युवक की लापरवाही से खतरे में पड़ी ठेकेदार की जान

युवक की लापरवाही से खतरे में पड़ी ठेकेदार की जान

Bharat pandey | Publish: Oct, 14 2018 04:01:01 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

ठेके दार के पेट पर बम फ टने से बाहर आ गईं आंतें, दो दिन बाद अस्पताल में आया होश

भोपाल। अशोका गार्डन इलाके में दुर्गा मूर्ति बैठकी के दिन सुतली बम फोड़ रहे युवक ने ठेकेदार के पेट पर पटाखा फोड़ दिया। पेट में पटाखा फटने से ठेकेदार की आंत बाहर निकल आईं। उसका गंभीर हालत में निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है। दो दिन बाद होश आने के बाद पुलिस ने घायल के बयान दर्ज कर फटाखा फोडऩे वाले युवक के खिलाफ केस दर्ज किया है। फिलहाल, गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। बताया गया कि आरोपी युवक लोहे के पाइप के बने तोपगन में सुतली बम फिट कर फोड़ रहा था। जश्न के दौरान उसने तोपगन को हवा की तरफ नहीं कर सीधे ठेकेदार की पेट की तरफ मोड़ दिया। इससे निकला पटाखा आरोपी युवक से करीब 10 फीट दूर अपने घर पर खड़े ठेकेदार के पेट में टकराकर फूटा।

पुलिस के मुताबिक, सुभाष कॉलोनी निवासी 47 वर्षीय सुरेन्द्र साहनी घरों में मार्बल लगाने का ठेका लेते हैं। उन्होंने बताया कि 9 अक्टूबर की शाम वह अपने घर के बाहर खड़े हुए थे। इसी बीच मोहल्ले में रहने वाला मनीष भदौरिया अपने साथियों के साथ प्रतिमा लेकर आ रहा था। दुर्गा मूर्ति के आगे-आगे मनीष का साथी गोलू तोप गन से पटाखे फोड़ रहा था। इसी बीच उसने गन में एक सुतली बम फिट किया। इस बीच सुरेन्द्र दुर्गाजी को हाथ जोडक़र नमन कर रहे थे, तभी गोलू के गन से निकला पटाखा उनके पेट से टकरा कर फट गया। उनकी आंत बाहर निकल आई। वह बेहोशी होकर घर के बाहर ही गिर पड़े। इसी बीच मनीष व उसके साथी चुपके से उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती करा आए। दो दिन बाद उन्हें होश आया।

 

 

आंत से चिपके मिले लोहे के टुकड़े
सुरेन्द्र का ऑपरेशन करने वाले निजी अस्पताल के डॉक्टर ने बताया कि घायल का आपरेशन कर आंत का इलाज किया गया है। आंत में लोहे के टुकड़े मिले हैं। सुरेन्द्र का आरोप है कि आरोपी ने सुतली बम में लोहे के टुकड़े मिलाकर जानबूझकर मेरे पर हमला किया होगा। पुलिस इसकी जांच कराए।

 

अस्पताल में छोडक़र गायब हो गया आरोपी
सुरेन्द्र की पत्नी बेबी का कहना कि आरोपी ने उसके पति को अस्पताल में छोड़ गया। हम लोगों ने जब उससे पूछा तो बताया कि उन्हें कुछ नहीं हुआ। थोड़ी पेट झुलसा है। इसके बाद मैं किसी तरह पता लगाकर पति के पास अस्पताल पहुंची। जहां, देखा कि उनकी आंत बाहर निकल आई है। आरोपी गोलू से इलाज के खर्च के लिए बात की तो वह दो दिन तक खर्च देने के लिए कहता रहा। अब कह रहा कि मेरी कोई गल्ती नहीं है। तुम्हारे पति घर के बाहर क्यों खड़े थे। बेबी का कहना कि उसके पास इलाज के लिए घर में पैसे नहीं हैं।

 

रंजिश का बदला लिया: सालभर पहले गोलू से हुआ था विवाद
घायल सुरेन्द्र साहनी ने बताया कि गोलू अपराधिक प्रवृत्ति का है। सालभर पहले उसने मेरे साथ अड़ीबाजी की थी। तब से वह मुझपर रंजिश रखता है। हो सकता कि उसने रंजिश की वजह से मेरी तरफ गन घुमा दी हो। उसने मेरी जान लेने की कोशिश की है। पुलिस उसे कड़ी सजा दे। मेरे इलाज का खर्च भी दिलाए।



घायल के बयान दर्ज किए हैं
लापरवाही पूर्वक पटाखा फोडऩे वाले युवक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। घायल की हालत में सुधार हुआ है। उसके बयान हो गए हैं। जल्द ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। - जगदीश रावत, एएसआई, अशोका गार्डन थाना

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned