मुद्दों से हटकर कभी पाकिस्तान तो कभी चीन की बात करने लगते हैं भाजपा नेता। यह प्रशासकीय तंत्र के भरोसे चुनाव लडऩा चाहते हैं , तमाम हथकंडे अपना रहे हैं। इनके कई प्रत्याशियों को जनता चुनाव क्षेत्रों से भगा रही है। एक प्रश्न के जवाब में कहा कि मैं स्टार नहीं , मैं तो सिर्फ कमलनाथ हूं , स्टार तो शिवराज है , इसीलिए तो मैं उन्हें कहता हूं कि मुंबई जाकर उन्हें एक्टिंग करना चाहिए। हम व्यापम, ई टेंडर और तमाम भाजपा सरकार के घोटालों की जांच करा रहे थे इसीलिए तो उससे डर कर हमारी सरकार बीच में ही गिरा दी गई। संख्या गणित पर कमलनाथ ने कहा कि आप चिंता मत कीजिए मुझे सब पता है कि हमारी संख्या कितनी है और कितनी चाहिए। अब शिवराज के चंगुल में जनता नहीं फँसेगी ये उपचुनाव में तमाचा मारेगी।

mp kamalnath
Arun Tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned