rape-murder case : मासूम से दुष्कर्म मामले में दरिंदा विष्णु को मिली फांसी की सजा

rape-murder case : मासूम से दुष्कर्म मामले में दरिंदा विष्णु को मिली फांसी की सजा

KRISHNAKANT SHUKLA | Updated: 11 Jul 2019, 02:02:21 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

नौ वर्षीय मासूम से दुष्कर्म, अप्राकृतिक कृत्य और हत्या के मामले में कोर्ट ने दी सजा-ए-मौत

भोपाल. कमला नगर इलाके में एक महीने पहले 9 साल की बच्ची से बलात्कार के बाद उसकी हत्या के आरोपी विष्णु बामोरे को जिला अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है। अदालत ने एक दिन पूर्व ही उसे दोषी मानते हुए फैसला सुरक्षित रखा था। अदालत ने आज अपना फैसला सुनाया। आरोपी ने 8 जून को कमला नगर में 9 साल की बच्ची से बलात्कार के बाद उसकी हत्या की थी। आरोपी विष्णु के खिलाफ मासूम के साथ जोर-जबरदस्ती अपहरण, दुष्कर्म, अप्राकृतिक कृत्य, हत्या के बाद साक्ष्य छुपाने एवं पॉक्सो एक्ट के तहत सभी आरोप सिद्ध पाए गए।

कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

सुनवाई के दौरान अन्तिम तर्क में अभियोजन की ओर से मामले को विरल से विरलतम बताकर विष्णु को कड़ी सजा देने की मांग की। जिन आरोपों के तहत विष्णु पर दोष सिद्ध हुआ है, उनमें सजा-ए-मौत का प्रावधान है। न्यायालय ने मामले की सुनवाई करते हुए दोषी को फांसी की सजा दी।

विशेष सत्र न्यायाधीश (पॉक्सो एक्ट) कुमुदिनी पटेल ने बुधवार को मामले की सुनवाई की। इस दौरान विष्णु को जिला अदालत में केन्द्रीय जेल से लाकर पेश किया गया। जज ने विष्णु से कहा कि तुम्हें सभी आरोपों में दोष सिद्ध किया गया है। इस पर विष्णु चुपचाप कठघरे में खड़ा रहा।

rape-murder case

20 दिन में सुनवाई पूरी

विष्णु ने आठ जून 2019 की रात करीब नौ बजे बस्ती में घर से सामान लेने निकली नौ वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या की थी। इस मामले में पुलिस ने चार दिन में विष्णु को गिरफ्तार कर 12 जून को जिला अदालत में चालान पेश किया था। 18 जून को विष्णु के खिलाफ आरोप तय किए गए। मासूम के माता-पिता, पडोसी, डॉक्टर, पुलिसकर्मियों सहित 22 गवाहों के बयानों के बाद बुधवार को अदालत ने विष्णु पर लगे सभी आरोपों को प्रमाणित पाकर दोष सिद्ध किया।

क्या है पूरा मामला

राजधानी भोपाल के कमला नगर थाना क्षेत्र में नौ साल की मासूम बच्ची के साथ पड़ोसी ने ही बलात्कार करने के बाद गला घोंटकर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद लाश को घर से 20 मीटर दूर नाले के पास फेंक दिया। आठ घंटे बाद पुलिस ने को लाश मिली थी। शॉर्ट पीएम रिपोर्ट रेप की पुष्टि हुई। हरकत में आई पुलिस ने दोषी को खंडवा के पास से आरोपी को गिरफ्तार किया था। इस पूरे घटनाक्रम में लापरवाही पर 7 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया था। 20 दिन बाद आज कोर्ट ने दोषी सिद्ध होने पर दोषी को फांसी की सजा सुनाई।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned