सावधान : तेजी से फैल रहा है डेंगू संक्रमण, इस शहर में रहना खतरे से खाली नहीं

मध्य प्रदेश में बीते 10 महीने 13 दिनों में 2,915 मरीज पॉजिटिव मिले हैं। इनमें भोपाल में सबसे ज्यादा 1384 मरीज सामने आए हैं। अब स्वास्थ मंत्री अधिकारियों से पूछेंगे ये सवाल।

By: Faiz

Published: 13 Nov 2019, 02:01 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश में बीते दस महीनों में करीब 3 हजार डेंगू के पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। डेंगू का संक्रमण सबसे तेजी से राजधानी भोपाल में अपने पैर पसार रहा है। हैरानी की बात ये है कि, हालात उस शहर के सबसे ज्यादा खराब हैं, स्वास्थ विभाग और नगर निगम के सभी जिम्मेदार अधिकारी रहते हैं। लेकिन, इनमें पर्याप्त तालमेल न होने के कारण शहर में बीते 10 माह और 12 दिनों के भीतर डेंगू के 1384 मरीज पॉजिटिव मिल चुके हैं। आंकड़े सामने आने के बाद जिम्मेदार अधिकारियों पर सवाल उठने शुरु हो गए हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- जानलेवा हवा में सांस ले रही है 40% आबादी, राजधानी के हुए बुरे हालात


चौका देंगे आंकड़े

दरअसल, डेंगू के इस बढ़ते प्रकोप का कारण सरकारी सिस्टम की लापरवाही को माना जा रहा है। इस साल प्रदेश के 52 जिलों में सबसे ज्यादा डेंगू पॉजिटिव मरीज भोपाल में 1384 मिले हैं। जिला मलेरिया अधिकारी अखिलेश दुबे का कहना है कि उन्होंने जनवरी से शहर में लार्वा सर्वे और दवाओं का छिड़काव शुरू करवा दिया था, लेकिन नगर निगम के द्वारा दवाओं का छिड़काव और फॉगिंग बारिश के बाद शुरू करवाई गई। इधर, नगर निगम के अफसरों का दावा है कि उनकी टीम ने समय रहते शहर के अलग-अलग इलाकों में दवाओं का छिड़काव और फॉगिंग कराई है, उन्होंने दावा किया कि, अगर समय समय पर नगर निगम कि ओर से ये प्रक्रिया नहीं की जाती तो अब तक डेंगू के मरीजों जुड़े आंकड़े और भी ज्यादा हैरान कर देने वाले होते। स्वास्थ्य विभाग द्वारा एकत्रित किये गए आंकड़ों के मुताबिक, भोपाल के अलावा प्रदेश के जबलपुर में अब तक 386 मरीज मिले हैं, ग्वालियर में 316, इंदौर में 180 और होशंगाबाद में अब तक 113 डेंगू पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। इसके अलावा प्रदेश में अब तक चिकनगुनिया के 509 मरीज भी पॉजिटिव मिल चुके हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- अब लाइलाज नहीं रह गया हड्डी का कैंसर, इस तरह संभव है उपचार


अब जाकर मंत्री पूछेंगे सवाल

मध्य प्रदेश के स्वास्थ मंत्री तुलसी सिलावट ने डेंगू के बढ़ते प्रकोप को लेकर चिंता जताते हुए मीडिया से कहा कि, इस संबंध में आज ही स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कलेक्टर तरुण पिथोड़े और नगर निगम कमिश्नर बी विजय दत्ता की बैठक बुलाई है। सभी से एक ही सवाल किया जाएगा कि, खासतौर पर राजधानी में डेंगू के फैलने के पीछे कहां चूक हो रही है और इसके फैलने का कारण क्या है? वहीं, बुखार फैलने का क्या कारण है और इस समस्या से शहर को निजात दिलाने में आप सभी की ओर से अब तक क्या कार्य किया गया।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned