खैर तस्करी का सरगना गिरफ्तार, कत्था फैक्ट्री में करते थे सप्लाई

छह ट्रक, तीन मिनी ट्रक और दो कारों सहित 164 मीट्रिक टन खैर जब्त

भोपाल. वन विभाग की राज्य स्तरीय टाइगर स्ट्राइक फोर्स ने प्रदेश के जंगलों से खैर की लकड़ी की तस्करी करने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए गिरोह के मुखिया को गिरफ्तार किया है। अब तक इस गिरोह के मुखिया सहित 24 आरोपी गिरफ्तार हो किए जा चुके हैं, जिनसे छह ट्रक, तीन मिनी ट्रक और दो कारों सहित 164 मीट्रिक टन खैर लकड़ी जब्त की जा चुकी है।

हरियाणा के मूर्थल में कत्था फैक्ट्री पर छापा
खैर की लकड़ी हरियाणा की कत्था फैक्ट्री में सप्लाई होती थी। टाइगर स्ट्राइक फोर्स, वन मंडल सीहोर एवं क्षेत्रीय टाइगर स्ट्राइक फोर्स इंदौर ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 21 जनवरी को खैर की लकड़ी का अवैध परिवहन कर रहे ट्रक को जब्त किया और 17 टन खैर लकड़ी बरामद की थी। इस मामले में भूपेन्द्र सिंह और सन्नी सिंह को गिरफ्तार किया गया था। दोनों से पूछताछ के बाद हरियाणा के मूर्थल में कत्था फैक्ट्री पर छापा मारकर मैनेजर रामवीर सिंह को गिरफ्तार किया गया, साथ ही 17 टन खैर लकड़ी जब्त की।

बड़े तस्कर गिरोह से जुड़े और लिंक तलाशे जा रहे
गिरोह से पूछताछ के आधार पर बीते शुक्रवार को मप्र राजस्थान की सीमा पर झालावाड़ में लग्जरी कार में सवार गिरोह के मुखिया मोहम्मद इकबाल और शहजाद अली को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया। गिरोह ने बताया कि वे प्रदेश से खैर के पेड़ काटकर लकड़ी महाराष्ट्र चिपलूण, हरियाण मूर्थल, उत्तर प्रदेश के सांपला और बुलंदशहर सहित कई अन्य शहरों में बेचते थे। इस बड़े तस्कर गिरोह से जुड़े और लिंक तलाशे जा रहे हैं।

Pradeep Kumar Sharma
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned