मप्र में पहले चरण में 3 लाख 84 हजार कर्मचारियों को लगेगा कोरोना वैक्सीन, 88 फीसदी हुए पंजीयन

रजिस्ट्रेशन में खरगोन सबसे फिसड्डी, केवल 16 फीसदी स्वास्थ्य कर्मचारियों की ही हो पाया, होशंगाबाद में टारगेट से दोगुने पंजीयन

भोपाल। नए साल में कोरोना वैक्सीन आने की संभावना को देखते हुए प्रदेश में तैयारियां जोरशोर से चल रही हैं। प्रदेश में पहले चरण में लगभग 3 लाख 84 हजार 563 हेल्थ केयर वर्कर्स का टीकाकरण संभावित है। अब तक पूरे राज्य में 88 प्रतिशत यानी 3 लाख 36 हजार 638 हेल्थ केयर वर्कर्स की जानकारी स्वास्थ्य विभाग ने पोर्टल पर अपलोड की है । पंजीयन के काम में खरगोन सबसे फिसड्डी जिला है यहां केवल 16.42 प्रतिशत कर्मचारियों की जानकारी दर्ज की गई है। जबकि उज्जैन में 38.17, जबलपुर में 42.3, शहडोल में 58.93 प्रतिशत कर्मचारियों की जानकारी अपलोड हो चुकी है।

होशंगाबाद में दोगुने पंजीयन
प्रदेश में होशंगाबाद जिले ने सबसे ज्यादा कर्मचारियों के पंजीयन कर जानकारी पोर्टल पर अपलोड की है। होशंगाबाद में संभावित 3500 कर्मचारियों के विरुद्ध 206 फीसदी यानी 7233 हेल्थ केयर वर्कर्स का पंजीयन किया गया है। वहीं धार, देवास, दतिया, छतरपुर, गुना शिवपुरी, सिवनी, सीहोर, सिंगरौली, खंडवा, रतलाम, बालाघाट, छिंदवाड़ा, विदिशा, अशोकनगर, डिंडोरी, झाबुआ में टारगेट के विरूद्व सौ फीसदी से भी ज्यादा हेल्थ केयर वर्कर्स के पंजीयन किए गए हैं।

हेल्थ केयर वर्कर्स पंजीयन में ये जिले सबसे फिसड्डी
जिला टारगेट पंजीयन पंजीयन प्रतिशत

खरगोन 11000 1806 16.42
उज्जैन 14000 5064 36.17

जबलपुर 28000 11845 42.30
शहडोल 5644 3326 58.93

नीमच 4662 3095 66.39

यहां उम्मीद से ज्यादा योद्धाओं का रजिस्ट्रेशन
जिला टारगेट पंजीयन पंजीयन प्रतिशत

होशंगाबाद 3500 7233 206.66
धार 6000 11532 192.20

देवास 4534 7103 156.66
दतिया 2952 4082 138.28

छतरपुर 6000 7979 132.98
गुना 3000 3636 121.20

----------------------------------
टारगेट पंजीयन पंजीयन प्रतिशत

मप्र 384563 336638 88
भोपाल 25000 24605 98.42

सुनील मिश्रा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned