कोरोना को लेकर गंभीर लापरवाही, क्वारेंटाइन किए गए लोगों को फिट बताकर घर भेजा, दूसरे दिन उनमें से पांच पॉजिटिव निकले

- 25 नए पॉजीटिव मरीज मिले, शहर में पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 312
- एक ही बिल्डिंग से आठ लोग पॉजिटिव, यहां से पहले ही तीन लोग हो चुके हैं पॉजिटिव

भोपाल। कोरोना के कहर को रोकने के लिए सरकार से लेकर स्वास्थ्य विभाग तमाम जतन कर रहा है लेकिन थोड़ी सी लापरवाही इन मंसूबों पर पानी फेर देती है। गुरुवार को भी कोरोना को लेकर मैदानी अमले की लापरवाही सामने आई। एक कॉलेज में क्वारेंटाइन किए गए 30 लोगों को फिट बता कर घर जाने को कह दिया। दूसरे दिन जब इन लोगों की रिपोर्ट आई तो इनमें से पांच लोग कोरोना पॉजीटिव निकले।
जानकारी के मुताबिक नवाब कॉलोनी के कुछ लोगों को शनिवार को क्वारेंटाइन सेंटर में भेजा गया था। बुधवार दोपहर करीब तीन बजे उन्हें फिट बताया और घर जाने को कह दिया। इनमें नवाब कॉलोनी के आमिर खान का परिवार भी शामिल था। गुरुवार सुबह करीब 8 बजे स्मार्ट सिटी के कोरोना कंट्रोल रूम से जानकारी मिली कि वे और उनके परिवार के पांच अन्य लोग पॉजीटिव हैं। आमिर ने कहा कि एक दिन पहने उन सभी को स्वस्थ बताया था , तो फोन पर कहा गया कि कोई गलती हुई होगी। इसके बाद कुछ दूसरे अधिकारियों के फोन आये और सभी को अस्पताल जाने को कहा गया।

गुरुवार आई रिपोर्ट में 25 नए मरीजों की जानकारी मिली है। शहर में अब पॉजीटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 312 हो गई है। शहर में अब तक 77 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं।

एक ही बिल्डिंग के 11 पॉजिटिव
आमिर के मुताबिक उनके मकान मालिक की रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद हमारे परिवार के सभी 8 सदस्य कोरोना पॉजीटिव मिले हैं। इससे पहले भी बिल्डिंग से तीन लोग पॉजिटिव मिले थे। इन तरह इस बिल्डिंग से अब 11 लोग पॉजीटिव मिल चुके हैं। आमिर ने बताया कि उनकी तीन पीढिय़ां कोरोना पॉजीटिव हो गईं।

पुलिसकर्मी भी हुए पॉजीटिव
मिली जानकारी के मुताबिक कोरोना का खतरा अब शाहजहानाबाद स्थित पुलिसलाइन तक पहुंच गया है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक गुरुवार को छह पुलिसकर्मियों और उनके परिजन कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं। यहां से छह कॉरोना मरीज सामने आए हैं।

8 साल से कम उम्र के 4 मासूम कोरोना पॉजिटिव
गुरुवार को मिले पाजिटिव मरीजों में 4 मासूम भी पाजिटिव मिले हैं. इनमें न्यू पुलिस लाइन शाहजहानाबाद में 5 साल की बच्ची व नवाब कॉलोनी में तीन बच्चे संक्रमित मिले हैं इनमे 5 और 8 साल के के दो बच्चे और 6 साल की एक बच्ची कोरोना पॉजिटिव मिली है। शहर में पॉजीटिव बच्चों की संख्या 25 से ज्यादा हो गई है। शहर के कुल पॉजीटिव मामले के हिसाब से यह आठ फीसदी है जो वैश्विक अनुपात 2.5 फीसदी से कहीं ज्यादा है।

हम चिरायु जाना चाहते हैं

आमिर ने कहा कि उसके मोबाईल पर जो लिंक भेजी गई उससे बताया गया है कि उसे पीपुल्स हॉस्पिटल में भर्ती किया जाएगा। हम लोग चिरायु अस्पताल में भर्ती होना चाहते हैं।
अधिकारियों के निर्देश पर भेजा

आरजीपीवी कवारेंटाईन सेंटर के इंचार्ज डॉ. उपेन्द्र धोटे के अनुसार प्रशासन के अधिकारियों के निर्देश पर ही लोगों को क्वारेंटाईन से डिस्चार्ज कर होम क्वारेंटाईन किया जाता है। कल अधिकारियों के निर्देश पर लगभग 31 लोगों को होम क्वारेंटाईन में भेजा गया था। इन्हें कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे। वहीं सीएमएचओ डॉ.़ प्रभाकर तिवारी का कहना है कि लक्षण नहीं आने पर होम क्वारेंटाइन कर दिया होगा।

सुनील मिश्रा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned