पाचन शक्ति हो जाएगी इतनी मज़बूत कि पत्थर भी हो जाएगा डाइजेस्ट, जानिए कैसे

पाचन शक्ति हो जाएगी इतनी मज़बूत कि पत्थर भी हो जाएगा डाइजेस्ट, जानिए कैसे

By: Faiz

Published: 04 Apr 2019, 11:33 AM IST

भोपालः भोजन को स्वादिष्ट और पाचन युक्त बनाने के लिए आमतौर पर खाने में अदरक का इस्तेमाल किया जाता है। अदरक प्रकृति से मिलने वाली एक ऐसी चीज़ है, जिसकी पैदावार देश में लगभग हर जगह होती है। मूमि के अंदक ऊगने वाला कंद आद्र अवस्थ में अदरक और सूखी अवस्था में सोठ कहलाता है। अगर इसे गीली मट्टी में दबाकर रखा जाए, तो ये लंबे समय तक ताजा बना रहता है। आजकल कई लोग इसे पीसकर फ्रिज में भी रख लेते हैं। इससे भी इसकी ताज़गी और शक्ति बरकरार रहती है। लेकिन क्या आपको पता है कि, अदरक के इस्तेमाल से पेट संबंधित कई समस्याओं से निजात मिलती है। साथ ही, पाचन शक्ति इतनी मज़बूत हो जाती है कि, हमेशा पेट की समस्या से परेशान रहने वाला व्यक्ति पत्थर भी हज़म कर सकता है। आइये जानते हैं इसके इस्तेमाल का खास तरीका।

अदरक से मिलते हैं ये लाभ

-नमक लगाकर खाएं अदरक

6 ग्राम अदरक बारीक काटकर थोड़ा सा नमक लगाकर दिन का खाना खाने से पहले 10 दिनों तक लगातार खाएं। इसके इस्तेमाल से आपका हाज़मा तो मज़बूत होगा, जिससे भूख बढ़ेंगी। साथ ही, पेट की गैस और कब्ज़ की समस्या से निजात मिलेगी। मूंह का स्वाद ठीक होगा और मूंह की गंध भी दूर होगी। इसके अलावा, गले से फेफड़ो तक जमा बगलम भी साफ हो जाएगा।

-हींग, सोठ और नमक का मिश्रण

सोंट, हींग और काले नमक का चूर्ण पेट में बन रही गैस बाहर निकालने में काफी मददगार होता है। सोंठ में अजवाइन पीस लें, इसमें नीबू का रस मिला लें। कुछ देर इसमें मिश्रित नीबू के रस को सूखने रख दें। एक ग्राम मात्रा में इस चूर्ण का सेवन पानी के साथ रोज़ाना करें। ऐसा करने से पाचन तंत्र तो मज़बूत होगा ही, साथ ही, गैस संबंधि समस्याएं और खट्टी डकारों में राहत मिलेगी।

-पेट फूलने से लेकर बदहज़मी का इलाज

पेट फूलने की समस्या या बदहज़मी रहती हो तो, अदरक के टुकड़ों को देशी घी में सेंक लें। इसमें स्वादानुसार नमक मिलाकर दिन में दो बार एक एक टुकड़ा खाएं। इससे संबंधित समस्याओं का निवारण होगा।

-1 लीटर अदरक के रस में मिलाएं 100 ग्राम शक्कर

एक लीटर अदरक के रस में 100 ग्राम चीनी मिलाकर पकाएं। जब मिश्रण गाढ़ा हो जाए तो उसमें 5 ग्राम लोंग और 5 ग्राम छोटी इलायची का चूर्ण मिलाकर शीशे के बर्तन में रख दें। इसे रोज़ाना सुबह-शाम गर्म पानी या गर्म दूध के साथ लें। इससे पाचन शक्ति तो बढ़ेगी ही, साथ ही पेट संबंधित कई परेशानियों से निजात मिलेगी।

-कई अन्य बीमारियों में राहत

अदरक की तासीर गर्म होने के कारण जिन लोगों को गर्म प्रृति का भोजन नहीं पचता हो, कुष्ठ, पीलिया, रक्तपित, घाव, ज्वर ,शरीर में रक्त स्‌त्रोत की समस्या समेत कई बीमारियों में राहत मिलती है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned