कोरोना वायरस: देश के सबसे अमीर सांसद ने 25 लाख, भाजपा की गरीब सांसद ने की 1 करोड़ रुपए की मदद

मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अपनी एक महीने की सैलरी मुख्यमंत्री राहत कोष में दी है।

By: Pawan Tiwari

Published: 27 Mar 2020, 02:10 PM IST

भोपाल. कोरोना महामारी के कारण देश में 21 दिन का लॉकडाउन किया गया है। कोरोना के संकट से निपटने के लिए आम से लेकर खास तक मदद के लिए सामने आ रहे हैं। मध्यप्रदेश के कई विधायकों ने अपनी एक महीने की राशि राहत फंड में देने की घोषणा की है तो कई सांसदों ने अपने सांसद निधि से लाखों और करोड़ों रुपए का दान राहत फंड में जमा करा रहे हैं। मध्यप्रदेश के भोपाल से सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने सांसद निधि से करोड़ रुपए देने की घो।णा की है जबकि छिंदवाड़ा से सांसद नकुलनाथ ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए 25 लाख रुपए की सहायता की है।

जिला प्रशासन को देंगे पैसा
छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए सांसद निधि से जिला प्रशासन को 25 लाख रुपए देने का फैसला किया है। साथ ही नकुल नाथ ने जनता को यह आश्वासन दिया है कि आगे जो भी मदद होगी, वह भी की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ से भी पार्टी फंड से छिंदवाड़ा जिले को मदद देने की अपील की है जिसके बाद कांग्रेस पार्टी ने ज़रूरत पड़ने पर जिले को 1 करोड़ की सहायता राशि देने का निर्णय किया है।


साध्वी प्रज्ञा ने दिया 1 करोड़ रुपए
भोपाल से सांसद साध्वी प्रज्ञा ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए सांसद निधि से एक करोड़ रुपए की सहायता देने की घोषणा की है। इसके साथ ही साध्वी प्रज्ञा ने देश और प्रदेश के लोगों से अपील की है कि सभी लोग कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन का प्रयोग करें।

देश के सबसे अमीर सांसद हैं नकुलनाथ
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे और छिंदवाड़ा से सांसद मौजूदा लोकसभा में देश के सबसे अमीर सांसद हैं। एडीआर संस्था की तरफ से जारी रिपोर्ट के मुताबिक नकुलनाथ की कुल संपत्ति 660 करोड़ रुपये है। वहीं, दूसरी तरफ बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने अपनी संपत्ति 4 लाख रुपये बताई थी। 2019 के लोकसभा चुनाव में संपत्ति के हिसाब से वो देश की चौथी सबसे गरीब सांसद हैं।

सीएम और विधायक ने छोड़ी सैलरी
वहीं, मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अपनी एक महीने की सैलरी मुख्यमंत्री राहत कोष में दी है। इसके साथ ही उन्होंने विधायक और सांसदों से भी अपील की है कि वो कोरोना महामारी से लड़ने में सरकार की मदद करें। जिसके बाद भाजपा विधायक केपी त्रिपाठी और रामेश्वर शर्मा ने अपनी एक महीने की सैलरी मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराई है। जबकि सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर और नकुलनाथ ने सांसद निधि से पैसे दिए हैं।

coronavirus
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned