राजकीय सम्मान के साथ हुई रामकुमार की अंत्येष्टी, भदभदा विश्राम घाट पर दिया गया गार्ड ऑफ आर्नर

भोपाल. ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर जान गंवाने वाले पांचवी बटालियन के आरक्षक रामकुमार शर्मा का अंतिम संस्कार मंगलवार को भदभदा विश्राम घाट पर राजकीय सम्मान के साथ किया गया। इस अवसर पर परिवार और पुलिस अधिकारियों ने शर्मा की तस्वीर पर पुष्पचक्र चढ़ाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

By: praveen malviya

Published: 16 Sep 2020, 07:00 AM IST

मुरैना में पदस्थ आरक्षक रामकुमार शर्मा पिछले दिनों ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए थे। फेफड़ों तक संक्रमण पहुंच जाने के बाद उन्हें 10 सितम्बर को गंभीर हालत में भोपाल रेफर किया गया था।चिरायु अस्पताल में इलाज के दौरान दो दिनों बाद उनकी हालत बिगड़ गई। डॉक्टरों की तमाम कोशिशों के बावजूद फेफड़ों तक पहुंचे संक्रमण को रोका नहीं जा सका और उनकी हालत बिगड़ती चली गई। सोमवार शाम उनकी मृत्यु हो गई।

भदभदा विश्राम घाट पर डीआईजी इरशाद वली और एसपी मुख्यालय धर्मवीर यादव ने पुलिस की ओर से उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की।पांचवी बटालियन के कमांडेट विनीत जैन की ओर से श्रद्धांजलि के बाद सातवीं बटालियन के जवानों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया। जहां परिवार की उपस्थिति में सोशल डिस्टेसिंग के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। रामकुमार शर्मा कुश्ती खिलाड़ी भी थे और राष्ट्रीय स्तर पर प्रतियोगिताओं में भाग ले चुके थे। शर्मा के परिवार में पत्नी बेटा और दो बेटियां हैं।

praveen malviya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned