scriptDangerous disease increased by 40 percent due to corona | सावधान! कोरोना से 40 प्रतिशत तक बढ़ गई ये खतरनाक बीमारी, जानिए क्या हैं लक्षण | Patrika News

सावधान! कोरोना से 40 प्रतिशत तक बढ़ गई ये खतरनाक बीमारी, जानिए क्या हैं लक्षण

अस्पतालों में फ्री होगा इलाज

भोपाल

Published: April 11, 2022 07:52:01 pm

भोपाल। कोरोना के कारण मानसिक बीमारी और डिप्रेशन का खतरा बढ़ गया है। दो साल तक लोग भयावह कोविड से डरते रहे, कई लोगों की नौकरियां छूटी, लोग बेरोजगार हो गए। कई लोग काम तो करते रहे पर नौकरी जाने का डर सताते रहा था। ऐसे तनावपूर्ण माहौल में लोग मानसिक बीमारियां का शिकार हो गए। इसे देखते हुए अब प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में मानसिक रोगियों को परामर्श देने के लिए क्लीनिकल साइकोलाजिस्ट नियुक्त किए जा रहे हैं। राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत यह काम किया जा रहा है।

doctor.png
अस्पतालों में फ्री होगा इलाज

मनोचिकित्सकों, एक्सपर्ट और डाक्टर्स की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना काल में मानसिक बीमारियां 40 प्रतिशत तक बढ़ गई हैं। मानसिक रोगों के इलाज में क्लीनिकल साइकोलाजिस्‍ट्स की बड़ी अहम भूमिका रहती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट बताती है कि हर चौथे व्यक्ति को मानसिक स्वास्थ्य काउंसिलिंग की जरूरत है।

इसे देखते हुए राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत सभी जिला अस्पतालों में मानसिक रोगियों को परामर्श देने के लिए क्लीनिकल साइकोलाजिस्ट नियुक्त किए जा रहे हैं। अभी प्रदेश के सिर्फ चार अस्पतालों में ही यह सुविधा है। अब राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन (एनएचएम) की मप्र इकाई ने शेष 47 अस्पतालों के लिए भी भर्ती प्रकिया शुरू की है। एनएचएम अधिकारियों का मानना है कि इससे मानसिक बीमारियों की पहचान की जा सकेगी और इन्हें कम करने में मदद मिलेगी।

मानसिक बीमारियों को ठीक करने में क्लीनिकल साइकोलाजिस्ट का परामर्श सबसे महत्वपूर्ण होता है। वे मरीज की काउंसिलिंग कर बीमारी की असली वजह खोजते हैं। अलग-अलग तरह की साइकोथेरेपी की मदद से वे मरीज की गलत और भ्रामक सोच को दूर करते हैं।

ये हैं प्रमुख लक्षण
— बहुत उदास महसूस करना।
— शराब या नशीली चीजों का सेवन।
— अत्यधिक क्रोध आना।
— बिस्तर से उठने की इच्छा न होना
— नहाने जैसी डेली रुटीन की चीजें करना भी मुश्किल लगना
— लोगों से कटने यानि दूर रहने की इच्छा होना
— खुद से नफरत करना और अपने आप को खत्म कर लेने के विचार आना
— यह याद नहीं रहना कि आप आखिरी बार कब खुश थे

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

Texas School Firing : अमरीका फिर लहूलुहान, 18 वर्षीय युवक की अंधाधुंध फायरिंग में 14 छात्र और एक टीचर की मौतमहंगाई से जंग: रिकॉर्ड निर्यात से घबराई सरकार, गेहूं के बाद अब 1 जून से चीनी निर्यात भी प्रतिबंधितआंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलपंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के OSD प्रदीप कुमार भी हुए गिरफ्तार, 27 मई तक पुलिस रिमांड में विजय सिंगलारिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबIPL 2022, Qualifier 1 RR vs GT: मिलर के तूफान में उड़ा राजस्थान, गुजरात ने पहले ही सीजन में फाइनल में बनाई जगहRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.