scriptCongress launches matches in the name of Kailash Vijayvargiya | कांग्रेस ने लॉन्च किया 'कैलाश छाप' माचिस, लिखा- शहर में आग लगाने के लिए उपयोग आती है | Patrika News

कांग्रेस ने लॉन्च किया 'कैलाश छाप' माचिस, लिखा- शहर में आग लगाने के लिए उपयोग आती है

कांग्रेस लगातार हमलावर है लेकिन कैलाश विजयवर्गीय पूरे प्रकरण पर चुप हैं

भोपाल

Published: January 04, 2020 07:17:07 pm

भोपाल/ बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की मुश्किलें अब बढ़ने लगी है। कांग्रेस ने कैलाश को घेरने की पूरी तैयारी कर ली है। कैलाश ने इंदौर में अधिकारी को धमकी देते हुए कहा था कि अगर शहर में संघ के पदाधिकारी नहीं होते तो मैं आग लगा देता। अब कांग्रेस ने कैलाश विजयवर्गीय के इस बयान के बाद कैलाश छाप माचिस लॉन्च किया है।
8_2.jpg
कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर में आग लगाने की बात कह बीजेपी के लिए मध्यप्रदेश में एक नई मुसीबत खड़ी कर दी है। कांग्रेस कैलाश के इस बयान पर बीजेपी को घेर रही है। साथ ही सवाल पूछ रही है कि क्या ये लोग माफियाओं के साथ हैं। अब कांग्रेस ने बाजार में कैलाश छाप माचिस लॉन्च कर विजयवर्गीय को घेरा है। राजधानी भोपाल समेत मध्यप्रदेश के कई शहरों में यह माचिस देखने को मिल रहा है।
लिखी यह बात
मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के नेता विवेक खण्डेलवाल और गिरीश जोशी ने कैलाश छाप माचिस को लॉन्च किया है। उस माचिस पर लिखा है कि शहर में आग लगाने के लिए उपयोग आती है। कैलाश छाप माचिस का वीडियो और तस्वीर अब सोशल मीडिया पर काफी वायरल है। वहीं, कांग्रेस के कार्यकर्ता ने भी इस ब्रांड को लेकर कई जगह प्रदर्शन कर रहे हैं।
कांग्रेस ने डीजीपी से की शिकायत
वहीं, कैलाश विजयवर्गीय के बयान को लेकर कांग्रेस प्रदेश के डीजीपी को पत्र लिख शिकायत की। कांग्रेस ने विजयवर्गीय पर आरोप लगाया है कि उनका बयान भड़काऊ और हिंसा फैलाने वाला है। इसलिए उनके खिलाफ प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की जाए। चर्चा है कि पुलिस अधिकारियों ने इस मामले में जांच की बात कही है। कैलाश विजयवर्गीय ने यह धमकी एक एसडीएम को नगर निगम कमिश्नर के घर के बाहर प्रदर्शन के दौरान दी थी।
कैलाश साधे हैं चुप्पी
कैलाश विजयवर्गीय के बयान पर मध्यप्रदेश में हंगामा मचा हुआ है। लेकिन वह चुप्पी साधे हुए हैं। उन्हें न तो अपने बयान पर अफसोस है और न ही उनकी की कोई प्रतिक्रिया इस पर आई है। इसके साथ ही पार्टी के बड़े नेता भी कैलाश विजयवर्गीय के बयान पर चुप्पी साधे हुए हैं। गौरतलब है कि कैलाश से पहले उनके बेटे ने भी निगम अधिकारियों के साथ मारपीट कर बीजेपी के लिए नई मुश्किलें खड़ी कर दी थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.