कमलनाथ ने भगवान महाकाल को लिखा पत्र, मांगी ये मदद!

Deepesh Tiwari

Publish: Jul, 13 2018 04:24:56 PM (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
कमलनाथ ने भगवान महाकाल को लिखा पत्र, मांगी ये मदद!

भगवान महाकाल को लिखा पत्र, मांगी ये मदद!...

भोपाल@दीपेश अवस्थी की रिपोर्ट...

चुनाव से ठीक पहले हर रोज बन रहीं नई रणनीतियों के बीच जहां एक ओर दोनों पार्टियां एक दूसरे पर लगातार हमला कर रहीं हैं। वहीं इसी बीच पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ ने भगवान महाकाल के नाम पत्र लिखकर उनसे मदद मांगते हुए एक नया दांव चल दिया है।

जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कमलनाथ भगवान ने भगवान महाकाल के नाम एक पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने शिवराज सरकार द्वारा किए गए वादों का जिक्र किया है। वही शिवराज सरकार पर गंभीर आरोप लगाए है। पत्र के माध्यम से कांग्रेस अध्यक्ष ने भगवान से विनती की है कि वो मध्यप्रदेश को बचाएं और जनता के सामने भाजपा की हकीकत लाने में उनकी मदद करें।

इस पत्र को कमलनाथ मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने शुक्रवार यानि आज सुबह 11 बजे उज्जैन पहुंचकर बाबा महाकाल के चरणो में अर्पण किया। इस दौरान कांग्रेस के सैकडों कार्यकर्ता ढोल - धमाकों के साथ उज्जैन पहुंचे।

क्या लिखा है पत्र में...
कमलनाथ ने भगवान महाकाल के नाम पत्र लिखा है,इसमें लिखा है कि पांच वर्ष पहले चुनाव से पहले शिवराज ने जनआशीर्वाद यात्रा के लिये महाकाल को पत्र लिख उज्जैन से ही यात्रा की शुरुआत की थी, उस पत्र में प्रदेश के लिये कई वादे किए थे। इस बार भी शिवराज की जनआशीर्वाद यात्रा 14 जुलाई को उज्जैन से ही शुरू होने जा रही है। यहां उन्होंने लिखा है कि वे इस पत्र के माध्यम बताया है कि वे पांच वर्ष पहले शिवराज द्वारा किए वादों की पोल जनता के बीच जाकर खोलेंगें और सबकों हक़ीक़त बताएंगें।

ज्ञात हो कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 14 जुलाई को उज्जैन से जनआशीर्वाद यात्रा शुरु करने वाले है।इसके लिए रथ तैयार हो गया हैं। यह रथ आज 13 जुलाई यानि आज को भोपाल से उज्जैन के लिए रवाना किया जा चुका है। जिसको भेजने से पहले सीएम शिवराज ने अपनी पत्नी साधना सिंह के साथ रथ की पूजा की।

वहीं रथ को शनिवार को अध्यक्ष अमित शाह हरी झंडी दिखाएंगे। यह यात्रा राज्य के सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों तक जाएगी। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री की एक-एक सभा तथा रथ सभाएं भी होंगी। मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा 55 दिनों तक चलेगी।

यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री रथ और मंच सभाओं को मिलाकर लगभग 700 सभाओं को संबोधित करेंगे। यात्रा के लिए प्रदेश को दो भागों में बांटा गया है। एक भाग में विंध्य, बुंदेलखंड और महाकौशल को रखा गया है। दूसरे भाग में भोपाल, नर्मदापुरम, ग्वालियर-चंबल और मालवा-निमाड़ क्षेत्र हैं। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान सप्ताह में चार दिन यात्रा करेंगे, दो दिन एक हिस्से में तथा दो दिन प्रदेश के दूसरे हिस्से में कार्यक्रम होगा। यात्रा का समापन 25 सितंबर को भोपाल में होने वाले कार्यकर्ता महाकुंभ में होगा।

Ad Block is Banned