आतंकी के बाद हैदर अली की गिरफ्तारी से MP में खलबली, शिवराज समेत कई नेताओं को मारने की कर रहा था प्लानिंग!

आतंकी के बाद हैदर अली की गिरफ्तारी से MP में खलबली, शिवराज समेत कई नेताओं को मारने की  कर रहा था प्लानिंग!

Muneshwar Kumar | Publish: Aug, 14 2019 03:32:58 PM (IST) | Updated: Aug, 14 2019 03:49:41 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

Bhopal crime branch arrested Hyder Ali: बीजेपी के दिग्गज नेताओं की मारने की प्लानिंग कर रहे हैदर अली को क्राइम ब्रांच की टीम ने किया गिरफ्तार

भोपाल. इंदौर से बर्धमान ब्लास्ट के आतंकी की गिरफ्तारी के बाद भोपाल क्राइम ब्रांच की टीम ने हैदर अली नाम ( Bhopal crime branch arrested Hyder Ali ) के कुख्यात अपराधी को गिरफ्तार किया है। हैदर अली से पूछताछ के दौरान कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। हैदर के खुलासे से मध्यप्रदेश के पुलिस महकमे में खलबली मच गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हैदर अली ने पूछताछ में कबूला है कि वह मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ( Shivraj Singh chauhan ) की हत्या की प्लानिंग कर रहा था।

 

हैदर अली ने पूछताछ में यह बताया है कि वह शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी के विधायक विश्वास सारंग समेत कई नेताओं की हत्या की प्लानिंग कर रहा था। उससे पहले ही क्राइम ब्रांच की टीम ने उसे दबोच लिया है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हैदर आखिर क्यों बीजेपी के इन दिग्गज नेताओं की हत्या की प्लानिंग कर रहा था। एसटीएफ और क्राइम ब्रांच की टीम हैदल अली से पूछताछ कर रही है।

Bhopal crime branch arrested Hyder Ali

 

पुलिस यह भी जानने की कोशिश कर रही है कि आखिर हैदर किसके जरिए इन नेताओं की हत्या करवाना चाहता था। क्या इस काम के लिए हैदर अली ने शूटर ढूंढ लिए थे। ऐसे कई सवाल हैं जो हैदर से पूछे जा रहे हैं। लेकिन स्वतंत्रता दिवस समारोह से एक दिन पहले इस खुलासे मध्यप्रदेश में हड़कंप है। क्योंकि एक दिन पहले ही यहां से एक आतंकी की भी गिरफ्तारी हुई है।


हैदर की गिरफ्तारी के बाद मध्यप्रदेश की पुलिस इन नेताओं की सिक्यूरिटी को भी रिव्यू कर सकती है। उसके बाद सुरक्षा के और चाक चौबंद व्यवस्था किए जा सकते हैं। शिवराज सिंह चौहान बीजेपी के कद्दावर नेता हैं। साथ ही अभी वह सदस्यता अभियान के राष्ट्रीय प्रभारी हैं। मध्यप्रदेश के अलावे वह हर दिन दूसरे प्रदेशों के दौरा पर रहते हैं।

 

हालांकि हैदर अली की गिरफ्तारी पर डीआईजी इरशाद वली ने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है। उनके अनुसार एसटीएफ को हथियार सप्लाई में जानकारी मिली थी। जिसके बाद ही क्राइम ब्रांच ने हैदर अली को पकड़ा। डीआईजी ने कहा कि उसने नशे में कुछ बात की थी, अब उसे खुद ही याद नहीं है। उन्होंने कहा कि उसकी बातें अभी अपुष्ट हैं, इसलिए मैं इस पर कुछ नहीं बोलूंगा।

 

इंदौर से आतंकी गिरफ्तार
इससे पहले मंगलवार को एनआई की टीम ने मध्यप्रदेश के इंदौर से बर्धमान ब्लास्ट के आरोपी जहिरुल शेख को गिरफ्तार किया था। जहिरुल पिछले चार सालों से मध्यप्रदेश के इंदौर में मजदूर बनकर रह रहा था। लेकिन उसके पड़ोसियों को भी इस बात की भनक तक नहीं थी। एनआईए की टीम ने जहिरुल की गिरफ्तारी को काफी गोपनीय तरीके से अंजाम दिया था। सूचना लीक नहीं हो इसके लिए स्थानीय थाने को भी खबर नहीं दी थी।

Bhopal crime branch arrested Hyder Ali

 

स्लिपर सेल के तौर एमपी का इस्तेमाल
आतंकी संगठनों के लिए मध्यप्रदेश सेफजोन बनता जा रहा है। इससे पहले भी मध्यप्रदेश से कई आतंकियों की गिरफ्तारी हुई है। साथ ही विंध्य का इलाका सिमी का गढ़ रहा है। भोपाल सेंट्रल जेल ब्रेक कांड में भी सिमी के कई आतंकी मारे गए थे। वहीं, पंजाब के नाभा जेल ब्रेक कांड का आरोपी भी मध्यप्रदेश में ही छिपा हुआ था। ऐसे में माना जा सकता है कि आतंकी संगठन प्रदेश में कोई आतंकी घटना को अंजाम दिए बिना प्रदेश का इस्तेमाल स्लिपर सेल के तौर पर कर रहे हैं।

 

सीधी के युवक के भी जुड़े आतंकी संगठन से तार
कुछ दिन पहले सीधी के लड़के को यूपी एटीएस की टीम ने प्रयागराज से गिरफ्तार किया था। यह युवक पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठनों के आकाओं के लिए टेरर फंडिग का काम करता था। लेकिन अभी तक जो भी घटनाएं घटी हैं, उसकी जानकारी राज्य की खुफिया एजेंसियों को नहीं लगी। ऐसे में दो दिन में दो गिरफ्तारियों के बाद राज्य की एजेंसियों को अलर्ट रहने की जरूरत है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned