थप्पड़ मारने वाली कलेक्टर पर कांग्रेस नेता ने की कार्रवाई की मांग, पार्टी ने अगले दिन उन्हें ही निपटा दिया

अजाद सिंह डबास ने सीएम कमलनाथ को कार्रवाई के लिए लिखी थी चिट्ठी

सीएम कमलनाथ को खत लिखना पड़ा भारी

भोपाल/ पार्टी लाइन से अलग जाकर बयान देने वाले नेताओं पर कांग्रेस ने अनुशासन का डंडा चलाया है। थप्पड़ मारने वाली राजगढ़ कलेक्टर पर कार्रवाई की मांग करने वाले नेता को ही पार्टी ने निपटा दिया है। साथ ही उन्हें नोटिस जारी कर पूछा है कि क्यों न आपको कांग्रेस से बाहर कर दिया जाए। इसके साथ ही इंदौर में एक-दूसरे को थप्पड़ मारने वाले कांग्रेस नेताओं को भी नोटिस जारी किया गया है।

भोपाल स्थित कांग्रेस मुख्यालय में अनुशासन समिति की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में अनुशासन समिति के लोगों ने अनुशासनहीनता के मामलों पर चर्चा की। जिसमें दो प्रमुख मुद्दे थे। इंदौर में सीएम कार्यक्रम से पहले कांग्रेसियों ने थप्पड़बाजी की थी। वहीं, राजगढ़ थप्पड़कांड पर कांग्रेस पिछड़ा वर्ग सलाहकार कमिटी के संयोजक अजाद सिंह डबास के बयान पर भी चर्चा हुई।

राजगढ़ कलेक्टर पर की थी कार्रवाई की मांग
दरअसल, पूर्व आईएफएस अधिकारी और कांग्रेस पिछड़ा वर्ग सलाहकार कमिटी के संयोजक आजाद सिंह डबास ने सीएम कमलनाथ को पत्र लिख राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता पर कार्रवाई की मांग की थी। उन्होंने लिखा था कि मंदसौर कलेक्टर की वजह से ही शिवराज सिंह चौहान की सरकार चली गई थी। राजगढ़ कांड से सरकार की छवि खराब हुई है। उन्होंने लिखा था कि अधिकारी पूर्व में भी नंबर बढ़ाने के चक्कर में ऐसा करते रहे हैं और आज भी कर रहे हैं। उन्होंने अपनी चिट्ठी पूर्व में घटित उन घटनाओं का भी जिक्र किया था, जिसकी वजह से प्रदेश में स्थिति बेकाबू हुई।

पार्टी ने माना अनुशासनहीनता का मामला
अजाद सिंह डबास के इस चिट्ठी को पार्टी ने अनुशासनहीनता का मामला माना है। अनुशासन समिति ने कार्रवाई करते हुए उन्हें कांग्रेस पिछड़ा वर्ग सलाहकार कमिटी के संयोजक पद से हटा दिया है। साथ ही उन्हें नोटिस जारी कर पूछा है कि क्यों न पार्टी आपको बाहर का रास्ता दिखा दे। इसे लेकर उनसे जवाब भी मांगा है।

थप्पड़ चलाने वालों को नोटिस
वहीं, इंदौर में गणतंत्र दिवस के अवसर पर सीएम के कार्यक्रम से पहले कांग्रेस नेता चंदू कुंजी और देवेंद्र यादव के बीच में थप्पड़बाजी हुई थी। दोनों नेताओं ने एक-दूसरे पर थप्पड़ चलाई थी। उसके बाद पुलिस केस भी हुआ था। थप्पड़कांड का वीडियो सामने आने के बाद पार्टी की काफी किरकिरी भी हुई। उसके बाद अनुशासन समिति ने दोनों नेताओं को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। साथ ही उनसे कहा है कि आपकी वजह से पार्टी की छवि खराब हुई है।

BJP Congress
Muneshwar Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned