उपचुनाव के लिए फिर जारी होगा कांग्रेस का वचनपत्र, राहुल गांधी की तस्वीर न होने पर गर्माई सियासत

री-लांच होगा कांग्रेस का वचनपत्र!

 

By: Faiz

Published: 16 Oct 2020, 07:07 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश में जैसे जैसे 28 विधानसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनावों के दिन नजदीक आ रहे हैं, वैसे-वैसे राजनीतिक सरगर्मी बढ़ती जा रही है। प्रदेश में सक्रीय सभी दल जहां एक तरफ प्रत्याशी घोषित करके आज प्रत्याशियों द्वारा नामंकन प्रक्रिया भी कर ली गई है। इससे पहले ही कांग्रेस ने भाजपा से पहले 28 सीटों के लिए मिनी वचनपत्र भी जारी किया था, लेकिन ये वचन पत्र चुनाव से पहले ही विवादों में आ गया है। कारण है, वचन पत्र पर राहुल गांधी की तस्वीर न होना। दरअसल, कांग्रेस द्वारा मिनी वचन पत्र जारी किये जाने के बाद विपक्ष ने वचन पत्र पर राहुल गांधी का फोटो न होने को लेकर तंज कसा था। इसपर पार्टी द्वारा अतरकलेह से बचने के लिए वचनपत्र को राहुल गांधी की तस्वार के साथ री-लांच करने का फैसला लिया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- अब Whatsapp से भी कर सकेंगे CM Helpline पर शिकायत, Government Scheme की भी मिलेगी जानकारी


इस दिन री-लांच होगा मिनी वचनपत्र

बता दें कि, शारदीय नवरात्रि के अवसर पर शनिवार को कांग्रेस द्वारा 28 विधासभा सीटों के लिए जारी मुख्य मिनी वचनपत्र को एक बार फिर से लांच किया जाएगा। कांग्रेस के मुताबिक, इसमें सभी प्रमुख नेताओं की तस्वीर के साथ राहुल गांधी की भी तस्वीर होगी। दरअसल, पहले जो वचनपत्र जारी किए गए थे, वो विधानसभाओं के लिए थे। छोटे स्तर का होने के चलते उनमें राहुल गांधी की तस्वीर होना जरूरी नहीं समझा गया था।

 

पढ़ें ये खास खबर- VIDEO : पर्यटकों के लिए जल्द खुलेगा राजवाड़ा और अहिल्या फोर्ट, कलेक्टर-एसपी ने किया निरीक्षण


भाजपा ने कमलनाथ को लिय़ा था आड़े हाथ

आपको बता दें कि, चुनावी खींचतान के दौरान भाजपा द्वारा कांग्रेस के विधानसभाओं के लिए जारी मिनी वचनपत्र में राहुल गांधी की तस्वीर नहीं होने पर तंज कसा था। भाजपा की ओर से कहा जा रहा था कि, कमलनाथ राहुल गांधी को अपना नेता नहीं मानते, इसीलिए उन्होंने मुख्य वचनपत्र में राहुल की तस्वीर नहीं लगाई थी।

 

पढ़ें ये खास खबर- खुलासा : रेप ही नहीं बुजुर्गों से अत्याचार के मामले में भी देशभर में नंबर-1 है मध्य प्रदेश


कांग्रेस ने दी सफाई

कांग्रेस द्वारा इसपर सफाई भी दी गई। कांग्रेस मीडिया सेल के प्रदेश उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने कहा कि, पहले के वचनपत्र में राहुल गांधी की तस्वीर की जरूरत नहीं थी, इसलिए पार्टी द्वारा उनकी तस्वीर वचन पत्र देने की जरूरत नहीं समझी गई। हालांकि, कांग्रेस ने वचन पत्र के री-लांच को नकारते हुए कहा कि, इसे रीलांच नहीं कर रहे हैं, बल्कि मुख्य वचनपत्र जारी कर रहे हैं। राहुल गांधी की तस्वीर कल जारी होने वाले मुख्य वचनपत्र में रहेगी, वो हमारे नेता हैं। भाजपा की आलोचना पर भूपेंद्र गुप्ता ने कहा कि, भाजपा को दूसरों की बारात में नाचने का बहुत शौक है। इसलिए वो तो कुछ भी कहेंगे ही।

 

पढ़ें ये खास खबर- खुलासा : दलित बच्चियों से रेप के मामले में नंबर-1 है ये राज्य, छेड़छाड़ में भी अव्वल

 

वचनपत्र का रीपैकेजिंग करने से काम नहीं चलेगा

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राहुल कोठारी ने कहा कि भाजपा के दृष्टि पत्र की नकल करने में कांग्रेस ने अपने नेताओं का चित्र न लगाने की भारी गलती की है। कांग्रेस के वचनपत्र को जनता ने प्रलोभन और प्रवचन पत्र माना है। इसलिए ऐसी रीपैकेजिंग करके अब काम नहीं चलेगा। भाजपा का दृष्टि पत्र ही जनता के लिए कार्यसिद्धि का संकल्प साबित होगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned