कांग्रेस ने किया एस्मा लगाने का विरोध

कमलनाथ बोले एस्मा लगाना समझ से परे, तन्खा ने कहा आखिर कौन जा रहा है हड़लात पर

 

 

By: Arun Tiwari

Published: 08 Apr 2020, 05:24 PM IST

भोपाल : कांग्रेस ने सरकार के एस्मा लगाने के फैसले का विरोध किया है। कांग्रेस ने पूछा है कि आखिर कौन जा रहा है हड़ताल पर जो एस्मा लगाने की जरुरत पड़ी। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि कोरोना महामारी के इस दौर में प्रदेश में सभी शासकीय डॉक्टर्स, मेडिकल स्टाफ़, अधिकारी -कर्मचारी बेहद ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का पालन कर प्रदेश की जनता के हित में रात-दिन कार्य कर रहे है, संकट की इस घड़ी में सब एक है, ऐसे में प्रदेश में एस्मा लागू का निर्णय, क़ानून का भय, समझ से परे है। वहीं कांग्रेस सांसद विवेक तन्खा ने भी प्रदेश में एस्मा लगाए जाने का विरोध किया है। तन्खा ने ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री जी के आवाहन पर देश के सभी अधिकारी, कर्मचारी, चिकित्सक चौबीस घंटे मौलिक संसाधनों की कमी की परवाह किए बिना सेवाएं दे रहे हंै।

कार्य से इनकार का एक भी वाकय़ा नहीं है, फिर किस कारण से एस्मा लागू करने का निर्णय हुआ है। एस्मा काम बंद ( स्ट्राइक) अथवा धारा 5 के उल्लंघन पर एस्मा के प्रयोग की परिस्थिति देश में अब तक कहीं भी उपस्थित न है ना होनी चाहिये। तन्खा ने कहा कि पूरा देश इस संकट की घड़ी में एक है। तो एस्मा का प्रयोग किसके विरुद्ध किया जाएगा। डॉक्टरों , नर्स , वार्ड ब्वाय, अन्य सरकारी कर्मचारी या मध्य प्रदेश की जनता। हर लॉजिक के विपरीत ये ऐक्शन है।

कांग्रेस का शिवराज पर निशाना, चंद नौकरशाहों के भरोसे चल रही सरकार
कांग्रेस ने एक बार फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को निशाने पर लिया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा कि भाजपा की मेहनत पर नहीं गद्दारों की गद्दारी से हासिल मप्र सरकार के मुखिया शिवराज सिंह चौहान बड़े ही अभिभूत हैं, सिंगल मैन आर्मी की तरह अलोकतांत्रिक ढंग से निर्वाचित सरकार को खींच रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिवराज जी, चंद नौकरशाही पर इतना भरोसा ठीक नहीं है, यह घर नहीं, सरकार चलाने का मसला है। यादव ने आगे कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा अपनाए गए चरित्र को लेकर मुझे जऱा भी अफसोस नहीं है । सिंधिया खानदान ने स्वतंत्रता संग्राम के दौरान भी जिस अंग्रेज हुकूमत और उनका साथ देने वाली विचारधारा की पंक्ति में खड़े होकर उनकी मदद की थी।

मीडिया विभाग के अध्यक्ष जीतू पटवारी ने ट्वीट कर कहा कि कोरोना फाइटर डॉक्टर के तौर पर लगातार ड्यूटी कर रही शिवपुरी मेडिकल कॉलेज में पदस्थ डॉ वंदना तिवारी की तबियत बिगड़ी, घंटों लावारिस पड़ी रहीं, इलाज नहीं मिला और दर्दनाक मौत हो गई। पटवारी ने कहा कि शिवराज जी, आपकी सरकार ने इस देवदूत की मदद न कर शर्मसार कृत्य किया है। शिवराज सरकार की फाइलों में कोरोना घूम रहा है और मुख्यमंत्री भाषण में व्यस्त हैं। शिवराज जी, यह आपकी नाकामियों का नतीजा है, टीवी पर आने का शौक बाद में पूरा कर लेना अभी इन हालातों में सुधार कीजिए।

mp kamalnath
Arun Tiwari Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned